New Year 2022: पार्टी की तैयारी में टेबल लेनिन को न करें नजरअंदाज

सच में पार्टी का आयोजन करना एक बड़ी जिम्मेदारी है. यह एक कलात्मक कार्य जैसा ही है. किसी भी पार्टी को सफल बनाने के लिए हर चीज का व्यवस्थित होना आवश्यक है. आप के मेहमान आप की पार्टी में मौजूद हर चीज पर ध्यान देते हैं. इसलिए यह जरूरी है कि आप की पार्टी का हर हिस्सा आकर्षक दिखे.

पार्टी में खाना खाने के दौरान आप के मेहमान उस टेबल पर जरूर गौर करेंगे जिस पर खाना परोसा गया है. इसलिए टेबल पर बिछे लिनेन पर भी विशेष ध्यान दें. अगर टेबल लिनेन आकर्षक होंगे तो आप बाकी हिस्सों के साथसाथ इस हिस्से को भी आकर्षण का केंद्र बना सकती हैं.

बच्चे की बर्थडे पार्टी

अगर आप अपने बच्चे की बर्थडे पार्टी का आयोजन करने जा रही हैं, तो गहरे रंगों जैसे लाल, नीले, पीले, गुलाबी, हरे टेबल लिनेन का प्रयोग करें. साथ ही इस बात का भी ध्यान रखें कि लिनेन पर आकर्षक डिजाइन अंकित हों. ऐसे रंगों और डिजाइनों को देख कर बच्चे बहुत आकर्षित होते हैं. इतने सुंदर रंगों को देख कर वे खुश हो जाएंगे. ऐसा माहौल आप की पार्टी को खुशगवार बना कर उस में जान डाल देगा.

किट्टी पार्टी

अगर आप किट्टी पार्टी का आयोजन कर रही हैं, तो अपनी कढ़ाई बुनाई के हुनर को सब को दिखाने का यह एक बेहतर अवसर है. यह वह मौका है जब आप उन टेबल लिनेन का इस्तेमाल कर सकती हैं, जिन्हें कभी आप ने सलाइयों, क्रोशिए की मदद से बड़ी लगन से बनाया था. लेकिन आजकल के रैडीमेड चीजों के प्रयोग के जमाने में वे अलमारी में ही दबे रह गए. इन का प्रयोग करने से आप को कई फायदे हो सकते हैं. पहला- आप अपने हुनर से अपने घर को सजा पाएंगी, दूसरा- आप को अपनी सहेलियों से प्रशंसा मिलेगी, जिस से आप का आत्मविश्वास बढ़ेगा और तीसरा- इन्हें खरीदने के लिए बाजार जा कर आप को पैसे और समय दोनों ही खर्च नहीं करने पड़ेंगे.

ये भी पढ़ें- New Year 2022: नए साल में घर को दें नया लुक

फौर्मल पार्टी

अगर आप कामकाजी महिला हैं या फिर आप के पति को औफिस में तरक्की मिली है या ऐसा कोई अन्य कारण जिस में पार्टी का आयोजन औफिस के लोगों के बीच करना हो तो पार्टी का माहौल थोड़ा फौर्मल हो जाता है. इस प्रकार की पार्टी के लिए आप सफेद, क्रीम, भूरे, ग्रे जैसे सिंपल फौर्मल रंगों के टेबल लिनेन का चयन करें. ऐसे प्रिंट्स का चयन करें जिन पर छोटे या बड़े चैक्स बने हों या फिर एक ही रंग का प्रयोग किया गया हो.

युवाओं की पार्टी

अगर पार्टी का आयोजन युवाओं के लिए है तो सादे रंगों के अलावा आप हर तरह के रंग के टेबल लिनेन का चुनाव कर सकती हैं. युवा हर रंग को पसंद करते हैं. वैसे उन्हें लुभाने के लिए आप लेटैस्ट डिजाइनों और प्रिंट्स का चयन करें. कोशिश करें कि आप जो भी पसंद कर रही हैं वह फैशन में हो क्योंकि नई पीढ़ी को फैशन के साथ चलना सब से ज्यादा पसंद है.

फैमिली फंक्शन

अगर यह एक फैमिली फंक्शन है, तो ऐसी पार्टी के लिए चटक रंगों और पारंपरिक डिजाइनों, जो किसी जगह या परंपरा विशेष को दर्शाते हों, के टेबल लिनेन का प्रयोग करें. इन में किसी रेगिस्तान का, ऊंटों का या फिर किसी अन्य विशेष चीज का चित्र अंकित हो सकता है. ऐसे प्रिंट्स बहुत आकर्षक लगते हैं. ये आप की पार्टी को विशेष पहचान देंगे.

ये भी पढ़ें- New Year 2022: लाइफ को इन 9 टिप्स से बनाएं खुशहाल

New Year 2022: जानें क्या है Celebs के नए साल के संकल्प

नए साल का स्वागत हर व्यक्ति जश्न के साथ करता है, लेकिन कोविड ने इसपर पिछले दो सालों से ब्रेक लगा दिया है. अब कोशिश है कि सभी लोग कुछ हद तक अपनी खुशियों को सबसे बाँट सकें. हांलांकि साल 2021 रोलर कोस्टर की तरह बीता है, जिसमें कुछ पाबंदियों के साथ काम करने की आज़ादी मिली है, पर 2022 को पूरा विश्व इस महामारी से मुक्त होकर फिर से एक बार काम पर लग जाए, इसकी कामना करते हुए सेलेब्स ने साल 2022 के स्वागत की योजना और अपने न्यू इयर रिसोल्यूशन को शेयर किया है, आइये जानते है,उनकी कहानी, उनकी जुबानी.

परनीत चौहान

new-1

लव ने मिला दी जोड़ी फेम अभिनेत्री परनीत कहती है कि नए साल का स्वागत मैं अपने फ्रेंड्स और फॅमिली के साथ करना चाहती हूं. इसके अलावा मैं घर पर सुरक्षित रहकर साल 2022 को ट्रांसफॉर्मेशन के साथ सेलिब्रेट करना चाहती है. इस नयी शुरुआत को सकारात्मक सोच के साथ शांति से बिताना चाहती हूं और काम के साथ बहुत अधिक ट्रेवल करने की इच्छा रखती हूं.

नायरा M बैनर्जी

new-2

अभिनेत्री नायरा एम् बैनर्जी कहती है कि मैं अधिकतर अपने परिवार के साथ नए साल पर बाहर जाना पसंद करती हूं. कभी भी नए साल में मैं अपने शहर और परिवार से दूर नहीं रही, लेकिन अगर रहना भी पड़े, तो साल के पहले दिन मुझे माँ ही जगाती है और मैं सारे बुरे विचार को छोड़कर नए साल में प्रवेश करने की कोशिश करती हूं. इस दिन मैं अपनी इच्छाओं को लिखती हूं और इसे पूरी करने की कोशिश करती हूं. इस बार का मेरा संकल्प कठिन और अलग – अलग भूमिकानिभाने का है. इसके अलावा मैं खुद को मानसिक रूप से लव के लिए तैयार करुँगी

ये भी पढ़ें- आदित्य-मालिनी की शादी के बाद Imlie लेगी बड़ा फैसला, आर्यन संग करेगी ये काम

सलीम दीवान

saleem

अभिनेता सलीम दीवान कहते है कि नए साल को फार्म पर जाकर अपने दोस्तों के साथ एन्जॉय करने के अलावा बातचीत करने और कई स्वादिष्ट भोजन खाने का रहेगा. हालाँकि मैं इस बार शूटिंग में व्यस्त हूं, लेकिन मैं आपनो के साथ अच्छी और हेल्दी तरीके से बिताना चाहता हूं, क्योंकि मैं हेल्थ को लेकर जागरूक हूं और जिमिंग, एक्सरसाइज, बहुत सारे काम करना चाहता हूं. नए साल में मैं जरुरतमंदों की सेवा, प्यार बांटना, शांति और सद्भावनाबनाये रखने की संकल्प करता हूं.

सोमी अली

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Somy Ali (@realsomyali)

नो मोर टीयर्स संस्था चला रही, अभिनेता सलमान खान की एक्स गर्ल फ्रेंड और अभिनेत्री सोमी अली कहती है कि 31 दिसम्बर की रात को मैं 10 बजे सोने चली जाती हूं. उस रात सोने से पहले ये प्रार्थना करती हूं कि मेरी संस्था अधिक से अधिक लोगों की मानसिक अवस्था को ठीक कर उनकी जान बचा पाएं. बड़ी संख्या में लोगों तक पहुँचने के लिए न्यूरो मस्क्युलर थेरेपी(NMT) को बढ़ाने की जरुरत है, ताकि दूसरे राज्यों में इसके शिकार हुए किसी को भी जल्दी से बचाया जा सकें, यही मेरा संकल्प है.

सुमेर पसरीचा

sumer

पम्मी आंटी के नाम से चर्चित अभिनेता सुमेर की ग्रैंडमदर की मृत्यु हो जाने की वजह से वे इस बार नए साल को नहीं मनाएंगे. वे कहते है कि इस बार मैं अपने परिवार के साथ दिल्ली घर पर रहूंगा, क्योंकि दिल्ली सरकार ने नए साल की पार्टी को बैन कर दिया है, इसलिए मैं अपने एक या दो दोस्त के साथ घर पर ही बॉनफायर के साथ मनाएंगे. मेरे लिए नया साल एक नया दिन है और मेरे लिए वर्ष 2021 बहुत अच्छा रहा है. वर्ष 2022 को मैं अच्छी तरह से बिताना चाहता हूं और पूरे विश्व को मास्क फ्री देखना चाहता हूं.

ये भी पढ़ें- Year Ender 2021: 46 की उम्र में तो कोई शादी के 10 साल बाद बनें पेरेंट्स, पढ़ें खबर

अली गोनी

अली गोनी का कहना है कि जैस्मिन और मैं इस बार लंदन क्रिसमस मनाने जा रहे थे, लेकिन ओमिक्रोन के बढ़ते आंकड़े की वजह से मैंने वहां जाना कैंसल कर दिया है. अभी हम दोनों नए साल को मनाने के लिए दुबई जाने वाले है, जहाँ हमारे क्लोज फ्रेंड के साथ उसे मनाया जाएगा.

हर्शाली ज़ीन

harshali

अभिनेत्री हर्शाली कहती है कि मैने हमेशा अनुशासित जीवन बिताया है,31 की रात को मैं हेल्दी डिनर, मैडिटेट और जल्दी सोना चाहती हूं, ताकि मैं नए साल को नई उमंग और फ्रेश मूड में स्वागत करूँ. इसके अलावा उगते हुए सूरज को देखना चाहती हूं, मुझे उम्मीद है कि नए साल में सब कुछ अच्छा होगा और मुझे आने वाले साल को पूरी तरह जीना चाहती हूं.

New Year 2022: नए साल में ग्रैंड पेरैंट्स के साथ ग्रैंड पार्टी

नए साल का आरंभ आपसी रिश्तों को सुधारने का सब से अच्छा समय साबित हो सकता है. पुरानी पीढ़ी के पास अनुभव की कमी नहीं होती और नई पीढ़ी के पास ऊर्जा भरपूर होती है. अगर अनुभव और ऊर्जा का समावेश एक जगह पर हो जाए तो तरक्की पक्की हो जाती है. कई बार बाप और बेटे के बीच रिश्ते उतने अच्छे नहीं होते जितने दादा और पोते के बीच होते हैं. ऐसी ही दूरियां दूसरे रिश्तों में भी आ रही हैं. ऐसे में जरूरी है कि नए साल पर परिवार के साथ ग्रैंड पार्टी करें. जिस में हर पीढ़ी के लोग शामिल हों. आमतौर पर पुरानी पीढ़ी ऐसी ग्रैंड पार्टी से दूर रहती है, इसलिए उस को पार्टी में जरूर शामिल करें.

बुढ़ापे में दादा के साथ थोड़ी बात कर उन के अनुभव के विषय में जानकारी ले ली जाए तो दादा का दिल खुश हो जाएगा. बुढ़ापे का खाली समय डिप्रैशन की भावना को जन्म देता है. अगर दादा और पोते के बीच संबंध बेहतर हों, पोते के पास दादा को देने के लिए कुछ समय हो तो दादा के अंदर डिप्रैशन का जन्म ही नहीं होगा. केवल दादा और पोते की ही बात नहीं है. मां और दादी के बीच भी बेटी एक कड़ी हो सकती है. पेरैंट्स और ग्रैंड पेरैंट्स के साथ नए साल की ग्रैंड पार्टी से पीढि़यों के बीच रिश्ते सुधारने में मदद मिलती है. पूरा परिवार सालभर नई एनर्जी को महसूस करेगा.

बीकौम कर रही नेहा बताती है, ‘‘मैं अपनी मम्मी से ज्यादा अपनी दादी के करीब हूं. वे मेरी बात ज्यादा अच्छे से समझ लेती हैं. वे मेरी बात को समझ कर मां को भी मेरी बात समझा देती हैं, जिस से मुझे अपने काम के लिए मम्मी पर निर्भर नहीं रहना पड़ता.’’

प्रेरणा की शादी तय हुई थी. प्रेरणा की मां के पास इतना समय नहीं था कि वे उसे कुछ अच्छे से समझा पातीं. प्रेरणा कहती है, ‘‘मेरी नानी ने मुझे ससुराल में रिश्ते निभाने के कुछ टिप्स दिए. मैं हैरान रह गई जब उन्होंने पति के साथ शारीरिक संबंधों को ले कर बहुत ही सहज तरीके से मुझे समझा दिया, इस से मेरी कई तरह की भ्रांतियां दूर हो गईं.’’

करीब होते हैं ग्रैंड पेरैंट्स

दादी के पास हर समस्या का समाधान होता है. हालांकि नई पीढ़ी की लड़कियों को लगता है कि वृद्ध दादी के पास उन की समस्या का समाधान कैसे होेसकता है. बेटियां तब आश्चर्यचकित रह जाती हैं जब दादी, मां के मुकाबले अधिक व्यावहारिक सलाह दे देती हैं. यही वजह है कि प्रचारप्रसार यानी विज्ञापनों की दुनिया में भी बेटी और दादी के रिश्तों को ले कर ज्यादा विज्ञापन बनते हैं. दादी की सलाह केवल सेहत और खानपान तक से ही जुड़ी नहीं रहती, वे रिश्तों को ले कर भी बहुत सटीक सलाह देती हैं.

ये भी पढ़ें- New Year 2022: लाइफ को इन 9 टिप्स से बनाएं खुशहाल

असल में दादी और दादा, जिन को पुरानी पीढ़ी का मान कर दरकिनार कर दिया जाता है, वे आज भी मातापिता से ज्यादा आधुनिक सोच वाले होते हैं. दादी और दादा की पीढ़ी के पास समय अधिक होता है. उन के पास करने को ज्यादा काम नहीं होता. वे अपनी आधुनिक सोच किसी पर दिखाएं तो लोग उन का मजाक उड़ाते हैं. ऐसे में अगर बेटा या बेटी उन के पास कुछ समय गुजारते हैं तो उन्हें दोहरा लाभ होता है. एक तो वे लोग खुद में व्यस्त हो जाते हैं. उन को लगता है कि परिवार में उन की पूछ बनी हुई है. बेटा न सही, उस के बच्चे उन की सलाह तो ले रहे हैं. परिवार को यह लाभ मिलता है कि बेटे और बाप के बीच आईर् दूरी को कम करने के लिए एक सेतु मिल जाता है. ग्रैंड पेरैंट्स जब परिवार के साथ नए साल की पार्टी में शामिल होंगे तो उन का उत्साह बढ़ जाएगा. इस से परिवार के बीच सामंजस्यभरा माहौल बनेगा.

सब की रुचि का खयाल रखें

नए साल में तमाम तरह की पार्टियों का आयोजन होता है. ऐसे आयोजन को तैयार करते समय घर की पुरानी पीढ़ी को ध्यान में रखें, इस बात की जरूरत बड़े स्तर पर महसूस की जा रही है. यही वजह है कि अच्छी सोच वाले स्कूल अब ग्रैंड पेरैंट्स मीटिंग भी कराने लगे हैं, जिस में बच्चे अपने ग्रैंड पेरैंट्स के साथ आते हैं. बच्चों को अपनी कमी या समस्याएं मांबाप से साझा करने में संकोच होता है. वे ग्रैंड पेरैंट्स से बात को शेयर करने में हिचक का अनुभव नहीं करते. अगर नए साल में ग्रैंड पेरैंट्स के साथ पार्टी सैलिब्रेशन होगा तो उस की खुशियां पूरे साल घरपरिवार को नई ऊर्जा देती रहेंगी.

नए साल में सर्दी बहुत होती है, ऐसे में पार्टी का आयोजन करते समय इस बात का ध्यान जरूर रखें कि दादादादी किस तरह से उस में हिस्सा लेंगे. उन के खाने, ड्रैस कोड से ले कर मनोरंजन तक के अलग इंतजाम करने जरूरी होंगे. पार्टी इस तरह की न हो कि दादादादी केवल कोने में बैठे नजर आएं. आप उन की रुचियों को देखते हुए आयोजन करें ताकि वे लोग भी शामिल हो सकें. पार्टी का असली मजा तभी आता है जब सभी सक्रियता से शामिल हों. परिवार के सभी लोगों का पार्टी में हिस्सा लेना संबंधों को नई ऊर्जा देता है. घरपरिवार के माहौल को बेहतर बनाने के लिए ऐसे उत्सव जरूरी हो जाते हैं.

सुधरेंगे रिश्ते, बदलेगा माहौल

आमतौर पर नए साल की पार्टी में घर के बुजुर्ग लोगों को हाशिए पर रखा जाता है. इस का प्रमुख कारण यह होता है कि नए साल की पार्टी में शराब और जुआ जैसी बुराइयों वाले आयोजन होते हैं. ऐसे में बुजुर्गों के बीच यह संभव नहीं होता. इस कारण उन को घर पर ही छोड़ दिया जाता है. जब नए साल की पार्टी में घर के बुजुर्गों को शामिल किया जाएगा तो पार्टी के आयोजन में शराब और जुआ जैसी चीजें बाहर हो जाएंगी, आपसी रिश्तों में ऊर्जा आएगी. कई बार घरपरिवार के विवाद भी ऐसे आयोजनों से खत्म हो जाते हैं. इसलिए नए साल की ग्रैंड पार्टी में ग्रैंड पेरैंट्स को जरूर शामिल करें. इस से रिश्ते सुधरेंगे और घरपरिवार का माहौल बदलेगा.

पीढि़यों में दूरी को कम करने के लिए पार्टी का अपना अहम रोल होता है. यह नए साल के जश्न से ले कर फैमिली आउटडोर डिनर कुछ भी हो सकता है. आज के समय में पुरानी पीढ़ी केवल सोच के आधार पर ही नहीं, पहनावे और फैशन के लिहाज से भी नईर् पीढ़ी का मुकाबला करने को तैयार है. पार्टियों में ऐसे लोगों को संगीत पर थिरकते देखा जा सकता है. कई बार नई पीढ़ी उन से पीछे रह जाती है. नई पीढ़ी की सोच अब बदल रही है. वह पुरानी पीढ़ी के बीच सामंजस्य बैठा कर चलती है. ऐसे में यह चलन बढ़ रहा है और यह चलन आपसी रिश्तों को मजबूत भी कर रहा है.

डाक्टर बन चुका गौरव अपनी पसंद की लड़की से शादी करना चाहता था. उस के पिता चाहते थे कि वह रिश्तेदार की लड़की से शादी करे. वे लड़की भी पसंद कर चुके थे. बाप और बेटे के बीच विचारों का टकराव था. जिस के चलते गौरव शादी ही नहीं कर रहा था. ऐसे में गौरव के दादा ने पहल की और पिता को समझाया. जिस के बाद गौरव की शादी उस की पसंद की लड़की से हो गई. केवल शादी तक ही नहीं, गौरव के दादा ने शादी के बाद भी घरपरिवार, नातेरिश्तेदारों के बीच गौरव की पत्नी की ऐसी इमेज बना दी कि सभी उस की प्रशंसा करने लगे. ग्रैंड पेरैंट्स बच्चों के लिए बहुत जरूरी होते हैं. उन के बीच की कड़ी को जोड़ने के लिए नए साल की पार्टी जैसे अवसरों का लाभ उठाना चाहिए.

ये भी पढ़ें- क्या बहू-बेटी नहीं बन सकती

केवल कलैंडर का पन्ना बदलने या घड़ी की सूई की जगह बदलने से जीवन में खुशियां नहीं आतीं. जीवन में खुशियों को भरने के लिए सोच बदलने की जरूरत है. ऐसे आयोजन इस में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं. ग्रैंड पेरैंट्स के पास समय अधिक होता है. उन के समय का सदुपयोग करें और जीवन में नई ऊर्जा भरें. नए साल की शुरुआत की यह ऊर्जा पूरे साल बनी रहेगी.

ताकि रिश्तों में मिठास घुले

पार्टी किसी भी तरह की हो, उस से ऊर्जा मिलती ही है. परिवार के साथ नए साल की पार्टी में पूरे परिवार के लोग शामिल होंगे तो आपस में संबंध बेहतर होंगे. आमतौर पर नए साल की पार्टी को लोग अकेले सैलिबे्रट करना चाहते हैं. ऐसे में परिवार उपेक्षित रहते हैं. जिस से कई तरह की दूरियां आपस में पैदा हो सकती हैं. जब पूरा परिवार साथ रह कर पार्टी करेगा तो संबंध बेहतर होते हैं. खासकर हम ग्रैंड पेरैंट्स को इस में शामिल कर सकते हैं. एकसाथ कई पीढि़यां इस में तालमेल के साथ हिस्सा ले सकती हैं जो पूरे परिवार के लिए लाभकारी हो सकता है.

— रीना गुप्ता, समाजसेविका

पार्टी के नाम पर लोग कई तरह की बुराइयों के शिकार हो जाते है. केवल आदमी ही नहीं, औरतें भी पार्टी में शराब और जुए का शौक पूरा करती हैं. यह जीवन के लिए बहुत अच्छा नहीं होता. परिवार के साथ पार्टी करने से ऐसी बुरी आदतों से लोग बचे रहेंगे. परिवार के साथ होने से नशे और जुए जैसी आदतों से दूर रहेंगे. एकसाथ कई परिवार मिल कर भी ऐसे आयोजन कर सकते हैं. ऐसे में उस उम्र के लोगों में आपसी बातचीत से संबंध सुधरेंगे. पार्टी में परिवार के करीबी लोगों के शामिल होने से लोगों का एकदूसरे की रुचियों को समझना आसान हो जाता है.

— विनोद, बिजनैसमैन

ये भी पढें- रूम शेयरिंग सही, लाइफ शेयरिंग नहीं

New Year 2022: मीठे में बनाएं सेब का हलवा

आपने हलवा तो बहुत तरह का खाया होगा लेकिन क्या आपने कभी सेब का हलवा चखा है? सेब का हलवा बनाना बहुत ही आसान है और स्वाद में भी यह बहुत अलग है. अगर आपके घर भी मेहमान आने वाले हैं और आप उन्हें डेजर्ट में कुछ स्पेशल सर्व करना चाहते हैं तो सेब का हलवा एक नया विकल्प है.

पड़ेगी इन चीजों की जरूरत

सेब- 1

खोया- एक चौथाई कप

चीनी- एक चौथाई कप

घी- एक चौथाई कप

इलायची पाउडर- आधा चम्मच

ये भी पढ़ें- Winter Special: सेहत के लिए वरदान है बाजरा

काजू- आधा चम्मच, टूटे हुए

बादाम- आधा चम्मच, कटा हुआ

बनाने की विधि

– सेब को छिलकर ग्राइंड कर लें.

– मध्यम आंच पर एक पैन में घी गर्म करें.

– काजू और बादाम को लगभग 30 सेकंड के लिए फ्राई कर लें.

– सेब को इस पेन में डाल दें और आंच कम कर दें.

– 10 मिनट तक इसे धीमी आंच पर पकाते रहें.

– अब इसमें खोया और चीनी डालकर अच्छी तरह मिलाएं.

– जब मिश्रण किनारा छोड़ने लगे तो इसमें इलायची पाउडर, काजू और बादाम मिला दें.

– आपका सेब हलवा सर्व करने के लिए तैयार है.

ये भी पढ़ें- Winter Special: नीबू से बनाएं ये टेस्टी अचार

WELCOME 2021: नए साल के रंग, सितारों के संग

साल 2021 नई खुशियों के साथ प्रवेश कर चुका है. विश्व में हर कोई अच्छी और नई जीवन शैली के साथ आगे बढ़ने की कोशिश कर रहे है. साल 2021 उम्मीदों और चुनौतियों का है,क्योंकि पूरे विश्व को वैक्सीनेशन के साथ अपने देश की अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने का है. फिर से नॉर्मल जीवन जीने की चाहत में सभी देश लगे हुए है. एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में भी काम शुरू हो चुका है, लेकिन अभी भी बहुत ख़राब दौर से इंडस्ट्री गुजर रही है, उसे फिर से नार्मल बनाने की दिशा में सभी कलाकार दिन रात काम कर रहे है, ऐसे में सेलेब्रिटी के नए साल के रेजोल्यूशन भी पिछले कई सालों से अलग है, आखिर क्या है, उनकी सोच और संकल्प? आइये जाने. 

अनिरुद्ध दवे

अभिनेता अनिरुद्ध दवे कहते है कि मेरा नए साल का संकल्प किताबें पढना और अधिक से अधिक लिखना है. मैं अपनी प्रोडक्शन कंपनी को, जो पिछले साल काफी नुक्सान झेली है, उसे अगले लेवल तक ले जाना चाहता हूं. 

 

View this post on Instagram

 

A post shared by ANIRUDH V DAVE (@aniruddh_dave)

ये भी पढ़ें- अलविदा 2020- सारा अली खान से लेकर श्रद्धा कपूर तक, ड्रग्स मामले में कंट्रोवर्सी का शिकार हुए ये सितारे

अविनाश मिश्रा 

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Avinash Mishra (@avinash_world)

धारावाहिक ‘ये तेरी गलियां’ फेम अभिनेता अविनाश मिश्रा कहते है कि मैं कभी संकल्प इसलिए नहीं लेता, क्योंकि मुझे विश्वास है कि कोई भी उसे पूरे साल में पूरा नहीं कर पाता, लेकिन इस साल मैं अपने काम पर अधिक फोकस रहने की संकल्प लिया है.

अंगद हसिजा 

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Angad Hasija (@angadhasija)

अभिनेता अंगद हसिजा का कहना है कि मेरा रेजोल्यूशन थोडा अद्भुत है, क्योंकि मैं इस साल की पहली तारीख से शाकाहारी बनने जा रहा हूं, जो मेरे लिए असंभव है, क्योंकि मैं वर्कआउट के दौरान चिकन और अंडे लेता था, ल्र्किन अभी मुझे कुछ ऑर्गेनिक फल और सब्जियां खाने की इच्छा है. अभी तक किसी को मेरे इस संकल्प के बारे में पता नहीं है, पर मैं इतना श्योर हूं कि जब मेरे परिवार को इसका पता चलेगा, तो उन्हें शॉक लगेगा. 

रोहित चौधरी \

rohit

अभिनेता रोहित कहते है कि हर कोई कोविड 19 की इस महामारी से बाहर निकलना चाहता है, क्योंकि इस बीमारी की वजह से पिछले साल सारे काम काज रुक गए थे और वह इस साल पूरा होगा. साथ ही काम भी पहले जैसे शुरू होने की उम्मीद है. मेरा संकल्प है कि कोरोना संक्रमण से सभी आज़ाद हो जाए और मैं अपने इनकम्पलीट प्रोजेक्ट को पूरा कर सकूँ. तभी सफलता सबके हाथ लग पाएगी. 

सृष्टि जैन 

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Srishti jain (@srishti__jain)

अभिनेत्री सृष्टि जैन कहती है कि मैं हर साल रेजोल्यूशन लेती हूं और उसे तोड़ देती हूं, लेकिन इस साल मैं उसे पूरा करने की कोशिश करुँगी. मेरा संकल्प हमेशा पोजिटिव रहना और हर दिन एक अच्छा इंसान बनने की कोशिश करना है. मेरे विचार से विश्व में भी सकारात्मक सोच और अच्छे सोच के लोग है. मैं उसमें अपने विचार को जोड़ना चाहती हूं. 

राजेश कुमार 

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Rajesh Kumar (@rajeshkumar.official)

कॉमेडी की दुनिया में अपनी एक छाप छोड़ चुके अभिनेता राजेश कुमार का कहना है कि मैं इस साल हर तरीके की वेब सीरीज को करने की इच्छा रखता हूं. मेरा सबसे बड़ा संकल्प है कि मैं सभी निर्माता , निर्देशक से एक निगेटिव रोल देने के लिए कहूंगा. इसके अलावा मैं पिछले 3 वर्षों से फार्मिंग में लगा हुआ हूं. इस साल मैं उगाये गए चीजो के लिए सही मार्केटिंग करूँगा और कई कृषकों को अपने साथ जोडून्गा. इसे मैं बिहार और मुंबई के आसपास के क्षेत्रों में परिचित करवाने की कोशिश करूँगा. 

शरद मल्होत्रा 

अभिनेता शरद कहते है कि मेरा संकल्प हर तीसरे महीने में कोलकाता जाने की है, जो मैं इस साल पेंड़ेमिक की वजह से नहीं जा पाया. 

ये भी पढ़ें- अलविदा 2020: गौहर से लेकर नेहा कक्कड़ तक, इस साल शादी के बंधन में बंधे ये 9 सेलेब्स

विजयेन्द्र कुमेरिया 

मेरा नए साल का संकल्प डिजिटल की दुनिया को एक्स्प्लोर करना है, इसमें मैं एक्टिंग और प्रोडक्शन दोनों में काम करने की कोशिश में हूं, क्योंकि अभी फ्यूचर डिजिटल का ही है. मुझे उम्मीद है कि मैं अपने मकसद में कामयाब होऊंगा.

विजय पुष्कर 

vijay-pushkar

अभिनेता विजय पुष्कर का कहना है कि इस साल का मेरा संकल्प काम पर ध्यान देना है, जिसे मैंने 9 महीने में पेंड़ेमिक और लॉकडाउन की वजह से खोया है. अभिनय मेरा पैशन है और कैमरे के आगे आना मुझे बहुत अच्छा फील कराता है. इसके अलावा इस साल मैं पोजिटिव रहना, पोजिटिव जीवन-यापन करना और पॉजिटिव चीजों को आकर्षित करना चाहता हूं.

प्रणिता पंडित 

pranita

मेरा नए साल का रेजोल्यूशन वजन कम करना और शेप में आना है. काम शुरू करने के साथ-साथ मैं अपने जीवन में भी सामंजस्य चाहती हूं. मैं देश महामारी मुक्त देखना चाहती हूं. इसके अलावा मैं एम् बी ए की पढाई पूरी करना चाहती हूं.  

अलविदा 2020- सारा अली खान से लेकर श्रद्धा कपूर तक, ड्रग्स मामले में कंट्रोवर्सी का शिकार हुए ये सितारे

जब सेलेब्रिटी पर आई मुसीबत- 2020 बॉलीवुड के लिए कितना ख़ास रहा और कितना नहीं, ये तो वहीं सेलेब्रिटी समझ सकते हैं, जिन्होनें इसे झेला. नई दुनिया में कदम रखने से लेकर दुनिया को अलविदा करने तक का 2020 का ये सफ़र अधूरा रहेगा अगर हम सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद ड्रग के मामले पर बात न करें. असल में ये 2020 का सबसे बड़ा चर्चित मामला रहा जिसने तूल पकड़ा. बात जब ड्रग कनेक्शन्स की जांच में आई तो छोटी से बड़ी उस हर सेलेब्रिटी का नाम सामने आया, जिससे उनके फैंस निराश हो गये. तो चलिए अब जानते हैं 2020 में ड्रग से जुड़े सेलेब्रिटी के बारे में भी.

1. दीपिका पादुकोण- दीपिका के फैंस को तब झटका लगा जब दीपिका का नाम ड्रग्स के मामले में सामने आया. जहां दीपिका की मैनेजर करिश्मा प्रकाश का नाम भी समाने आया था. बता दें दीपिका की अपनी मैनेजर से चैट वायरल हुई थी जिसमें वो ‘माल’ के बारे में पूछ रही थीं. मामले को लेकर दीपिका से एनसीबी ने भी पूछताछ की थी.

2. सारा अली खान- बॉलीवुड के नवाब सैफ अली खान की बेटी और एक्ट्रेस सारा अली खान का नाम भी ड्रग्स के मामले में सामने आया था. हालांकि एनसीबी की पूछताछ में उन्होंने सुशांत सिंह राजपूत के साथ अपने रिलेशन की बात भी कबूली थी. उन्होंने ये भी बताया की शूटिंग के दौरान उन्होंने सुशांत को ड्रग्स लेते हुए देखा भी था.

ये भी पढें- अलविदा 2020: गौहर से लेकर नेहा कक्कड़ तक, इस साल शादी के बंधन में बंधे ये 9 सेलेब्स

3. अर्जुन कपूर- बॉलीवुड अभिनेता अर्जुन कपूर भी इस आरोप से खुद को नहीं बचा पाए. जब घंटों तक शक के आधार पर अर्जुन से एनसीबी ने पूछताछ की तो उन्होंने ड्रग लेने की बात से साफ़ इंकार कर दिया.

4. श्रद्धा कपूर- लाखों दिलों की धड़कन बॉलीवुड अभिनेत्री श्रद्धा कपूर के लिए भी 2020 कम मुश्किलों भरा नहीं रहा है. एनसीबी ने जब श्रद्धा कपूर से पूछताछ की तो उन्होंने इस बात से पर्दा उठाते हुए बताया कि उन्होंने सुशांत सिंह राजपूत को शूटिंग के दौरान वैनिटी में ड्रग्स लेते हुए पकड़ा था.

5. भारती सिंह- हंसी ठिठोली करने वाली भारती सिंह भी 2020 की इस मुसीबत से नहीं बच पायीं. एनसीबी ने भारती के घर में में छापेमारी कर गांजा बारामद किया था. और उन्होंने ड्रग्स लेने की बात भी कबूली. इसके लिए भारती और उनके पति को गिरफ्तार भी किया गया था.

6. प्रितिका चौहान- टीवी एक्ट्रेस प्रितिका चौहान का नाम ड्रग्स मामले में सामने आया था. जिसके लिए उन्हें गिरफ्तार भी किया गया था. उनके उपर ड्रग्स लेने और सप्लाई करने का आरोप लगाया गया था.

7. रिया चक्रवर्ती- जैसे-जैसे बॉलीवुड में ड्रग्स को लेकर मामले सामने आए, वैसे-वैसे कई सेलेब्रिटी के नाम भी सामने आये. जिसमें रिया चक्रवर्ती का नाम सबसे ऊपर रहा. जब से सुशांत की मौत हुई उसके बाद से ही रिया पर लगातार आरोप लगते रहे. कड़ाई से एनसीबी ने जब पूछताछ की तो रिया ने ड्रग की सप्लाई और लेने की बात कबूली. जिसके लिए रिया को जेल की हवा भी खानी पड़ी.

ये भी पढ़ें- अलविदा 2020: सुशांत से लेकर इरफान खान तक, इन सितारों ने कहा दुनिया को अलविदा

8. रकुल प्रीत सिंह- ड्रग्स मामले में जब रिया चक्रवर्ती का नाम सामने आया तो उनकी साथ रकुल प्रीत सिंह की चैट भी सोशल मिडिया पर वायरल हुई. एनसीबी की पूछताछ में उन्होंने चैट को माना और बताया की चैट 2018 की थी. उन्होंने बताया कि एक बार रिया उनके घर पर ड्रग्स छोड़कर चली गयी थीं, जिसके लेकर रकुल ने उन्हें मैसेज किया था.

तो देखा आपने कि कैसे 2020 बॉलीवुड के लिए शाॅकिंग से भरा रहा. ये साल ही कुछ ऐसा था, जिसे ये सितारे कभी चाहकर भी नहीं भुला पायेंगे.

अलविदा 2020: गौहर से लेकर नेहा कक्कड़ तक, इस साल शादी के बंधन में बंधे ये 9 सेलेब्स

जिस साल का बेसब्री से इंतजार था, वो अब आ गया है. लेकिन अभी बात करते हैं 2020 की जिसमें कुछ ख़ुशी के पल भी गुज़रे, जो छोटे पर्दे से बड़े पर्दे में देखने को मिले.

बात 2020 की हो, तो ये साल ना सिर्फ कोरोना माहामारी के बीच गुजरा, बल्कि बहुत सी ऐसी बातें हुईं जो कभी आंखों को नम कर गयीं, तो कभी मन में ख़ुशी भर गयीं. कुछ ऐसा रहा खट्टे-मीठे और सुख-दुख के पलों से भरा रहा था ये साल. लेकिन इस इस साल कई सेलेब्रिटी ने एक दूसरे का हाथ थामकर नई जिंदगी की शुरुआत की.

जिन्होनें थामा एक दूजे का हाथ- 2020 ऐसे सेलेब्रिटी के लिए यादगार बन गया जिनको अपने जीवनसाथी मिल गये. जिन्होनें नई जिन्दगी में कदम रखा. चलिए जानते हैं उन सेलेब्रिटी के बारे में जिन्होने शादी करके अपने लिए 2020 यादगार बना लिया और वो इसी मीठी यादों के साथ अपने लाइफ पार्टनर के साथ इस साल को अलविदा कहेंगे.

1. रोहनप्रीत सिंह और नेहा कक्कड़

रोहनप्रीत सिंह और नेहा कक्कड़ की शादी साल की सबसे चर्चित शादियों में से एक है. दोनों को ‘नेहू द व्याह’ में एक दूसरे से प्यार हुआ. और दोनों ने शादी करने का फैसला कर लिया. पहले चंडीगढ़ फिर दिल्ली में शादी के कार्यक्रम किया गये. जिसके बाद मुम्बई में रिसेप्शन भी किया गया.

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Grihshobha (@grihshobha_magazine)

ये भी पढ़ें- अलविदा 2020: सुशांत से लेकर इरफान खान तक, इन सितारों ने कहा दुनिया को अलविदा

2. काजल अग्रवाल और गौतम किचलू-

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Grihshobha (@grihshobha_magazine)

बॉलीवुड एक्ट्रेस काजल अग्रवाल ने अपने बॉयफ्रेंड गौतम किचलू से 30 नवंबर को शादी कर ली. अपनी शादी के बाद, उन्होंने अपने दोस्तों और परिवार के लिए एक रिसेप्शन भी आयोजित किया.

3. हार्दिक पांड्या और नतासा स्टैंकोविक-

2020 जाते जाते क्रिकेटर हार्दिक पांड्या ने फैंस को झटका दे दिया. हार्दिक ने अपनी गर्लफ्रेंड नतासा स्टैंकोविक के साथ ना सिर्फ शादी की घोषणा की, बल्कि पापा बनने की गुड न्यूज़ भी दे डाली. हालंकि उनके इस सरप्राइज का फैंस की तरफ से मिला जुला रिएक्शन सामने आ रहा है.

4. आदित्य नारायण और श्वेता अग्रवाल-

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Grihshobha (@grihshobha_magazine)

साल में रोहनप्रीत और नेहा की शादी के बाद आदित्य और श्वेता की शादी ने फैंस को खुश कर दिया. दोनों दस सालों से एक दूसरे को प्यार करते थे. दोनों की शादी ककी तस्वीरें भी सोशल मिडिया पर खूब वायरल हो रही हैं.

5. राणा दग्गुबाती और मिहिका बजाज-

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Grihshobha (@grihshobha_magazine)

राणा दग्गुबाती और मिहिका बजाज ने 8 अगस्त, 2020 को शादी के बंधन में बंध गए. युगल की प्रेम कहानी पूरी तरह से आकर्षक है. गाँठ बाँधने से पहले वे पारिवारिक मित्र थे.

6. कुनाल वर्मा और पूजा बनर्जी-

इस साल टीवी अभिनेत्री पूजा बनर्जी ने भी कुणाल वर्मा के साथ शादी के बंधन में बंध गयीं. दोनों की शादी की पिक्स फैंस को खूब भा रही हैं.

ये भी पढ़ें- ननद सुष्मिता सेन के बॉयफ्रेंड को Charu Asopa ने कहा ‘जीजू’, Video Viral

7. नीति टेलर और परीक्षित बावा-

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Grihshobha (@grihshobha_magazine)

टेलीविजन अभिनेत्री नीति टेलर ने अपने मंगेतर परीक्षित बावा के साथ अगस्त में शादी कर ली. इस समारोह में उनके मम्मी-पापा और करीबी परिवार के सदस्य ही सिर्फ मौजूद थे.

8. मनीष रायसिंह और संगीता चौहान-

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Grihshobha (@grihshobha_magazine)

छोटे पर्दे के फेम मनीष रायसिंहन ने इस साल जून के महीने में संगीता चौहान के साथ अपनी जिन्दगी की नई पारी शुरू कर दी. दोनों की शादी मुंबई के गुरुद्वारे में सम्पन्न हुई. जहां उमके करीबी और माता-पिता ने अपना आशीर्वाद दिया.

9.  शहिर शेख और रुचिका कपूर-

टेलीविजन के मशहूर एक्टर शहिर शेख ने कुछ दिन पहले अपनी गर्लफ्रेंड रुचिका कपूर से कोर्ट मैरिज कर ली. शादी में सिर्फ परिवार के लोग ही शामिल हुए. बता दें रुचिका एकता कपूर की फिल्म डिविजन की हेड हैं.

ये साल जितना शॉकिंग रहा है उतना ही रॉकिंग भी रहा है. फिलहाल अपने फैंस के लिए ये सेलेब्रिटी हर गम भुलाकर नये साल को एंजॉय कर रहे हैं.

अलविदा 2020: सुशांत से लेकर इरफान खान तक, इन सितारों ने कहा दुनिया को अलविदा

फिल्मी सितारों ने जितनी खुशियां समेटीं, उतना ही दुगना दुख भी झेला है. 2020 साल में बहुत से बड़े सेलेब्रिटिज़ ने हमेशा के लिए अपने फैंस और पूरी दुनिया को अलविदा कह दिया. कुछ सितारों ने कोरोना महामारी के चपेट में आकर हम सबका साथ छोड़ा, तो कुछ ने अलग वजहों से. तो चलिए अब जानते हैं उन सितारों की बारे में जो अब सिर्फ एक याद बनकर रह गये हैं.

1. इरफ़ान खान बॉलीवुड की दुनिया के बसे चहेते अभिनेता इरफान खान ने 29 अप्रैल 2020 को अंतिम सांस ली. उन्हें एक संक्रमण के साथ धीरूभाई अंबानी अस्पताल में भर्ती कराया गया था. अभिनेता कई सालों से न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर से जूझ रहे थे. इरफान ने कमर्शियल फिल्मों के जरिये दुनियाभर के लोगों के दिलों में अपनी जगह बनाई थी.

2. ऋषि कपूर बॉलीवुड में फिल्म बॉबी से दर्शकों के दिल में अपनी जगह बनाने वाले अभिनेता ऋषि कपूर ने 30 अप्रैल 2020 को दुनिया को अलविदा कह दिया. 2018 में पहली बार उन्हें अपने कैंसर के बारे में पता चला था. ऋषि कपूर अपने दशक की फिल्मों में रोमांटिक हीरों के रूप में भी अपनी जगह बनाई.

3. सुशांत सिंह राजपूत बॉलीवुड के यंग और डैशिंग एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत ने न सिर्फ फैंस को बल्कि पूरे बॉलीवुड जगत को शॉक कर दिया. उनके फैंस और करीबी इस बात को एक्सेप्ट नहीं कर पा रहे थे कि अब उनका सुपर हीरो उनके बीच नहीं रहा. 14 जून बॉलीवुड के लिए ब्लैक डे से कम नहीं था. सुशांत टीवी धारावाहिक “पवित्रा रिश्ता” से अपने करियर की शुरुवात की थी.

4. दिव्या भटनागर– टीवी एक्ट्रेस दिव्या भटनागर, ये रिश्ता क्या कहलाता है फेम का कोविड -19 के कारण 11दिसंबर को निधन हो गया. उनको कार्डियक अरेस्ट हुआ था. जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था और 7 दिन बाद उनकी मृत्यु हो गई.

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Ishu Samar (@liveishusamar)

5. समीर शर्मा टीवी एक्टर समीर शर्मा को 6 अगस्त 2020 को, उन्हें मलाड में अपनी रसोई की छत से लटका पाया गया. वह फरवरी 2020 में अपने किराए के इस अपार्टमेंट में शिफ्ट हो गए थे. बिल्डिंग का सिक्योरिटी गार्ड उनकी मृत्यु की खबर देने वाला पहला व्यक्ति था. स्थानीय पुलिस द्वारा ये सुसाइड का मामला माना गया.

6. सरोज खान बॉलीवुड को अपने इशारों में नचाने वाली कोरियोग्राफर सरोज खान ने 2 जुलाई 2020 को दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया. सरोज खान बॉलीवुड में मास्टरजी कहलाने की शौकीन थीं. सरोज खान का निधन बॉलीवुड के लिए तगड़ा झटका था.

7. गायक एसपी बालसुब्रमण्यमअभिनेता एसपी बालासुब्रह्मण्यम का निधन 74 साल की उम्र में 25 सितंबर को कोरोनावायरस के कारण हो गया. अगस्त के पहले सप्ताह में कोविड -19 से संक्रमित होने के बाद, उनकी हालत बिगड़ी. उसके बाद उन्हें आईसीयू में स्थानांतरित कर दिया गया था. वह अपनी अंतिम सांस तक वेंटिलेटर पर रहे. भारतीय संगीत में उनके अद्वितीय योगदान के लिए प्रशंसक उन्हें याद करेंगे. उन्होंने 40,000 से अधिक गाने के लिए गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया.

8. वाजिद खान बॉलीवुड में सबसे ज्यादा पसंद की जाने वाली संगीतकार जोड़ी साजिद-वाजिद की जोड़ी 1 जून को तब टूट गयी जब दिल का दौरा पड़ने से साजिद खान का निधन हो गया. साजिद-वाजिद को सलमान खान अभिनीत “दबंग” फिल्मों में उनके गीतों के लिए जाना जाता है.

9. भूपेश कुमार पंड्या

थिएटर के व्यक्तित्व और अभिनेता भूपेश कुमार पंड्या का 23 सितंबर को फेफड़ों के कैंसर से लड़ाई के बाद निधन हो गया. भूपेश ने विक्की डोनर और हज़ारों ख़्वाहिशें ऐसी जैसी फ़िल्मों में अभिनय किया.

10. आसिफ बसरा बॉलीवुड एक्टर आसिफ बसरा ने 12 नवंबर को हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला में आत्महत्या कर ली थी. जहां वह लगभग चार साल से रह रहे थे. “ब्लैक फ्राइडे”, “परजानिया”, “जब वी मेट” और “काई पो चे” जैसी कई अन्य फिल्मों में शानदार भूमिका निभाने वाले आसिफ हम हमारे बीच नहीं रहे.

ये भी पढ़ें- अलविदा 2020: गौहर से लेकर नेहा कक्कड़ तक, इस साल शादी के बंधन में बंधे ये 9 सेलेब्स

11. आशालता वबगांवकर

वयोवृद्ध अभिनेता आशालता वाबगांवकर का 22 सितंबर को 79 वर्ष की आयु में सतारा में निधन हो गया. वाबगांवकर ने वो सात दिन, अहिस्ता अहिस्ता, शौकीन, अंकुश और नमक हलाल जैसी फिल्मों में काम किया था.

12. राहत इंदौरी

कवि और गीतकार राहत इंदौरी का निधन 11 अगस्त को कार्डियोरैसपाइरेटरी अरेस्ट के कारण हो गया था. अपनी कई प्रसिद्ध कविताओं के अलावा, उन्हें “चोरी चोरी नज़रें मिलीं” (करीब), “बूम्ब्रो” (मिशन कश्मीर), “ये रिश्ता क्या कहलाता है ”(मीनाक्षी),“ दिल को हजार बार ”(मर्डर) आदि में गीतों के लिए जाना जाता था.

13. अस्तद देबू समकालीन भारतीय नृतक अस्तद देबू एक ऐसे व्यक्तित्व हैं नृत्य की कई तकनीक के बारे में जानकारी थी. इनका निधन 10 दिसंबर हुआ. वह लिम्फोमा नाम की बिमारी से पीड़ित थे. जो एक तरह के ब्लड कैंसर को विकसित करता है. देबो ने कथक के साथ-साथ कथकली के भारतीय शास्त्रीय नृत्य रूपों में एक अद्वितीय संलयन नृत्य के रूप में अपना प्रशिक्षण दिया.

इनके अलावा भोजपुरी अभिनेता अनुपमा पाठक, दिग्गज बॉलीवुड अभिनेत्री कुमकुम, बॉलीवुड निर्देशक रजत मुखर्जी, मशहूर अभिनेता जगदीप जिनको सूरमा भोपाली के नाम से जाना जाता है, सुशील गौड़ा, फिल्म निर्माता हरीश शाह, टेलीविजन अभिनेता जागेश मुकाती, कन्नड़ कलाकार चिरंजीवी सरजा, फिल्म निर्माता-पटकथा लेखक बासु चटर्जी, बॉलीवुड निर्माता अनिल सूरी,दिग्गज गीतकार योगेश गौड़, टेलीविजन अभिनेत्री प्रीता मेहता, अभिनेता मोहित बघेल, अनुभवी अभिनेत्री निम्मी, वयोवृद्ध गीतकार अभिलाष, कन्नड़ हास्य कलाकार रॉकलाइन, मलयालम अभिनेता और डबिंग कलाकार प्रबेश चकलाकाल, तमिल अभिनेता फ्लोरेंट सी परेरा, वयोवृद्ध ओडिया अभिनेता अजय दास दास , तेलुगु टीवी अभिनेत्री श्रावणी कोंडापल्ली, तेलुगु अभिनेता जया प्रकाश रेड्डी, वयोवृद्ध संगीत संगीतकार एस मोहिंदर, वयोवृद्ध असमिया गायिका अर्चना महंता, वयोवृद्ध फिल्म निर्माता एबी राज, निर्देशक-अभिनेता शशिकांत कामत, मलयालम अभिनेता और डबिंग कलाकार प्रबेश चकलाक्कल का भी इस बीते साल 2020 में निधन हो गया.

एक्ट्रेस हिमानी शिवपुरी से जानिए, साल 2020 की कुछ खट्टी मीठी यादें और संकल्प

बचपन से अभिनय की इच्छा रखने वाली अभिनेत्री हिमानी शिवपुरी किसी परिचय की मोहताज नहीं. उन्होंने पढाई के दौरान ही अभिनय की शुरुआत कर दी थी. इसके बाद नेशनल स्कूल ऑफ़ ड्रामा,दिल्ली से पास होकर वे मुंबई आई और चलचित्र की दुनिया में कदम रखी. उन्होंने मनोरंजन की दुनिया में कई सफल फिल्में और टीवी शोज की है. अभी हिमानी शिवपुरी & टीवी पर ‘हप्पू सिंह की उलटन पलटन’में कटोरी अम्मा की भूमिका निभा रही है. स्वभाव से विनम्र और हंसमुख हिमानी ने साल 2020 की कुछ खट्टी मीठी बातें और आने वाले साल 2021 के संकल्प के बारें में खास गृहशोभा के साथ शेयर की. पेश है कुछ अंश.

सवाल-साल 2020 आपके लिए कैसा रहा?इस पेंडेमिक से आपको किस प्रकार के अनुभव प्राप्त हुए?

साल 2020 सबके लिए ही बहुत चुनौतीपूर्ण साल रहा है, खासकर सभी कलाकारों के लिए बिना काम के 5 महीने बैठे रहना बहुत ही मुश्किल था. मैंने लगातार काम किया है, ऐसे में 5 महीने बिना काम किये बिताना कठिन हो रहा था, क्योंकि ये हमारी कोई निश्चित जॉब नहीं है. हम सब डेली काम करने वाले मजदूर की तरह है. शूटिंग नहीं है, तो पैसा भी नहीं है. मैंने अपना घर चला लिया है, लेकिन ऐसे बहुत सारे कलाकार है, जिनको काम न करने पर पैसे नहीं और उनकी रोजीरोटी चलना मुश्किल हो गया था. मुझे उन मजदूरों को देखकर भी बहुत दुःख हुआ, जिन्हें जीने के लिए पैदल अपने घर के लिए मुंबई से रवाना होना पड़ा. बहुतों को खाना-पानी नहीं मिला, कुछ लोग राह चलते हुए मर भी गए, एक बेटी अपने पिता को साईकिल पर बिठाकर अपने गाँव ले जा रही थी. इन सारी घटनाओं को देखने पर बहुत मायूसी हुई और लगा कि आज भी हमारे देश में मजदूरों की हालत सोचनीय है. इस महामारी ने बहुत कुछ सीखने, समझने का मौका भी दिया है.

ये भी पढ़ें- काव्या को छोड़ेगा वनराज तो ‘अनुपमा’ की मां लेगी बड़ा फैसला, जानें क्या होगा

इसके अलावा कुछ काम घर से हो सकता था, तो लोगों ने किया, लेकिन अभिनय घर से नहीं हो सकता. अभिनय के लिए घर से निकलने की जरुरत होती है. कुछ किया नहीं जा सकता था. इन 5 महीनों में मुझे आत्ममंथन करने का मौका मिला, जो काम के दौरान संभव नहीं होता था. इन 5 महीनों में मैंने अपने परिवार और खुद के लिए समय निकाला, जिसमें किताब पढना, कवितायेँ लिखना, मैडिटेशन का कोर्स करना आदि किया, जो बहुत अच्छा लगता था. जब अनलॉक की प्रक्रियां शुरू हुई तो मैं फ्लैट से नीचे उतरकर वाक् भी करती थी.

मैं खुद को प्रिविलेज्ड मानती हूं, क्योंकि मैं घर में अपने परिवार के साथ रहती हूं, जबकि कुछ लोग एक कमरे में 10 से 15एक साथ रहने की जरुरत लॉकडाउन के दौरान पड़ी थी.

सवाल-शूटिंग पर जाने से पहले आपने किस तरह की सावधानियां बरती, ताकि कोरोना से आप संक्रमित न हो?

जब डेली सोप की शूटिंग शुरू हुई, तो मैं काम पर जाने से मना करती रही, क्योंकि मुझे डर लग रहा था, लेकिन बेटे ने समझाया और मैंने भी समझी कि मेरे काम करने से कई घरों के चूल्हे जलते है. कलाकार के अलावा क्रू मेंबर, मेकअप मैन, हेयर ड्रेसर, लाइट मैन आदि किसी के पास काम नहीं था. शूटिंग शुरू न होने पर उनकी रोजीरोटी चलना मुश्किल था. फिर मैंने हिम्मत कर पूरी सावधानी के साथ काम पर जाने लगी. 5 महीने के बाद घर से निकलने पर असहाय और डर का अनुभव रहा है, क्योंकि कोविड 19 का ये दुश्मन वायरस अंजाना है, इसके बारें में किसी को कोई जानकारी या इलाज नहीं है.

सवाल-कोरोना पॉजिटिव होने पर आपके अनुभव क्या थे?

काम करते-करते मुझे कोरोना हो गया. मुझे बुखार और बदन दर्द हो गया था. जब मैं बुखार की दवा लेती तो बुखार कम हो जाता था. ऐसे मैंने दो रात बिताने के बाद जब फॅमिली डॉक्टर के कहने पर टेस्ट किया, तो कोरोना पॉजिटिव निकला. पहले हॉस्पिटल में एडमिट होने के लिए बेड नहीं मिल रहे थे. फिर किसी तरह एक हॉस्पिटल में जगह मिली और मैं एडमिट हुई. इस बीमारी में मुझे टोटल आइसोलेशन में रहना पड़ा था, डॉक्टर और नर्सेज पूरी पीपीई किट पहन कर दूर से मेरा इलाज करते थे. मेडिकल के लोग भी मुझ तक आने से डर रहे थे और ये अनुभव मेरे लिए बहुत ही अलग थी. बिना टीवी के एक कमरे में रहना मेरे लिए मुश्किल हो रहा था, मैं धूप और आसपास को देखने के लिए तरस रही थी. खुद को मैं असहाय महसूस कर रही थी, लेकिन मेरे एक मित्र ने कविता लिखने की सलाह दी और मैंने अपने अनुभव को लेकर कोरोना पर एक कविता लिख डाली और सोशल मिडिया पर डाल दी, जिसे  लोगों ने काफी पसंद किया.

7 दिन अस्पताल रहने के बाद मैं घर आई और 15 दिन के लिए खुद को क्वारेंटिन किया और एक महीने के बाद फिर से काम शुरू किया, पर शारीरिक रूप से मैं बहुत कमजोर हो चुकी थी. ये अच्छा रहा कि मेरे बेटे, मेड सर्वेंट और को-एक्टर किसी को भी कोरोना नहीं हुआ. इस प्रकार ये साल बहुत ही विचित्र रहा है और बहुत कुछ सीखाकर जा रहा है. मैं चाहती हूं कि आने वाला साल सबके लिए बेहतर हो.

सवाल-अभी जिंदगी को आप किस नजरिये से देख पाती है?

मैंने आज तक 2 या 3 दिन की छुट्टी ली होगी. पहली बार जिंदगी 5 महीने के लिए रुक गयी थी. बहुत असुक्षा का माहौल चारों तरफ था. मैंने जबसे होश सम्हाला है, अभिनय किया है, पहले थिएटर, फिर फिल्म, टीवी आदि . जब मेरे पति की मृत्यु हुई, तो मैं उस समय अकेले पूरे परिवार की सपोर्टर थी. साथ ही बेटे की परवरिश भी करनी थी, लेकिन कोरोना संक्रमण का अनुभव अनिश्चितता का था. ये साल बहुत कुछ सीखा गया है. ये समय जल्दी निकल जाएँ और फिर से सब नार्मल हो जाए, इसकी मैं कामना करती हूं. पेंड़ेमिक काफी यादगार रहेगा. इसकी कहानी आगे आने वाले जेनरेशन को भी मैं बता पाउंगी. इसके अलावा इतने बड़े पेंडेमिक की वजह हम सब ही है, क्योंकि पर्यावरण का हम सबने सत्यानाश कर दिया है.

ये भी पढ़ें- कोरोना वैक्सीन आने के बाद शादी करेंगी ये एक्ट्रेस, इंटरव्यू में किया खुलासा

सवाल-आपका नए साल का रेजोल्यूशन क्या है?

हर साल मैंने संकल्प लिया है, पर इस साल का संकल्प हर साल से अलग होगा. जब मुझे कोरोना संक्रमण हुआ था, तो मुझे लगा था कि मैं वापस घर अस्पताल से लौट करआउंगी या नहीं. मुझे याद है, हॉस्पिटल जाने से पहले मैंने अपनी सारी अंगूठी निकाल दी थी. ऐसे समय में पता चलता है कि जीवन कितना बहुमूल्य है. धन, घर बार, शोहरत जिसके लिए लोग भागते है, वह सब बेकार है. सबसे बड़ी चीज आज हेल्थ है. इस सच्चाई को नजदीक से मैं भुगत चुकी हूं. इसलिए मैं आगे आने वाले सभी वर्षों में स्वास्थ्य पर अधिक ध्यान दूंगी. इसके अलावा थोड़े में संतुष्ट रहना आज आवश्यक है. लोगों में बहुत कुछ पाने की होड़ पिछले कुछ सालों से लगी थी, जिसमें वे परिवार, ख़ुशी और स्वास्थ्य का ध्यान बिलकुल भी नहीं दे रहे थे. कोविड 19 ने विश्व में सभी को ये सीख दी है कि वर्तमान में आपके पास जो है, उसी को एन्जॉय करें और परिवार के साथ खुश रहे, ये आज का संकल्प सबके लिए होनी चाहिए, क्योंकि आज का पल कभी वापस लौट कर नहीं आता.

नये वर्ष के संकल्‍प, क्‍या करें और क्‍या न करें, जाने यहां

नये साल का स्वागत हमेशा खुशियों के साथ होता है. कई योजनायें लागू करने की बात होती है. कुछ रेसोल्यूशन भी किये जाते है, लेकिन कई बार ये न हो पाने की स्थिति में मायूसी मिलती है. साल 2020 बहुत सारे समस्याओं के साथ गुजरने वाला है. कोविड 19 पेंडेमिक ने कुछ परिवारों के कई प्रिय व्यक्ति को खोया है, किसी की नौकरी गयी, तो किसी को काम के पैसे तक नहीं मिल रहे है. लोग भुखमरी और दूसरी बीमारी के शिकार हो रहे है. देश की अर्थव्यवस्था पूरी तरह से बिगड़ चुकी है, ऐसे में नया साल पूरे विश्व के लिए चुनौती और संघर्ष के साथ आने वाला है. नए वर्ष की पूर्व संध्‍या की योजनाएं भी इस साल रात्रि लॉकडाउन के चलते पिछले कई वर्षों की तुलना में अलग होंगी. 

इस बारें में कोकिलाबेन धीरूभाई अम्बानी हॉस्पिटल के कंसल्टेंट साइकियाट्रिस्ट डॉ. शौनक अजिंक्य कहते है कि नये वर्ष को कहीं पार्टी में जाने या करने के बजाय आराम से अपने परिवार के साथ बैठकर इसे घर पर मनाये या फिर किसी मूवी का आनंद ले, पर इस वर्ष 31 दिसंबर से पहले नये साल के लिए संकल्‍प लेने से न भूलें, क्योंकि नया साल बहुत सारी चुनौती के साथ आपके जीवन में प्रवेश करने वाला है. 

प्राचीन इतिहास के अनुसार नये वर्ष पर संकल्‍प लेने की अवधारणा, रोमन काल से जुड़ी है, जो जैनस (जिनके नाम पर जनवरी महीने का नाम पड़ा) को वचन देकर हर वर्ष का शुभारंभ करते थे और उसे पूरा करने की कोशिश करते थे.  

वर्ष 2019 में कराये गये ऑनलाइन सर्वेक्षण के अनुसार, लगभग 28 प्रतिशत अमेरिकियों ने बताया कि उन्‍होंने वर्ष 2020 के लिए ‘नव वर्ष संकल्‍प’ लिये थे और अधिकांश लोगों को उम्‍मीद थी कि वे अपने संकल्‍पों को पूरा कर सकेंगे, लेकिन महामारी ने उनकी सभी योजनाओं को बर्बाद कर दिया, पर वे हतोत्‍साहित होने के बजाय, फिर से कोशिश करने लगे है, जो अच्छी बात है, ऐसे ही कुछ संकल्प के बारें में डॉ. शौनक ने बात की, जो निम्न है,

  • नयी सोच और नयी प्रेरणा के साथ नये वर्ष में कदम रखें,
  • यह जरूरी नहीं कि संकल्‍प लंबे समय के लिए ही किये जाय, कम समय के लिए भी संकल्‍प लिये जा सकते है,
  • परिजनों और दोस्‍तों से उनके पिछले वर्ष के संकल्‍पों के बारे में जानें और उनसे पूरे हुए संकल्पों के बारें में भी जानने की कोशिश करें, 
  • संकल्‍प न पूरा कर पाने की वजह जानें, मसलन अनरियलिस्टिक लक्ष्य, खुद की प्रोग्रेस को ट्रेस न कर पाना, बिना सोचे बहुत सारे संकल्प ले लेना आदि. 
  • संकल्पों को पूरा करने के लिए, कड़े डेडलाइंस न बनाएं, बल्कि साल 2021 में पूरे वर्ष अपने काम-काज की गति को फोलो करते रहे. इसके अलावा कुछ ख़ास बातों का ध्यान आने वाले वर्ष में रखना जरुरी है, जो निम्न है,  

ये भी पढ़ें- घर सजाते समय कभी न करें ये 12 गलतियां

साल 2021 को बनाये खुबसूरत

बजट  

  • अपने लायक बजट बनायें और बजट के अनुरूप योजनाएं बनाएं, काफी सोच-विचारकर खर्च करे, बजट बनाने से आपको पता चल सकेगा, आपको किन-किन जगहों पर कितना पैसा खर्च करना है. 

आहार 

  • भोजन हमारे शरीर के लिए इंधन है, थिरेपी नहीं,
  • किसी भी मील को स्किप न करें और न ही जयादा मात्रा में भोजन लें, आहार में फल, सब्जियां, बेरिज और सूखे मेवे नियमित रूप से शामिल करें,
  • शरीर को हाइड्रेट रखें और नियमित जरुरत के अनुसार पानी जरूरी पीयें,
  • खाना पकाना सीखें, ताकि स्‍वास्‍थ्‍यवर्द्धक और विभिन्‍न प्रकार के व्‍यंजन आप घर में भी खा सकें.

नशीले पदार्थ

  • नशीले पदार्थों का सेवन करने से बचें, लोगों का मानना है कि नशीले पदार्थों के सेवन से अच्छी नींद अच्‍छी आती है, प्रतिरोधक तंत्र बेहतर बना रहता है और त्‍वचा स्‍वस्‍थ बनी रहती है, जबकि ये सब स्वास्थ्य के लिए अत्‍यंत हानिकारक है, साथ ही इसका सेवन न करने से पैसे की भी बचत होती है. 

व्‍यायाम 

  • रोज व्‍यायाम करें, नए साल में नयी दिनचर्या शुरू करे, ऑफिस या घर आते-जाते समय सीढि़यों का प्रयोग करें,
  • घर को साफ-सुथरा रखने की आदत डालें, क्‍योंकि मेड न होने की स्थिति में, यह काम बड़ा लग सकता है, 
  • प्रकृति के सान्निध्य में रहने का प्रयास करें, क्योंकि शरीर की जैविक घड़ी को ठीक रखने के लिए सूर्य की रोशनी बहुत जरुरी है.

समय प्रबंधन 

  • समय को प्रबंधित करें, अन्‍यथा समय आपको प्रबंधित कर देगा,
  • एक बार में एक ही काम करें, अलग-अलग गतिविधियों के लिए समय निर्धारित करें, प्रत्‍येक कार्य को पूरा करने में आपका ध्‍यान सौ फीसदी उसी में होना चाहिए. एक साथ कई कार्य करने से आपकी कुशलता नहीं बढ़ती, बल्कि तनाव बढ़ जाता है, आंशिक ध्‍यान देकर कार्य करने से चिंता बढ़ती है, क्‍योंकि काम का ढेर अधिक होने लगता है, 
  • काम का बंटवारा समय और पैसे के हिसाब से कर लें, ताकि समय बचे, इसके लिए आजकल प्रयोग में लाने वाली घरेलू उपकरणों को न भूलें, 
  • आराम के लिए समय दें, समय से सोयें और समय से जगे, इससे स्वास्थ्य अच्छा बना रहता है, सोशल मीडिया पर अधिक समय न बिताएं.

हॉबीज 

  • रोज के दबाव और तनाव से ध्‍यान हटाने के लिए शौक की चीजें करना बेहद उपयोगी होता है, इसमें नये-नये शौक पालें, जैसे पौधों को पानी देने से तंत्रिकाएं शांत रहती है, एकाग्रता बढ़ती है,
  • अपने लुक्स के साथ प्रयोग करें, त्‍वचा की देखभाल पर समय दें 
  • छुट्टियों के लिए प्‍लान बनायें , जिससे किसी भावी ट्रिप के बारे में सोचने मात्र से ही हफ्तों तक उस ख़ुशी को महसूस की जा सकें, , घूमें-फिरें, सैर-सपाटे पर जायें, विदेश सैर पर जाना कुछ समय तक मुश्किल हो सकता है, लेकिन जिंदगी की लय में बदलाव लाने के लिए कुछ समय के लिए छोटे ट्रिप पर भी जा सकते है, 
  • स्‍वेच्‍छापूर्ण कुछ सामाजिक काम करने से तनाव कम होता है, मन को सुकून मिलता है और स्‍वास्‍थ्‍य बेहतर बना रहता है. 

विचार प्रबंधन 

  • विचार, भावनाओं, व्‍यवहारों व आदतों को प्रभावित करते है, संभव हो तो, मन में आने वाले विचारों को लिखें, इससे मन में आने वाले विचारों के दृष्टिकोण को बदलने में मदद मिलती है, 
  • स्‍वयं के लिए उदार शब्‍दों को अपनाएं, जैसा आप दोस्‍तों के लिए करते है, 
  • ग्रेटिट्यूड जर्नल बनाकर घटित होने वाली 3 अच्‍छी बातों को लिखने की कोशिश करें और सोशल मीडिया की नकारात्‍मक खबरों से बचें.

ये भी पढ़ें- बागबानी के ये भी हैं फायदे

थिरेपी 

  • म्‍यूजिक थिरेपी  का जादुई असर होता है, इससे तनाव कम होता है, मिजाज बेहतर बन सकता है, 
  • एरोमाथिरेपी  का असर हमारे मन, स्‍मृति और ऊर्जा पर पड़ता है, इसलिए अपने आसपास के माहौल को खुश्‍बूदार बनायें.
  • प्रोफेशनल थिरेपी  से मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य की देखभाल का संकल्‍प लेने की जरुरत है, आवश्‍यकता होने पर अपने निकटतम मेंटल हेल्‍थकेयर प्रोफेशनल से अवश्य संपर्क करें, ऑनलाइन काउंसलिंग का भी सहयोग आज ले सकते है, जो घर पर बैठकर ही संभव है.  
अनलिमिटेड कहानियां-आर्टिकल पढ़ने के लिएसब्सक्राइब करें