गृहशोभा विशेष

आज हम आपको दुनिया के कुछ मशहूर जंगलों के बारे में बताएंगे जहां दुनिया भर से पर्यटक यहां आते हैं. ताकि इन खूबसूरत जंगलों का आनंद ले सकें.  

डेड वेली, नांबिया
यह नांबिया का बेहद खूबसूरत जंगल है. इसे डेड वेली यानी कि मौत की घाटी के नाम से भी जाना जाता है. कहते हैं कि कभी दुनिया के सबसे ऊंचे रेत के टीले पर घना जंगल हुआ करता था, लेकिन आज यह रेगिस्तान में पेड़ों का कब्रिस्‍तान बन चुका है.

क्लाउड फौरेस्ट, कोस्टा रिका

यह जंगल समुद्र तल से करीब 4724 फीट ऊपर बना है. इसके ऊपर छाये बादलों और घने पेड़ों के चलते सूर्य की रोशनी के सीधे नीचे तक ना पहुंच पाने के कारण यहां जमीन सूख नही पाती. जिसके चलते यहां हमेशा उमस भरी गर्म घनी धुंध छायी रहती और धुंध का बादल छाया रहता है.  

बौबैस के एवेन्यू, मेडागास्कर

साउथ अफ्रिका के मेडागास्कर में करीब 1000 फीट की ऊंचाई पर स्‍थित इस जंगल में 800 वर्ष की आयु तक के बाबाब वृक्ष मौजूद हैं. इन को स्थानीय लोग रेनाला-मालागासी यानि “वेनेजुलाज मदर” के नाम से पुकारते हैं.

बोनीड बीच, फ्लोरिडा

फ्लोरिडा के समुद्र तट मौजूद ये पेड़ों के ठूंठ ऐसे पेड़ों के हैं जो मूल रूप से समुद्र में विकसित नहीं हुए थे, लेकिन जैसे ही पानी बढ़ता गया वे जलमग्न होते गए और मरने लगे. अब ये सिर्फ ठूंठ की शक्‍ल में रह गए और सूरज की रोशनी और समुद्र में मौजूद नमक के चलते सफेद नजर आते हैं. 

टनल औफ लव, यूक्रेन

यूक्रेन स्थित इस टनल में पेड़ों से आच्‍छादित एक सुरंग जैसी आकृति बन गई है, जहां से ट्रेन गुजरती हैं. इसके अलावा यह दुनिया का सबसे रोमांटिक स्थान हैं जहां प्रेमी जोड़े समय बिताना पसंद करते हैं. 

ड्रैगन ब्‍लड फौरेस्‍ट, सौकोट्रा

यमन के तटीय इलाके में बसा है सौकोट्रा जो पूरी तरह ये अपने को दुनिया से अलग किए रहना पसंद करता है. प्राचीन वर्षों में प्रकृति के अनमोल खजाने छिपे थे जिसमें से एक था खास किस्‍म के पेड़ों से निकलने वाला एक लाल रंग का तरल पदार्थ जिसे ‘ड्रैगन का रक्त’  कहा जाता था. हालाकि अब धीरे धीरे ये सब गायब होता जा रहा है. 

मेघालय की लिविंग रूट ब्रिज, भारत

मेघालय में स्थित ये कुदरत का एक गजब नजारा है. एक पेड जिसका नाम फिकस इलास्टिका ट्री होता है , की जडो से ये पुल बनते हैं। यह पेड अपनी जडो से दूसरी सीरीज पैदा करता है. ऐसे पुलो में से कुछ की लम्बाई सौ फुट तक है. बहुत सालो में जाकर ये पेड इस स्थिति में आ जाते हैं कि दोनो किनारों के पेडो की जडें आपस में बंध जाती हैं. ये इतनी मजबूत होती हैं कि 50 लोगों का वजन उठा सकती हैं. यहां कुछ पुल इस तरह भी बने हैं कि वे एक दूसरे के उपर हैं और उन्हे डबल डेकर लीविंग रूट ब्रिज कहा जाता है. 

ग्रीन लेक, औस्ट्रिया

इस खास जंगल का नजारा विश्‍व भर के लोगों को कुछ ही महीनों के लिए मयस्‍सर होता है जब मौसम बदलने पर सर्दियों में जमी बर्फ पिघलती है. उस समय  प्राकृतिक रूप से बना पार्क का यह क्षेत्र पानी से भर जाता है. सारा जंगल पानी में डूबा होता है और पहाड़ियों के बीच बने इस क्षेत्र में लंबी यात्रा करके पहुंचा जा सकता है. गोताखोरी के शौकीन लोगों के लिए उस समय यहां स्‍वर्ग जैसा नजारा होता है. ऐसा लगता है कि आप पानी के अंदर बसे जंगल की सैर कर रहे हों.  

थे पोएम मैंग्रोव, थाईलैंड

थाईलैंड के इन मैंग्राव जंगल में विकसित होने वाले पेड़ों ने यहां की जमीन में मौजूद तीव्र नमकीनता और औक्सीजन की कमी का विरोध करने के लिए हवाई जड़ें विकसित कर ली हैं और वो जमीन के ऊपर दूर तक फैली दिखाई देती हैं.

ओत्जारेटा फौरेस्‍ट, स्पेन

स्पेन के इस जंगल में खूबसूरत गोर्बिया नैचुरल पार्क भी बना है. यहां कई प्राचीन पेड़ों की किस्‍में पाई जाती हैं. यहां का वातावरण ज्यादातर धुंध से भरा होता है. जिसके चलते यह जंगल एक रहस्यमयी आवरण में लिपटा मालूम पड़ता है.

आप इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं