शुभारंभ: क्या राजा-रानी के बीच बढ़ती गलतफहमियाँ कम हो पाएंगी?

कलर्स के शो शुभारंभ में इन दिनों राजा और रानी के बीच गलतफहमी बढ़ती ही जा रही है तो वहीं दूसरी तरफ राजा की माँ रानी के साथ अपने बेटे की शादी का सपना देख रही है, जिसके बारे में दोनों को कुछ पता नही है. अब देखते हैं क्या होगा शो में आगे…

राजा से झूठ कहती है झरना

पिछले एपिसोड में आपने देखा कि राजा और रानी के बीच गलतफहमी बढ़ाने के लिए झरना राजा को कहती है कि रानी उससे प्यार करती है, जिसके कारण राजा का व्यवहार बदल जाता है.

ये भी पढ़ें- शुभारंभ: राजा-रानी की मुलाकात से होगा एक नई दोस्ती का शुभारंभ

गलतफहमी दूर करती है रानी

रानी राजा के मैसेज का जवाब देने के लिए गलती से सेल्फी भेज देती है. इस गलतफहमी को दूर करने के लिए रानी मंदिर में राजा से बात करती है और बताती है कि सेल्फी वाला किस्सा गलती से हुआ.

रानी के भाई की लगी लौटरी

रानी के भाई उत्सव की 50 लाख की लौटरी लग गई है, जिसकी खबर उत्सव राजा की मां को बता देता है. लौटरी की खबर सुनते ही राजा की माँ अपने बेटे की शादी रानी से करने की सोचती है. पर वह ये नही जानती की रानी वही लड़की है, जिससे वह डांडिया में मिली थी.

एक-दूसरे से रिश्ते के लिए मिलेंगे राजा रानी

आने वाले एपिसोड में आप देखेंगे कि जहाँ एक तरफ राजा की फैमिली उसे कहती है कि रानी पैसों की लालची है. दूसरी तरफ रानी के दिमाग में ये बात डाली जाती है कि राजा उसके शरीर के पार्टस बेचना चाहता है.

ये भी पढ़ें- ‘शुभारंभ’: जानें कैसे हैं राजा-रानी और क्यों अलग है इनकी कहानी

अब देखना ये है कि आने वाले एपिसोड में क्या राजा-रानी के बीच बढ़ती गलतफहमियां कम हो पाएंगी? जानने के लिए देखते रहिए ‘शुभारंभ’, हर सोमवार से शुक्रवार रात 9 बजे सिर्फ कलर्स पर.

शुभारंभ: राजा-रानी की मुलाकात से होगा एक नई दोस्ती का शुभारंभ

कलर्स चैनल पर आने वाले शो ‘शुभारंभ’ में दो अलग-अलग स्वभाव के राजा-रानी की कहानी में जल्द ही नया मोड़ नजर आने वाला है. शो मे राजा-रानी जितना एक-दूसरे के पास हैं, उतना ही एक दूसरे से दूर हैं. वहीं अब शो में दोनों की ये दूरी खत्म होने वाली है. आइए आपको बताते हैं कि कैसी होगी राजा-रानी की ये खास मुलाकात…

रानी की तलाश में है राजा

अब तक आपने देखा कि राजा, रानी को सोशल मीडिया पर ढूंढकर फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजता है. इसी के साथ रानी की तलाश करते हुए राजा का सामना रानी के पिता छगन से हो जाता है.

ये भी पढ़ें- ‘शुभारंभ’: जानें कैसे हैं राजा-रानी और क्यों अलग है इनकी कहानी

रानी ने नहीं किया राजा पर भरोसा

रानी की तलाश करते हुए राजा को गरबा प्रतियोगिता के दौरान रानी मिल जाती हैं जहाँ दीपन के असली रूप के बारे में राजा, रानी को बताने की कोशिश करता है, लेकिन रानी उसपर भरोसा नही करती.

रानी का टूटेगा दिल

आज आप देखेंगे कि जब रानी को दीपन के बुरे इरादों का पता चलेगा तो रानी को एहसास होगा कि राजा पर भरोसा ना करके उसने गलती की है और उसे इस बात का बेहद पछतावा भी होगा.

क्या राजा बनेगा रानी का डांस पार्टनर

दीपन के इरादों को जानने के बाद जहाँ एक तरफ रानी का दिल टूटेगा वहीं डांस प्रतियोगिता में पार्टनर नही होने से वह निराश हो जाएगी. लेकिन राजा-रानी का डांस पार्टनर बनने के लिए तैयार हो जाएगा और दोनों प्रतियोगिता जीत जाएंगे. वहीं राजा की भेजी हुई फ्रेंड रिक्वेस्ट को रानी कबूल कर लेगी.

ये भी पढ़ें- जब राजा के हुनर पर चढ़ेगा रानी के हौंसले का रंग, दुनिया देखेगी कैसे होगा जीवन का नया ‘शुभारंभ’

अब देखना ये है कि राजा-रानी की ये दोस्ती दोनों को किस मोड़ पर ले जाती है. जानने के लिए देखते रहिए शुभारंभ’, हर सोमवार से शुक्रवार रात 9 बजे सिर्फ कलर्स पर.

जब राजा के हुनर पर चढ़ेगा रानी के हौंसले का रंग, दुनिया देखेगी कैसे होगा जीवन का नया ‘शुभारंभ’

हम सब का स्वभाव एक दूसरे से अलग होता है और हम सबमें कोई न कोई खूबी जरूर होती है. यही हम सब के व्यक्तित्व की खूबसूरती और पहचान दोनों है. जब दो अलग स्वभाव और मिज़ाज के लोग एक साथ आते हैं और एक दूसरे की खूबियों को पहचान ने में भी सफल होते हैं तो सफलता उनके कदम चूमती है. अगर किस्मत ऐसे ही दो लोगों को करीब लाती है तो वे मिलकर एक और एक दो नहीं पूरे ग्यारह हो जाते हैं. इसीलिए कलर्स लेकर आ रहा है, एक ऐसी ही साझेदारी की अनोखी कहानी ‘शुभारंभ’, आज से सोमवार से शुक्रवार रात 9 बजे सिर्फ कलर्स पर.

भोले-भाले राजा की कहानी का होगा शुभारंभ

शुभारंभ की कहानी दो किरदार ‘राजाऔर रानी’ की है जो गुजरात के एक छोटे शहर, सिद्धपुर से हैं. राजा एक मेहनती और स्वभाव से भोला लड़का है जिसके व्यवहार को सभी पसंद करते हैं. एक अमीर गुजराती बिजनेस घराने का लड़का. राजा अपने पिता को बचपन में ही खो देता है. उस के पिता की मौत के बाद उसके रिश्तेदार धीरे धीरे उसके पिता के बिजनेस और जायजाद पर कब्जा कर लेते हैं. पर राजा अपने भोलेपन की वजह से इससे अनजान बना रहता है और वे लोग अपने मन मुताबिक उसका इस्तेमाल करते रहते हैं.

राजा के हुनर को पहचान दिलाती रानी की कहानी का होगा शुभारंभ

रानी होशियार और कौन्फिडेंट लड़की है. वो गरीब घर की लड़की है जिसके पिता शराबी हैं और मां मेहनत मजदूरी कर के घर का पालन – पोषण करती है. बचपन से ही गरीबी से लड़ते-लड़ते रानी उम्र से पहले बड़ी हो जाती है और उसे ज़माने से निपटना बखूबी आता है. एक ओर रानी का बिज़नेस सेन्स काफी अच्छा है तो दूसरी तरफ राजा में पेंटिंग करने का हुनर है. राजा को घर-दुकान के काम से जब भी वक्त मिलता है, वो पेंटिंग करने में मशगूल हो जाता है. रानी वक्त के साथ राजा के व्यक्तित्व में छुपे हुनर को पहचान लेती है. राजा भी अपने हुनर में रानी से मिले हौसले के पंख लगाता है, और शुरू होती है सपनों की नई उड़ान.

राजा-रानी की जिंदगी में आएगा बदलाव

कलर्स पर आने वाले इस नए धारावाहिक का दर्शकों को बेसब्री से इंतजार है. माना जा रहा है कि ‘राजा-रानी’ का किरदारऔर उनकी कहानी सिर्फ दर्शकों का भरपूर मनोरंजन ही नहीं करेगी बल्कि अपने रिश्ते को नए नजरिये से देखने को प्रेरित भी करेगी. लोगों के दिलों में उत्सुकता है कि जब किस्मत राजा-रानी को करीब लाएगातो दोनों एक-दूसरे की जिंदगी में बदलाव कैसे लाएंगे.

राजा-रानी अपने नए जीवन का शुभारंभ कैसे करते हैं, साथ मिलकर साझेदारी की अनोखी कहानी कैसे लिखते हैं, जानने के लिए देखिये – ‘शुभारंभ’, आज से सोमवार से शुक्रवार रात 9 बजे सिर्फ कलर्स पर.

जब राजा के हुनर पर चढ़ेगा रानी के हौंसले का रंग, दुनिया देखेगी कैसे होगा जीवन का ‘शुभारंभ’

हम सब का स्वभाव एक दूसरे से अलग होता है और हम सबमें कोई न कोई खूबी ज़रूर होती है. यही हम सब के व्यक्तित्व की खूबसूरती और पहचान दोनों है. जब दो अलग स्वभाव औरमिज़ाज के लोग एकसाथ आते हैं और एक दूसरे की खूबियों को पहचान ने में भी सफल होते हैं तो सफलता उनके कदम चूमती है. अगर किस्मत ऐसे दो लोगों को करीब लाती है तो वे मिल कर एक और एक दो नहीं पूरे ग्यारह हो जाते हैं. कलर्स लेकर आ रहा है, एक ऐसी ही साझेदारी की अनोखी कहानी- ‘शुभारंभ’

शुभारंभ की कहानी दो किरदार ‘राजाऔर रानी’ की है जो गुजरात केएक छोटे शहर, सिद्धपुर से हैं. राजा एक मेहनती और स्वभाव से भोला लड़का है जिसके व्यवहार को सभी पसंद करते हैं. एक अमीर गुजराती बिजनेस घराने का लड़का. राजा अपने पिता को बचपन में ही खो देता है.उस के पिता की मौत के बाद उसके रिश्तेदार धीरे धीरे उसके पिता के बिजनेस और जायजाद पर कब्जा कर लेते हैं. पर राजा अपने भोलेपन की वजह से इससे अनजान बना रहता है और वे लोग अपने मन मुताबिक उसका इस्तेमाल करते रहते हैं.

रानी होशियार और कौन्फिडेंट लड़की है. वो गरीब घर की लड़की है जिसके पिता शराबी हैं और मां मेहनत मजदूरी कर के घर का पालन – पोषण करती है. बचपन से ही गरीबी से लड़ते-लड़ते रानी उम्र से पहले बड़ी हो जाती है और उसे जमाने से निपटना बखूबी आता है. एक ओररानी का बिजनेस सेन्स काफी अच्छा है तो दूसरी तरफ राजा में पेंटिंग करने का हुनर है. राजा को घर-दुकान के काम से जबभी वक्त मिलता है, वो पेंटिंग करने में मशगूल हो जाता है. रानी वक्त के साथ राजा के व्यक्तित्व में छुपे हुनर को पहचान लेती है. राजा भी अपने हुनर में रानी से मिले हौसले के पंख लगाता है, और शुरू होती है सपनों की नई उड़ान.

कलर्स पर आने वाले इस नए धारावाहिक का दर्शकों को बेसब्री से इंतजार है. माना जा रहा है कि ‘राजा-रानी’ का किरदार और उनकी कहानी सिर्फ दर्शकों का भरपूर मनोरंजन ही नहीं करेगी बल्कि अपने रिश्ते को नए नजरिये से देखने को प्रेरित भी करेगी. लोगों के दिलों में उत्सुकता है कि जब किस्मत राजा -रानी को करीब लाएगातो दोनों एक दूसरे कीजिंदगी में बदलाव कैसे लाएंगे.

राजा – रानी अपने नएजीवन का शुभारंभ कैसे करते हैं, साथ मिलकर साझेदारी की अनोखी कहानी कैसे लिखते हैं, जानने के लिए देखिये – ‘शुभारंभ’ 02 दिसंबर, सोमवारसे शुक्रवार, रात 9 बजे, सिर्फ कलर्स पर.

अनलिमिटेड कहानियां-आर्टिकल पढ़ने के लिएसब्सक्राइब करें