कोविड के बाद एक्ट्रेसेस ने Lakme Fashion Week रैंप पर बिखेरे जलवे

पिछले दो वर्षों में कोविड वायरस ने हमारे नियमित जीवन शैली को बाधित करने के साथ-साथ हम सभी से बहुत कुछ छीन लिया है. इसमें फैशन इंडस्ट्री, जो अपने फेस्टिवल के द्वारा नई-नई ड्रेसेज से ग्राहकों को परिचय करवाती है, प्राय: खत्म होने की कगार पर थी. इससे थोडा उबरने के लिए लक्मे फैशन वीक भी तीन सीजन डिजिटल हुआ, लेकिन उसमें कपड़ो की क्वालिटी रंग और टेक्सचर को समझना मुश्किल था. ऐसे में इस बार बहुत उमंग के साथ सभी डिजाईनरों ने भाग लिया. इस बार FDCI x Lakme Fashion Week 2022का आयोजन दिल्ली के मेजर ध्यानचंद नेशनल स्टेडियम में 5 दिन चली, जो फिजिकल थी.

जमावड़ा बड़े डिजाईनर्स का

इसमें सभी बड़े-बड़े डिज़ाइनर्स ने भाग लिया, जिसमें तरुण तहिलियानी, मनीष मल्होत्रा, शांतनु &निखिल,अंजू मोदी, आशीष सोनी, श्रुति संचेती आदि के अलावा कुछ नए डिजाईनरों ने भी अपने खूबसूरत पोशाको से रैंप को आलोकित कर दिया,हालाँकि इस बार फैशन मुंबई से दिल्ली शिफ्ट हुआ, इससे फैशन प्रिय दिल्ली वाले बहुत खुश हुए और हर दिन हर शो में विजिटर्स खचाखच भरे हुए रहे.

ध्यान प्रकृति पर

इस बार की शो में सभी डिजाईनरों ने प्रकृति और उसकी अहमियत पर अधिक ध्यान दिया जिसमें सभी ने सस्टेनेबल फैशन को जरुरी समझा, क्योंकि पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए इसे करना बहुत जरुरी था. राहुल मिश्रा की इटालियन एम्बेसी के साथ जुड़कर बनाए गए पोशाक डिजाईनर की प्रकृति के प्रति प्रेम को दिखाती है, जिसमे सिनिक ब्यूटी, कलर्डबीड्स और फ्लोरल डिजाईन मुख्य थे.

सोनल वर्मा की ब्रांड ‘Rara Avis ने सफ़ेद, पीला, सी ग्रीन, पर्पल आदि सभी सूदिंग कलर के अलावा फायरी रेड और रिफ्रेशिंग ग्रीन पेश किये, जो उज्बेकी फेब्रिक सिल्क और इंडियन मशरू को मिक्स कर बनाया गया आरामदायक पोशाक है, जिसे आने वाले किसी भी मौसम में किसी भी अवसर पर पहना जा सकता है. जिसमें जैकेट्स, मेक्सिस, लॉन्ग फ्रॉक आदि के साथ हल्के गहने भी थे, जो हर ड्रेस से मैच करती थी.

ये भी पढ़ें- इस ड्रैस में Janhvi Kapoor को कॉम्पीटिशन देती दिखीं Nikki Tamboli

डिज़ाइनर श्रुति संचेती की ब्रांड पिनाकल के तहत Alchemy कलेक्शन को मंच पर लाया गयाजो काबिलेतारीफ थी. इस बारें में श्रुति कहती है कि इस बार की फैशन वीक को मैंने बहुत एन्जॉय किया है, मॉडल्स को पोशाक, केश, मेकअप, हेयर आदि के साथरैंप पर उतारना एक अलग बात होती है, इसमें सब लाइव होती है, जिससे किसी भी गलती पकड़ में आ जाती है. 10 मिनट के इस समय में फेब्रिक, फिनिशिंग, रंग सबकुछ सामने दिखता है. इसलिए इसे फ्लालेस बनाया जाता है, इसमें डिज़ाइनर की कैपबिलिटी भी सामने होती है. डिजिटल में व्यवसाय करना मुश्किल होता है. टाइमलेस, सीजन फ्लूइड, अच्छे कपडे आज की मांग है और पेंड़ेमिक ने ये सबको सीखा दिया हैकि आजकल सबकुछ अनस्टेबल हो चुका है, कब क्या हो, किसी को पता नहीं. इसलिए सभी ने इस बार सस्टेनेबल फैशन और अच्छे कपड़ों पर अधिक जोर दिया है,जिसमें कारीगर की मजदूरी, ओरगेनिक रंग, सही टिकाऊ फेब्रिक आदि सब इसके अंतर्गत आते है. जिससे लोग उसे सालों तक पहन सकते है और बाद में माँ अपनी बेटी को भी दे सकें, ताकि ये सालों साल तक नयी लगे. इसके अलावा मैंने इंडियन आउट फिट के साथ वेस्टर्न का मिश्रण किया है, जिसमें एकतार की कढ़ाई, उदयपुर की रॉयल कढ़ाई, पीटा वर्क, जो महेश्वरी सिल्क और चंदेरी फेब्रिक पर बनी थी ये 10 साल बाद भी बिना सोचे पहनी जा सकती है. रंग मेरे कलेक्शन में अधिक रहते है. सफ़ेद से शुरू कर रस्ट, ब्लूज, पिंक, रानी, ओरेंज आदि सभी रंग, जो इंडियन और ग्लोबल के लिए भी सही होता है. इसमें साड़ी, कुर्ता, पैजामा, जैकेट घाघरा चोली, आदि  है.

भारतीय कारीगरी को आगे लाने की कोशिश

डिज़ाइनर जोड़ी नीलांजन घोष और कनिका सचदेवा की ब्रांड ‘जाजबर’ ने Wah Usta Wah ‘ समर कलेक्शन को रैंप पर उतारा. उस्ता शब्द पर्सियन वर्ड उस्ताद से निकला है, जो परसिया से होते हुए राजस्थान में बीकानेर के रॉयल परिवार महाराजा राय सिंह तक पहुंचा है. इसमें भारत और यूरोपियन स्टाइल को मिलाकर की गई कारीगरी देखने लायक थी. नीलांजन इस बारें में कहते है कि कोविड की वजह से सबकुछ लॉक हो गया था, इस फेस्टिवल के द्वारा मैंने अपने कलेक्शन को रैंप पर उतारा है. हमारे डिजाईन सबसे अलग होने की वजह हमारा ट्रेवल करना है, जिससे नए कांसेप्ट का जन्म होता है और ये कारीगरी भारत की कला को आगे ले जाने की कोशिश भी है. इस बार समर और विंटर कुछ ऐसा अलग फेब्रिक मटेरिअल देखा नहीं गया है, इससे कपड़ों और डिजाईन को लोगों तक पहुँचाना आसान था.

यूथ पॉवर

इस शो के पूरे सप्ताह के दौरान यूथ को भी अपनी कला के प्रदर्शन के लिए समय मिला, जिसमें सोहन आचार्य और श्रिया खन्ना के पोशाक ने सबका मन मोह लिया. इसके अलावा पर्ल एकादमी के छात्रों के इनोवेटिव काम सभी को आकर्षित किये, इससे ऐसे नये बडिंग डिजाईनर्स को आगे बढ़ने को अच्छा अवसरमिलता है.

ये भी पढ़ें- 5 Tips: शादी के बाद ऐसे दिखें फैशनेबल

बिग बोल्ड फैशन

इस बार ऑल ने बिग बोल्ड फैशन को रैंप पर उतारा, जिसमें ह्यूज, शानदार और चुस्ती-फुर्ती  वाले फैशन बॉडी टाइप के हिसाब से ‘टाई एंड डाई कलेक्शन’ को खूबसूरत रंगों के साथ मॉडल्स का रैंप पर चलना आकर्षक रहा.

दिखी सेलेब्स की शान

FDCI x Lakme Fashion Weeksummer collection 2022 में इस बार रैंप पर शो स्टॉपर सभी सेलेब्स ने रैम्प पर चलकर अपनी ख़ुशी जताई, क्योंकि कोविड से पूरी तरह से बाधित फैशन इंडस्ट्री फिर से एक बार चल पड़ी है. इसमें कंगना रनौत, श्रुति हसन, हुमा कुरैशी, मनोज बाजपेयी, साकिब सलीम मृणाल ठाकुर, सोहा अली खान, पूजा हेगड़े, फैशन इनफ्लुएंसर मासूम मिनावाला आदि सभी ने रैंप पर डिज़ाइनर्स के खूबसूरत ड्रेसेज पहनकर जलवे बिखेरे.

इसके अलावा लक्मे की ब्रांड एम्बेसेडर अनन्या पांडे ने पिछले साल की तरह इस साल भी ग्रैंड फिनाले को प्रभावशाली बनाया. रैम्प पर उन्होंने पहले की तरह दर्शकों को शो स्टॉपर बनकर चकित कर दिया. उन्होंने प्रसिद्ध डिज़ाइनर जोड़ी फाल्गुनी शाने पीकॉकके पोशाक में नजर आई, जो आज और आने वाले समय में भी ट्रेंड में रहेगा.

बसंत ऋतु के रंग में रंगा Lakme Fashion Week, रेड कारपेट पर छाईं Hina Khan और ये एक्ट्रेसेस

बसंत ऋतु को ऋतुओं का राजा माना जाता है और इसके आगमन से ही प्रकृति की खूबसूरती के रंग चारों ओर फ़ैल जाती है. कोयल भी अपनी सुर निकालना शुरू कर देती है, ऐसे सुंदर रंग के माहौल में ‘ऍफ़ डी सी आई, लक्मे फैशन वीक 2021 शुरू की.

5 दिनों तक चलने वाले इस फैशन उत्सव को कोविड 19 की वजह से फिजिकल और डिजिटल दोनों में करना पड़ा. हर बार की तरह इस बार भी शो में बड़े-बड़े डिज़ाइनर्स से लेकर बॉलीवुड के कलाकार शामिल हुए और रैम्प की शोभा बढाई. इस बार फैशन वीक का मुख्य उद्देश्य पर्यावरण फ्रेंडली, गर्मी में पहनने योग्य, रिजनेबल, कम्फ़र्टेबल और सस्टेनेबल का रहा. 

टाइमलेस द वर्ल्ड 

इस शीर्षक के साथ लोगों के इमोशन को ध्यान में रखते हुए पहली रात डिजाईनर कपड़ों के साथ रैम्प पर उतरी डिज़ाइनर अनामिका खन्ना, जिन्होंने अपने डिजाईन किये कपड़ों में अधिकतर कढ़ाई और क्रोशिया का प्रयोग कर परम्परागत, डेली वेअर, रंग-बिरंगे पुरुष और महिलाओं के कपड़ो से रैम्प को आलोकित कर दिया. पुरुषों के लिए शेरवानी और महिलाओं के लिए क्रोप्ट पेंट, फ्लूइड पायजामा आदि अलग-अलग रंगों में दिखाई पड़ी, जिसे किसी भी अवसर पर पहना जा सकता है.

 

View this post on Instagram

 

A post shared by POOJA HEGDE (@poojahegdelover)

ये भी पढ़ें- Holi Special: होली की मस्ती में चलाए फैशनेबल टी-शर्ट का जादू

fashion-2

नवीनता की झलक 

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Shaveta & Anuj (@shavetaandanuj)

नए-नए डिजाईनरों को उत्साह देने की दिशा में लक्मे फैशन वीक का पहले दिन का पहला शो आई एन आई ऍफ़ डी की तरफ से ‘जेन नेक्स्ट’ रहा. इसमें बंगाल और कश्मीर के 2 डिजाईनरों को शामिल किया गया. बंगाल के नवोदय डिज़ाइनर राहुल दास गुप्ता, जिन्होंने ‘क्राफ्ट इन द फॉरफ्रंट’ के अंतर्गत एथनिक स्टाइल में और कश्मीर के वजाहत ने अपनी ब्रांड ‘रफुघर’ के अंतर्गत परंपरागत स्टाइलिश लुक में परिधान प्रस्तुत किये. इसमें दोनों डिजाईनर्स ने लुप्तप्राय मोटिफ्स और कारीगरी को अधिक महत्व दिया. 

प्रतिबिम्ब   

 

View this post on Instagram

 

A post shared by HK (@realhinakhan)

गर्मियों में सभी को हल्के और आरामदायक कपडे पहनना पसंद होता है और इस उद्देश्य से रैम्प पर उतरी अर्पिता मेहता. उनके कलेक्शन का नाम रिफ्लेक्शन रहा, जिसमें वह प्रकृति के रूप को कपड़ों के जरिये दिखाने का प्रयास किया. यही वजह है कि उनकी पोशाकों में तरह-तरह के रंगीन फूल, पत्ते, बेल आदि दिखाई पड़े. उन्होंने अपने इस कलेक्शन में कफ्तान, शरारा, समर पेंट, गाउन आदि शामिल किया है.

कलाईडो

डिज़ाइनर पंकज और निधि हर साल की तरह इस बार अपनी नई कलेक्शन ‘कलाईडो’ के अंतर्गत रंग-बिरंगे, हल्के और ट्रेंडी पोशाक को रैम्प पर उतारें. शिफोन, जार्जेट के फेब्रिक्स पर रेट्रो-ग्राफिक डिजाईन्स देखने लायक रही, जिसे पंकज और निधि ने हल्के लाल, ऑरेंज, अल्ट्रा-वायलेट, ब्लू, आदि रंगों के साथ पेश किये. रंग दोनों डिजाईनर्स के जीवन में बहुत महत्व रखती है, जिसका आभास कपड़ों के माध्यम से दिखा. 

जाजाबर

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Divyakhoslakumar (@divyakhoslakumar)

प्रसिद्ध डिज़ाइनर ऋतु कुमार की शो को देखने के लिए सबकी निगाहे रैम्प पर रही. इसबार उन्होंने ‘बोहो’ (जाजाबर) स्टाइल को अपने पोशाकों में जगह दी. फ्लोरल प्रिंट, पैचवर्क, लेस, कढ़ाई आदि से बनाये गए टियुनिक, कफ्तान, धोती पेंट, स्मार्ट ड्रेस आदि सभी बहुत अलग और ट्रेंडी लुक में दिखे. ऋतु कुमार की बोहेमियन लुक को टीवी शो के डिज़ाइनर निधि इयाशा ने बखूबी पेश किया. इस बार ऋतु कुमार की कलेक्शन का नाम ‘द ज़िप्सिस वाइफ’ रही.

कलर्ड गार्डन 

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Manish Malhotra (@manishmalhotra05)

गौरी- नयनिका ने इस बार अपने कपड़ो में सूर्योदय से लेकर सूर्यास्त तक प्रकृति में बदलाव को दिखाने की कोशिश की है. अलग-अलग रंगों के पोशाक समर/स्प्रिंग को ध्यान में रखकर आरामदायक और फ्री फ्लो बनायीं गयी है, जो देखने लायक रही.  

ये भी पढ़ें- मां बनने के बाद बदला सपना चौधरी का अंदाज, हर लुक में ढा रहीं हैं कहर

समर 21

डिज़ाइनर मसाबा के कपडे हमेशा खूबसूरत और ट्रेंडी होते है. इस बार ‘समर 21’ में उन्होंने रिसोर्ट में जाने के लिए पहनी जाने वाली ट्रेंडी लुक को प्रस्तुत किया, जिसमें यूथ के लिए ट्रैक पेंट, जोगर्स पेंट, ऑफ़ शोल्डर गाउन, स्कर्ट ब्लाउज, मेक्सी स्कर्ट आदि परिधानों पर नेचर के मोटिफ्स दिए है.

किसमेट  

आर एलान के फेब्रिक्स को नए रूप में प्रस्तुत किया, डिज़ाइनर पायल सिंघल ने. उन्होंने एथ्लेजर पोशाक को ‘किसमेट’ के अंतर्गत कम्फ़र्टेबल और ऑफिस वेअर ड्रेस को रैंप पर उतारा. हल्के लेमन और पीले रंग के फ्लोरल डिजाईन के साथ ट्रेंडी लहंगा चोली और जैकेट के साथ अभिनेत्री आथिया शेट्टी ने रैंप पर जलवे बिखेरे. सभी परिधान के साथ मैचिंग बैग, स्कार्फ और ज्वेलरी भी इन्हें खूबसूरत बना रहे थे.   

झंकार पोशाक की 

डिज़ाइनर मनीष मल्होत्रा ने अपना नया कलेक्शन रैंप पर उतारे, जो किसी ख़ास अवसर या त्यौहार में पहने जा सकते है. उनके उतारे गए परिधानों में महिलाओं के लिए लहंगा, गाउन, जैकेट, शरारा, कुर्ता,पलाजो पेंट और पुरुषों के लिए कुर्ता पजामा, शेरवानी, आदि रहा, ये पोशाक शिमर, ग्लिटर जरदोजी, कढाई से भरे हुए होने की वजह से बहुत ही सुंदर दिखे. बॉलीवुड की कियारा अडवानी लहंगा चोली और कार्तिक आर्यन शेरवानी, पेंट कट ट्राउजर में रैम्प पर चलकर मनीष के कपड़ों की खूबसूरती बढ़ा दी. 

fashion

लेक्मे फैशन वीक का अंतिम दिन बॉलीवुड सितारों के जगमगा उठी, क्योंकि इस दिन अभिनेत्री अनन्या पांडे, लारा दत्ता, अहाना कुमरा, पूजा हेगड़े, हिना खान, दिव्या खोसला कुमार, दिया मिर्ज़ा आदि सभी ने रैंप पर डिज़ाइनर कपडे पहनकर वाक किया. डिज़ाइनर संयुक्ता की मेखला चादोर जिसे लारा दत्ता ने पहनी, आसाम की कारीगरी को जिन्दा रखने की दिशा में सफल प्रयास है. इसके अलावा डिज़ाइनर वरुण चक्किलम, स्वेता एंड अनुजा ग़ज़ल मिश्रा, अभिषेक और विनीता आदि सभी ने इस मौसम के हिसाब से रंग और डिजाईन पेश किये. अंतिम दिन का अंतिम शो रुचिका सचदेवा ने अपनी कलेक्शन ‘बोडिस’ से लाइव ओर्केस्ट्रा के बीच लक्मे की फेस शो स्टॉपर अभिनेत्री अनन्या पांडे के साथ बहुत ही रंगारंग कार्यक्रम के साथ संपन्न किया.

अनलिमिटेड कहानियां-आर्टिकल पढ़ने के लिएसब्सक्राइब करें