अगर आप को ट्रैकिंग का शौक है और आप ऊचें पहाड़ों की चढ़ाई करना चाहतीं हैं तो आप बेशक यहां आ सकती हैं. यहां की खास बात है कि आप यहां रोमांच के साथ ज्ञान भी ले सकती हैं, क्योकि यहां पहाड़ों पर मौजूद किले अपने आप में यहां के इतिहास को बताते हैं.

हम आपको कुछ ऐसे ही जगहों के बारे में बताने जा रहें हैं जहां जाकर आप अपनी छुट्टियों का आनंद ले सकती हैं.

राजमाची

राजमाची लोनावाला के पास स्थित एक किला है. इसके नजदीक स्‍थ‍ित शिरोटा बांध इसे और भी ज्‍यादा खूबसूरत बनाता है. इसकी चढ़ाई काफी आसान है. जमीन से इसके किले के शीर्ष तक पहुंचने में केवल 40 मिनट लगते हैं. इसके किले पर दो गुफाएं हैं जिनमें करीब 40 लोगों एक साथ जा सकते हैं. यहां आने वाले ट्रैकर्स राजमाची के निर्माण को बेहद शानदार मानते हैं.

वीसापुर

वीसापुर लोहागढ़ के पास स्‍थ‍ित हैं, यह जगह ट्रैकिंग के हि‍साब से काफी अच्‍छी मानी जाती है. हालांकि यहां की चढ़ाई मुश्किल है. मानसून के दौरान वीसापुर किला बहुत सुंदर लगता है. इस पहाड़ी की चोटी पर कई झरने हैं. खास बात तो यह है कि बारिश के बाद बड़ी संख्‍या में यहां नए झरने बनते हैं. जल निकाय होने की वजह से किले की दीवार पुणे-मुंबई राजमार्ग को और भी शानदार बनाती है.

हरिश्चंद्रगढ़

हरिश्चंद्रगढ़ एक पहाड़ी किला है यहां पर ट्रैंकिंग की जा सकती है. अनुभवी ट्रैकर्स पांच अलग अलग मार्गों से इस पहाड़ी की ओर बढ़ने का आनंद लेते हैं. एक लंबी यात्रा के साथ इसके शीर्ष पर पहुंचना काफी रोमांचक है. इसके शीर्ष पर गुफाएं व शिविर स्थल भी है. यहां पर ताजे जल की धाराएं बेहद खूबसूरत लगती है. यहां कोंकणकडा घूमने के साथ ही पहाड़ों का लुत्फ भी लिया जा सकता है.

राजगढ़

रायगढ़ से पहले राजगढ़ मराठा साम्राज्य की पहली राजधानी थी. ट्रैकिंग के लिए यह सबसे अच्छी जगहों में से एक माना जाता है, जि‍ससे यहां पर ट्रैकर्स की काफी भीड़ होती है. मानसून के दौरान तो यहां ट्रैकिंग का मजा ही कुछ और होता है. यहां पानी कुंड और बालेकिल्ला प्रमुख आकर्षण का केंद्र माने जाते हैं. इसके अलावा यहां पर गनपाउडर स्टोर और मुख्य अदालत की अलग-अलग संरचनाएं जरूर घूमनी चाहिए.

सिंहगढ़

पुणे के सबसे करीब जगहों में सिंहगढ़ लोकप्रिय पिकनिक स्थलों में से एक है. इस जगह पर जाने के लिए सड़क मार्ग काफी अच्‍छा है, लेकि‍न यहां बड़ी संख्‍या में ऐसे लोग आते हैं जो किले के मार्ग में ट्रैकिंग करना पसंद करते हैं. तानाजी मालुसरे और शिवाजी के छोटे बेटे राजाराम के स्मारक किले पर हैं. इसके अलावा यहां पर देव तकी नामक एक जल निकाय भी है जिसमें पूरे वर्ष ताजा पानी होता है.