‘शादी मुबारक’ से लेकर ‘शौर्य और अनोखी की कहानी’ तक, 1 साल के अंदर ही बंद हुए ये 9 TV शोज

बीते साल कई नए सीरियल्स लौंच हुए लेकिन कुछ ही सीरियल्स फैंस के दिल में जगह बनाने में कामयाब हो पाए. वहीं कुछ सीरियल्स पर थोड़े ही दिनों में ताला लग गया. आइए आपको बताते हैं किन सीरियल्स को झेलनी पड़ी लौकडाउन की मार…

  1. लॉकडाउन की लवस्टोरी

बीते दिनों बौयफ्रेंड संग शादी करने वाली एक्ट्रेस सना सैय्यद का  स्टार प्लस का सीरियल लॉकडाउन की लवस्टोरी (Lockdown Ki Love Story) भी बंद हो गया. सीरियल में मोहित मलिक संग रोमांस करते हुए सना सैय्यद का सीरियल केवल 125 एपिसोड ही चल पाया, जिसके बाद मेकर्स ने शो को बंद करने का फैसला लिया.

ये भी पढ़ें- शिल्पा शेट्टी के पति राज कुंद्रा हुए गिरफ्तार, पोर्नोग्राफी बनाने व बेचने के लगे आरोप

2. शादी मुबारक

 

View this post on Instagram

 

A post shared by surbhi tyagi (@angelic.tyagi19)

टीवी एक्टर मानव गोहिल (Manav Gohil) और रति पांडे (Rati Pandey) का स्टार प्लस पर दिखाया जाने वाला सीरियल शादी मुबारक (Shaadi Mubarak) ने औडियंस के दिल में खास जगह बना ली थी. लेकिन बावजूद इसके मेकर्स ने शो को बंद करने का फैसला लिया.

3. गुप्ता ब्रदर्स

हितेन तेजवानी के सीरियल गुप्ता ब्रदर्स (Gupta Brothers) को कम टीआरपी के चलते 4 महीने बाद ही बंद करना पड़ा था. हालांकि इसमें कई बड़े अभिनेता भी नजर आए थे.

4. सरगम की साढ़े साती

अहम रोल में नजर आने वाली अंजलि तिवारी सरगम की साढ़े साती (Sargam Ki Sadhe Satii) शो को कम टीआरपी के चलते 2 महीने में ही बंद करने का फैसला लिया गया.

5. स्टोरी 9 मंथ्स की

 

View this post on Instagram

 

A post shared by TV lover (@_tv_ke_duniya)

सोनी टीवी पर लॉकडाउन के दौरान स्टोरी 9 मंथ्स की (Story 9 months ki) शो भी लॉन्च हुआ, जो कि जल्द ही बंद हो गया. हालांकि शो की कहानी औडियंस को पसंद आने लग गई थी.

 6. शौर्य और अनोखी की कहानी

 

View this post on Instagram

 

A post shared by @karan_ki_deba

करणवीर शर्मा और देबात्तमा साहा के सीरियल शौर्य और अनोखी की कहानी (Shaurya Aur Anokhi Ki Kahani) बीते साल दिसम्बर में लॉन्च किया गया था. लेकिन मेकर्स ने इस सीरियल को 7 महीने में ही बंद करने का फैसला ले लिया.

ये भी पढ़ें- Yeh Rishta… से हुई Karan Kundra की छुट्टी, कार्तिक-सीरत की लाइफ से दूर होगा रणवीर

7. इश्क पर जोर नहीं

लौकडाउन के दौरान मार्च में लॉन्च किए गए सीरियल इश्क पर जोर नहीं (Ishk Par Zor Nahi) 5 महीने के अंदर ही इसे ऑफ एयर हो गया था. हालांकि लीड एक्टर का कहना था कि उन्हें लगा था कि ये शो कम से कम 9 महीने तो चलेगा लेकिन ऐसा नहीं हुआ.

इसके अलावा स्टार भारत पर आने वाला शो मेरी दुर्गा (8) भी कम वक्त में ही ऑफ एयर कर दिया गया.

बता दें, लौकडाउन के कारण जैनिफर विंगेट के पौपुलर सीरियल बेहद-2 (9) के दूसरे सीजन को बंद कर दिया था. हालांकि फैंस को ये सुनकर बहुत बुरा लगा था.

अगर बिना प्यार के शादी हो सकती है, तो बिना पति के मां क्यों नहीं बन सकते?” : आलिया श्रॉफ

9 महीने का सफर एक ऐसा सफर है, जो एक स्त्री और पुरुष जिंदगी का जश्न मनाते हुए तय करते हैं, जो उन्होंने साथ मिलकर शुरू किया था. लेकिन कई औरतें ऐसी हैं, जो किसी साथी के बिना ही एक पैरेंट बनने का चुनाव करती हैं. इसकी वजह अलग-अलग हो सकती हैं, लेकिन मां बनने का अधिकार तो एक औरत को ही होता है, चाहे वो शादीशुदा हो, किसी रिश्ते में हो या फिर हो सिंगल हो! वैसे सिंगल मां बनने का चुनाव बड़ा कठिन होता है, लेकिन यह भी सच है कि महिलाओं को अपने मां बनने का तरीका चुनने और उसे उचित ठहराने के लिए किसी की स्वीकृति की जरूरत नहीं है.

“अगर बिना प्यार के शादी हो सकती है, तो बिना पति के मां क्यों नहीं बन सकते?” यह कहना है आलिया श्रॉफ का, जो सोनी एंटरटेनमेंट टेलीविजन के नए शो ‘स्टोरी 9 मंथ्स की” का एक प्रमुख किरदार है. यह लाइन सुनकर शायद आप हिल जाएं, क्योंकि टेलीविजन पर अब तक इस तरह का विषय नहीं दिखाया गया है, जिसमें एक नायिका खुद अपनी शर्तों पर मां बनने की इच्छा जाहिर करती है. इसका शीर्षक कुछ ऐसा है, जिसे सुनकर दर्शक इस सफर का हिस्सा जरूर बनना चाहेंगे.

आलिया श्रॉफ आज की नारी है, जो इरादों की पक्की, दिल से महत्वाकांक्षी और स्वभाव से एक परफेक्शनिस्ट है! 30 साल की उम्र में वो एक सुशिक्षित और सफल एंटरप्रेन्योर है और उसने बहुत पहले से ही अपनी जिंदगी प्लान कर रखी है. लेकिन रिश्तों के मामले में वो खुद को जाहिर नहीं कर पाती, चाहे उसकी निजी जिंदगी हो या पेशेवर. आलिया बाहर से भले ही सख्त नजर आए, लेकिन उसका दिल सोने जैसा खरा है और लोग वाकई उसके बारे में यह नहीं जानते हैं.

आलिया किसी भी पुरुष से संबंध बनाए बिना ही, यानी आईवीएफ (इन-विट्रो फर्टिलाइजेशन) के जरिए, मां बनने का चुनाव करती है और अपने इस फैसले पर अडिग रहती है. इसके लिए उसने हर इंतजाम कर रखे हैं, लेकिन उसके रास्ते में केवल एक ही अड़चन है और वो है एक सही स्पर्म डोनर! आलिया के अनुसार, उसे अपने जैसे ही किसी परफेक्ट डोनर की तलाश है, लेकिन वो कहते हैं ना, तकदीर का खेल बड़ा विचित्र है और सबकुछ प्लान के मुताबिक नहीं होता!

जब आलिया अपनी मर्जी के हिसाब से मां बनने की योजना में व्यस्त होती है, तभी मथुरा के एक युवा और महत्वकांक्षी लेखक सारंगधर से अचानक उसका आमना-सामना होता है. आलिया और सारंगधर दोनों ही एक नदी के दो अलग-अलग किनारे हैं, जिनके स्वभाव एक दूसरे से बिल्कुल अलग हैं. हालांकि लेखक के रूप में अपना करियर बनाने के लिए सारंगधर को आलिया की कंपनी में जॉब मिल जाती है. फिर किस्मत कुछ ऐसी करवट लेती है कि वो आलिया का डोनर बन जाता है! क्या आलिया को अपने डोनर के बारे में कुछ पता चलेगा? आखिर यह ‘स्टोरी 9 मंथ्स की’ आगे क्या मोड़ लेगी? जानने के लिए स्टोरी 9 मंथ्स की आज से , सोमवार से गुरुवार रात 10.30 बजे सोनी एंटरटेनमेंट टेलीविजन पर.

अनलिमिटेड कहानियां-आर्टिकल पढ़ने के लिएसब्सक्राइब करें