ऑयल्स फॉर स्ट्रेच मार्क्स

स्ट्रेच मार्क्स की प्रोब्लम न सिर्फ महिलाओं को बल्कि पुरुषों को भी इस समस्या का सामना करना पड़ता है. आमतौर पर ये समस्या तब पैदा होती है जब स्किन बहुत ज्यादा स्ट्रेच हो जाती है, जिससे बीच की लेयर यानी सैकंड लेयर , जिसे डर्मिस कहते हैं , उसमें जब मसल्स स्ट्रेच होती हैं , तो कोलेजन टूटने लगता है , जिससे स्ट्रेच मार्क्स की समस्या होती है.

बता दें कि कोलेजन प्रमुख प्रोटीन होता है, जो स्किन में संयोजी ऊतक बनाने का काम करता है. और जब इस कार्य में बाधा उत्पन होती है तब ये समस्या होती है. ये भले ही आपको कोई तकलीफ नहीं देते हैं , लेकिन ये दिखने में अच्छे नहीं लगते हैं , जिससे आपका कॉन्फिडेंस कम होता है. इसलिए अगर आप इस समस्या से निजात पाना चाहते हैं तो जाने इस बारे में कोस्मोटोलोजिस्ट भारती तनेजा से कि कैसे आप स्ट्रेच मार्क्स आयल से इससे समाधान पा सकते हैं.

1. विटामिन इ आयल

स्ट्रेच मार्क्स के लिए विटामिन इ आयल बेस्ट होता है. क्योंकि ये कोलेजन को बनाने में मदद करने के साथसाथ मोइस्चर को रिटेन करने का काम करता है. आप विटामिन इ कैप्सूल्स को सीधे भी इस्तेमाल कर सकते हैं या फिर और बेहतर रिजल्ट के लिए आप एरोमा थैरेपी ऑयल्स में भी इसको डालकर इस्तेमाल कर सकते हैं. बता दें कि विटामिन इ आयल में एंटी एजिंग और स्किन को रीजेनेरेट करने वाली प्रोपर्टीज होती हैं , जो धीरेधीरे स्ट्रेच मार्क्स को कम करने के साथसाथ उसके निशान को भी कम करती हैं. आपको विटामिन इ आयल के कैप्सूल मार्केट से या ऑनलाइन आसानी से 100 – 300 रुपए में मिल जाएंगे.

ये भी पढ़ें- 5TIPS: बेकिंग सोडा से पाइए खूबसूरत स्किन

2. लेवेंडर आयल

लेवेंडर आयल ,जो एसेंशियल आयल है, ये टिश्यू की ग्रोथ यानि स्किन को बनाने में मदद करता है, जिससे कोलेजन का निर्माण होना शुरू हो जाता है. ये जहां स्ट्रेच मार्क्स हो गए हैं , उसके नीचे जहां कोलेजन की लेयर खत्म होने लगती है , वहां टिश्यू को बनाने में मदद करता है, इससे डेमेज लेयर भी धीरेधीरे ठीक होनी शुरू हो जाती है . 2016 में प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार, लेवेंडर आयल कोलेजन के उत्पादन को बढ़ाकर नए सेल्स को बनाने का काम करता है, जिससे घाव व निशान को कम करने में मदद मिलती है. इस आयल की कीमत भी आपके बजट में है. ये आयल आपको आसानी से 150 – 400 रुपए के बीच मिल जाएगा.

3. स्वीट आलमंड आयल

क्या आप प्रेग्रेंसी के कारण हुए स्ट्रेच मार्क्स से परेशान हैं या फिर वजन को कम करने के कारण आपके पेट या फिर हाथों पर स्ट्रेच मार्क्स की समस्या हो गई है तो आपके लिए स्वीट आलमंड आयल बेस्ट है. क्योंकि ये स्किन को रीजेनेरेट करता है, स्किन टोन को इम्प्रूव करता है. साथ ही इसमें मॉइस्चराइजिंग प्रोपर्टीज होने के साथ विटामिन इ होने के कारण ये स्किन को बेहतरिंग ढंग से रिपेयर भी करता है. बता दें कि जब स्किन मॉइस्चरिजे रहती है तो डैमेज स्किन को रिपेयर होने में काफी मदद मिलती है. ये आपको 200 रुपए से लेकर 500 रुपए तक आसानी से मिल जाएगा.

4. बायो आयल

रिसर्च में यह साबित हुआ है कि बायो आयल स्किन के मोइस्चर को रिटेन करने के साथ स्ट्रेच मार्क्स के दाग को मिटाने में सक्षम होता है. साथ ही ये हाइपरपिगमेंटेशन को भी कम करके एजिंग को कंट्रोल करने का काम करता है. इस आयल की कुछ बूंदों से खिंचाव वाली जगह पर हर रोज 15 मिनट मालिश करने से आपको काफी सुधार नजर आएगा. ये थोड़ा महंगा जरूर होता है, लेकिन ये काफी असरदार होता है.

ये भी पढ़ें- रात को सोने से पहले इस तरह रखें स्किन का ख्याल

5. कोकोनट आयल

कोकोनट आयल में फैटी एसिड्स और माइक्रो न्यूट्रिएंट्स होते हैं , जो स्किन को हील करने, स्किन डिसऑर्डर को ठीक करने के साथ स्किन को अंदर तक मॉइस्चरिजे करने का काम करते है. अगर आप कोकोनट आयल में सीसम आयल को मिलाकर प्रभावित जगह पर कुछ हफ्तों तक लगाते हैं तो स्किन रीजेनेरेट होने के साथसाथ दाग कम होने में मदद मिलती है. ये आपको मार्केट से काफी अफ्फोर्डबल कीमत पर मिल जाएगा. तो फिर स्ट्रेच मार्क्स ऑयल्स से अपनी इस समस्या का समाधान पाएं.

घर पर स्ट्रेच मार्क्स के लिए कैसे बनाएं औयल

शरीर पर दागधब्बे किसे पसंद होते हैं और खासकर के स्ट्रेच मार्क्स. लेकिन प्रेग्रेंसी, मोटापा, बढ़ती उम्र व मांसपेशियों के अचानक बढ़ जाने से स्ट्रेच मार्क्स की समस्या पैदा हो जाती है. जिससे हर कोई छुटकारा पाने के लिए महंगी महंगी क्रीम्स व ऑयल्स का सहारा लेते हैं लेकिन फिर भी रिजल्ट कुछ नहीं निकलता. क्योंकि यह सच्चाई है कि स्ट्रेच मार्क्स की समस्या का 100 परसेंट सोलुशन नहीं है लेकिन काफी हद तक इसे कम किया जा सकता है. ऐसे में हम आपको बताते हैं स्ट्रेच मार्क्स की समस्या को कम करने के लिए कुछ घरेलू उपाय, जिससे कोई साइड इफ़ेक्ट भी नहीं होगा और घर बैठे आपको इस समस्या से काफी हद तक निजात भी मिल जाएगा. इस समबन्द में जानते हैं कोस्मेटोलॉजिस्ट भारती तनेजा से.

1. विटामिन ए आयल स्किन के लिए बहुत अच्छा माना जाता है. क्योंकि ये स्ट्रेच मार्क्स को काफी हद तक कम कर सकता है. लेकिन आपको बता दें कि सिर्फ विटामिन ए के कैप्सूल्स से काम नहीं चलेगा बल्कि आपको उसमें थोड़ा सा बेस आयल डालना पड़ेगा. इसके लिए आप इसमें आलमंड आयल भी डाल सकते हैं. क्योंकि आलमंड आयल स्किन को बेदाग बनाने का काम करता है. इसके लिए आप एक चम्मच आलमंड आयल में एक विटामिन ए के कैप्सूल को डालकर अच्छे से मिलाएं. इस आयल को अगर आप स्ट्रेच मार्क्स वाली जगह पर रोजाना लगाकर 10 मिनट मसाज करेंगे तो धीरेधीरे स्ट्रेच मार्क्स हलके पड़ने लगेंगे.

ये भी पढ़ें- मुहासे कम आत्मविश्वास ज्यादा 

2. स्ट्रेच मार्क्स के लिए विटामिन इ आयल भी बहुत अच्छा होता है. क्योंकि विटामिन इ आयल में स्ट्रेच मार्क्स को कम करने के साथसाथ स्किन को मॉइस्चरिजे करने वाले गुण होते हैं. इसके लिए आप एक चम्मच विटामिन इ आयल लेकर उसमें एक चम्मच कोकोनट आयल का मिलाएं. और अगर एरिया बड़ा है तो आप 2 चम्मच विटामिन इ आयल में 2 चम्मच कोकोनट आयल को मिलाकर अच्छे से मिक्सचर बना लें. फिर उसे स्ट्रेच मार्क्स वाली जगह पर लगाकर 5 – 10 मिनट तक मसाज करें. कुछ ही दिनों में आपको असर दिखने लगेगा.

3. लैवेंडर आयल स्ट्रेच मार्क्स के लिए मैजिक का काम करता है. 2016 की एक रिसर्च के अनुसार, लैवेंडर आयल कोलेजन के प्रोडक्शन को बढ़ाकर हैल्दी सेल्स को बढ़ाने का काम करता है , जिससे हीलिंग की प्रक्रिया को बढ़ावा मिलता है. तभी इस आयल को स्ट्रेच मार्क्स के लिए काफी उपयोगी माना जाता है. इसके लिए आप एक चम्मच ओलिव आयल में 5 बूंदे लैवेंडर आयल की डालकर अच्छे से मिलाएं. इसे आप स्ट्रेच मार्क्स वाली जगह पर लगाकर हलके हाथों से मसाज करके थोड़ी देर के लिए छोड़ दें. ऐसा रोजाना करने पर बदलाव आपको खुद नजर आने लगेगा.

4. साईप्रेस आयल जो घाव को भरने के लिए अनुकूल माना जाता है. लेकिन इसे आप डायरेक्ट अप्लाई नहीं कर सकते बल्कि इसके लिए आपको बेस आयल जरूर चाहिए होता है, ताकि रिजल्ट अच्छे मिलें. तो उसके लिए आप एक चम्मच तिल का तेल लेकर उसमें 8 बूंदें साईप्रेस आयल की डालकर अच्छे से मिलाएं. इसे हर रात को स्ट्रेच मार्क्स पर लगाकर छोड़ दें. कुछ ही हफ्तों में निशान हलके दिखने लगेंगे.

5. एवोकाडो आयल को स्ट्रेच मार्क्स को कम करने के लिए बेस आयल की तरह इस्तेमाल किया जाता है. अकसर एरोमेटिक आयल बनाने के लिए एवोकाडो आयल का इस्तेमाल किया जाता है. रिसर्च के अनुसार एवोकाडो आयल में प्रोटीन, विटामिन ए , डी , इ, फैटी एसिड्स होने के कारण ये सूर्य की हानिकारक किरणों से स्किन को बचाकर कोलेजन को बढ़ाने का काम करता है. साथ ही घावों, निशानो को भी कम करता है. इसके लिए आप एक चम्मच एवोकाडो आयल में 4 बूंदे साईप्रेस आयल की डालकर अच्छे से मिला लें. फिर इसे स्ट्रेच मार्क्स पर लगाकर छोड़ दें. ध्यान रखें रिजल्ट तभी बेहतर मिलेगा जब आप इसका रोजाना इस्तेमाल करेंगे.

6. 2016 की एक रिसर्च के अनुसार, आर्गन आयल स्किन की इलास्टिसिटी को बढ़ाने का काम करता है. जिससे स्ट्रेच मार्क्स काफी हद तक कम हो जाते हैं. इसकी खास बात यह है कि इसके साथ आपको कोई भी बेस आयल मिलाने की जरूरत नहीं होती है. बस सीधे इसे स्ट्रेच मार्क्स पर लगाएं, मसाज करें और कुछ ही दिनों में पाएं रिजल्ट.

7. एलोवेरा को हर तरह की स्किन प्रोब्लम के लिए रामबाण कहा जाए तो गलत नहीं होगा. क्योंकि ये स्किन वाइटनिंग का काम करता है, पिंपल्स को कम करता है, झुर्रियों को कम करने में असरदार माना जाता है, बालों को सोफ्ट बनाता है. यहां तक कि आंखों के नीचे के काले घेरों को भी कम करता है. इसके लिए आप एलोवेरा को बीच से टेरा कांट कर उससे गूदे को निकाल लें. फिर उसे अच्छे से मिला लें. ये आपको जैल की तरह नजर आएगा. फिर इसे स्ट्रेच मार्क्स पर हर रोज लगाकर पाएं बेदाग त्वचा.

ये भी पढ़ें- ट्राय करें ये 5 ईजी होममेड टिप्स, पाएं जिद्दी डार्क सर्कल्स से छुटकारा

8. स्ट्रेच मार्क्स के लिए जब भी आप कोई आयल का इस्तेमाल करें तो इस बात का ध्यान रखें कि स्किन को स्क्रब कर लें. तो इससे जो भी आयल आप लगाएंगे वो ज्यादा असर करेगा. स्क्रब बनाने के लिए आप आलमंड आयल में बारीक़ चीनी को मिलाकर अच्छे से पेस्ट तैयार करें. फिर इससे स्ट्रेच मार्क्स वाली जगह पर अच्छे से स्क्रब करके उसे क्लीन करें. इसके बाद जब भी आप कोई भी आयल अप्लाई करेंगे तो रिजल्ट काफी अच्छे मिलेंगे.

बेटी के जन्म के बाद स्ट्रैच मार्क्स आ गए हैं. मैं क्या करूं?

सवाल-

बेटी के जन्म के बाद मेरे पेट पर स्ट्रैच मार्क्स के निशान पड़ गए हैं. बताएं उन्हें कैसे दूर करूं?

जवाब-

आप स्ट्रैच मार्क्स के निशानों पर वर्जिन कोकोनट औयल लगाएं, जो स्ट्रैच मार्क्स को कम करने में मदद करता है. यह औयल त्वचा के रंग की चमक बनाए रखने में भी सहायक होता है. इस के इस्तेमाल से त्वचा अधिक चमकदार, मुलायम नजर आने लगेगी. इस के अलावा किसी भी प्रकार के निशान के लिए जैसे कभीकभी हमें किसी चोट का निशान पड़ जाता है या फिर खरोंच के निशान हो जाते हैं, यह उन निशानों को भी मिटाने में फायदेमंद साबित होता है. हर रात चेहरे पर वर्जिन कोकोनट औयल को एक नाइट क्रीम के रूप में इस्तेमाल करें.

ये भी पढ़ें- 

स्‍ट्रेच मार्क्‍स शरीर पर पड़ी वह सफेद क्षीण रेखाएं होती हैं जो कि प्रेग्नेंसी के दौरान या फिर अचानक मोटे हो जाने पर पड़ जाती हैं. यह देखने में काफी भद्दा लगता है. ज्यादातर स्‍ट्रेच मार्क्‍स पेट, पीठ या जांघों पर पड़ता है. कई केसों में तो स्‍ट्रेच मार्क्‍स अपने आप ही गायब हो जाते हैं लेकिन ज्‍यादातर केसों में यह नहीं जाते. बाजार में कई तरह के स्‍ट्रेच मार्क्‍स रिमूवर क्रीम और लोशन उपलब्‍ध हैं लेकिन सभी की सभी असरदार हों यह जरुरी नहीं हैं. इन क्रीमों की वजह से शरीर पर साइड इफेक्‍ट भी हो जाते हैं. अच्‍छा होगा कि आप प्राकृतिक चीजों का इस्‍तेमाल कर इन्‍हें हल्‍का करें. आइये जानते हैं ऐसे ही कुछ प्राकृतिक उपाय.

एलो वेरा

स्‍ट्रेच मार्क्‍स पर ताजा एलो वेरा का गूदा मसाज करने से त्‍वचा टोन होती है और इसमें शामिल एंजाइम खराब हो चुकी त्‍वचा को हटा कर दूसरी त्‍वचा को हाइड्रेट करता है.

पूरी खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें- इन 8 आसान उपायों से हटाएं स्ट्रेच मार्क्स

अनलिमिटेड कहानियां-आर्टिकल पढ़ने के लिएसब्सक्राइब करें