क्या कभी ट्रक, मिनी ट्रक, ऑटो या रिक्शे पर लिखे मेसेज पढ़े हैं? कलरफुल, फनी या कभी कभी ज्ञान का सागर मिलता है इनमें! वैसे आपको गुदगुदाने के साथ साथ बहुत बड़ी सीख भी देते हैं. मजेदार मेसेज के साथ साथ भारत में ट्रक ड्राइवर्स अपने विश्वास, धर्म की निशानियां भी साथ लेकर चलते हैं. बुरी नजर से बचने के लिए इनके तरीके वाकई काबिल-ए-तारीफ होते हैं.

यहां हैं कुछ ऐसे ही मजेदार मेसेज जिसे पढ़कर आप हंसने पर मजबूर हो जायेंगे.

1.नशा त्यागें, जिन्दगी नहीं!

‘पब्लिक गुड्स कैरियर’ हमारे जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा हैं. हालांकि कई बार इनके द्वारा ड्रग्स, स्मगलिंग का सामान भी ट्रांसपोर्ट किया जाता है. पर ट्रकों में ऐसे मेसेजेस दिख जाते हैं.

2. हम सबकी जिम्मेदारी, प्रदूषण मुक्त गड्डी हमारी!

ये तो सत्य वचन है जी. देश के हर नागरिक का धर्म है कि वह पर्यावरण संरक्षण के लिए कार्य करे. और हमारे ट्रक ड्राइवर्स भी इस बात को भली भांति समझते हैं.

3.Ditch the Bitch, Let’s go trucking!

ब्रेक-अप के बाद और क्या चाहिए? ट्रक ड्राईवर्स अब मॉडर्न होते जा रहे हैं. राइमिंग पर जरा ध्यान दीजिए!

4.सबकी नजर में रहते हैं, हर वक्त सफर में रहते हैं

क्या लाजवाब तरीका है अपने सफर को डेस्क्राइब करने का!

5.ना मुन्ना ना!

जब मुन्ना ओवरटेक करने के चक्कर में स्पीड बढ़ाने की कोशिश करता है. मुन्ने को कुछ विशेषण भी सुनने पड़ते हैं. और उसके परिवार को कोई और याद करता है! खैर ये बिहार का ट्रक तो नहीं लगता!

6.ज्यादा खाएगी, तो मोटी हो जाएगी

एक ट्रक ड्राइवर अपने ट्रक को फिट रखने के लिए क्या कुछ नहीं करता! यहां ड्राइवर अपने ट्रक को कम तेल पीने को कह रहा है. ये तो डाइटिंग वाला ट्रक है!

7.गुर्जर जब दहाड़ता है, तब शेर भी पालथी मारता है.

इसे रिजर्वेशन से जोड़कर न देखें. जरा सोचिए, शेरों का क्या रिएक्शन होगा ये सुनकर!

8.हंस मत पगली, प्यार हो जाएगा!

इन्हें तो कोई अवार्ड मिलना चाहिए दोस्तों!

9.ये नीम के पेड़ चंदन से कम नहीं, हमारा लखनऊ लंडन से कम नहीं

ये है नवाबों के शहर का टशन.

10.धीरे चलोगे तो बार-बार मिलेंगे, तेज चलोगे तो हरिद्वार मिलेंगे

सत्यमेव जयते. जबरदस्त पर थोड़ा कड़वा.

11.मैं बड़ा होकर ट्रक बनूंगा

सपने देखने का हक तो सभी को होता है. तो ये पीछे क्यों रहेंगे?

12.ड्राइवर की जिन्दगी में लाखों इल्जाम होते हैं, निगाहें नेक होती हैं फिर भी बदनाम होते हैं.

इन्होंने तो अपना दिल निकालकर रख दिया. सच में ऑटो चालक को कितना सहना पड़ता है.