बढ़ती उम्र के साथ मेरी आंखों के आसपास की स्किन कमजोर हो गई है?

सवाल-

बढ़ती उम्र के साथ मेरी आंखों के आसपास की स्किन कमजोर हो गई है. इस से आंखों के आसपास की स्किन लटकने लगी है. इस से न सिर्फ मेरी खूबसूरती बिगड़ती है, बल्कि व्यक्तित्व भी प्रभावित होता है. इस लटकती स्किन को क्या कुछ घरेलू उपायों या मेकअप से छिपाया जा सकता है?

जवाब-

जी हां, बढ़ती उम्र के साथ फेशियल मसल्स ड्रूपी होने लगती हैं. जब हम मसकारा को आई लैवल से 45 डिग्री लिफ्ट करते हुए लगाएंगे तो हमारी पलकों की मसल्स लिफ्ट होने के कारण उम्र कम नजर आएगी और यंग लुक मिलेगा. इसी के साथ अगर हम डार्क ब्राउन कलर से पलकों के कोनों को कंटूर करते हैं, तो आंखों की खूबसूरती और बढ़ जाती है.बढ़ती उम्र के कारण आंखें पहले से थोड़ी छोटी हो जाती हैं. ऐसे में उन्हें उभारने के लिए आईब्रोज के नीचे एकदम सैंटर में सिल्वरिश या वैनिला शेड लगाएं. ऐसा करने से आंखें उठी हुई नजर आएंगी. इस के अलावा इस उम्र में लिक्विड आईलाइनर के बजाय पैंसिल आईलाइनर या फिर आईलैश जौइनर का इस्तेमाल करना ठीक रहता है. आंखें ड्रूपी न दिखें, इस के लिए लाइनर ऊपर की तरफ उठा हुआ लगाएं.घरेलू उपाय के लिए आंखों के नीचे या आसपास कभी कोई फेस पैक न लगाएं. जब पैक सूखता है तो उस से स्किन में खिंचाव होता है, जिस से झुर्रियां हो जाती हैं. ग्लिसरीन और अंडे के सफेद भाग को अरंडी के तेल के साथ मिक्स कर के आईलैशेज पर लगाएं. अंडे मेें हाई प्रोटीन होता है जो आईलैशेज को बढ़ाने में मदद करेगा.

ये भी पढ़ें- मेरे सिर के बीच से बाल उड़ गए हैं, जिस से मेरा आत्मविश्वास भी कम होता जा रहा है?

ये भी पढ़ें-

फूलों सी नाजुक त्वचा पर पतली धारियां और झुर्रियां नजर आने लगती हैं, तो मन सहम उठता है, क्योंकि झुर्रियां यानी बुढ़ापे की ओर बढ़ते कदम. आमतौर पर झुर्रियां त्वचा की उम्र बढ़ने का पहला साफ संकेत होती हैं. त्वचा में ढीलापन वौल्यूम के लौस होने का संकेत है. ऐसे में कुछ बातों का खयाल रखा जाए तो समय से पहले त्वचा की उम्र बढ़ने से रोक सकती हैं.

त्वचा की एजिंग के कई कारण होते हैं. कुछ चीजें ऐसी होती हैं, जिन का हम कुछ नहीं कर सकते हैं, लेकिन अन्य कारकों को हम प्रभावित कर सकते हैं.

पूरी खबर पढ़ने के लिए- 8 टिप्स: स्किन एजिंग अब नहीं

अगर आपकी भी ऐसी ही कोई समस्या है तो हमें इस ईमेल आईडी पर भेजें- submit.rachna@delhipress.biz
 
सब्जेक्ट में लिखे…  गृहशोभा-व्यक्तिगत समस्याएं/ Personal Problem

अनलिमिटेड कहानियां-आर्टिकल पढ़ने के लिएसब्सक्राइब करें