अगर आप चाहती हैं कि आप को सौंदर्य प्रसाधनों का फायदा मिले न कि बीमारियां तो जब आप मेकअप के सामान खरीदने जाएं, तो निम्नलिखित बातों का ध्यान जरूर रखें:

1. सिर दर्द

आप को सुंदर बनाने वाला कौस्मैटिक आप को सिर दर्द भी दे सकता है ऐसा आप ने कभी सोचा न होगा. कुछ रसायन जैसे कि डाइजौलिडिनाइल और डीएमडीएम हाइडे्रशन का सौंदर्य प्रसाधनों में काफी इस्तेमाल होता है. ये सिरदर्द और आंखों में जलन का कारण बन सकते हैं. यदि मेकअप उत्पाद इस्तेमाल करने से ऐसे लक्षण दिखें, तो कुछ दिन मेकअप से दूर रहें.

2. बालों की समस्याएं

सुंदर घने बाल ही तो आप की सुंदरता में चार चांद लगाते हैं, तो जाहिर सी बात है हम इन की देखभाल के लिए तरहतरह के शैंपू, सीरम, तेल, कंडीशनर और जैल इस्तेमाल करते हैं. इन सब से आप को मनचाहा सौंदर्य तो मिल जाता पर डैड्रफ, बालों का झड़ना और पतला होना जैसी परेशानियां भी खड़ी हो जाती हैं. लंबे समय तक बालों को कलर करने से बाल भूरे हो जाते हैं. अत: बालों के उत्पादों का प्रयोग करना हो तो ब्रैंडेड उत्पाद ही चुनें.

ये भी पढ़ें- सर्दियों में इन 5 टिप्स से ग्लोइंग रहेगी स्किन

3. ऐक्ने और मुहांसे

ऐक्ने और मुहांसे सुंदरता के सब से बड़े दुश्मन हैं. हमारी चेहरे की स्किन भी बाकी अंगों की तरह सांस लेती है और जब हम क्रीम या लोशन लगाते हैं तो हमारे रोमछिद्र बंद हो जाते हैं जिस से हमारी स्किन सांस नहीं ले पाती और ऐक्ने और मुहांसों की समस्या खड़ी हो जाती है, तो इस के लिए जरूरी है कि रात को मेकअप उतार कर सोएं. आप कितनी भी थकी हों चेहरा साफ करना न भूलें.

4. स्किन ऐलर्जी

अपने कौस्मैटिक को ज्यादा समय तक उपयोगी बनाने के लिए उस में तरहतरह के प्रिजर्वेटिव इस्तेमाल किए जाते हैं. पैराबींस जोकि ब्यूटी प्रसाधनों में बहुतायत में इस्तेमाल होता है, जिस की वजह से रैशेज हो सकते हैं. अगर आप की स्किन सैंसिटिव है तो अगली बार जब आप कोई भी कौस्मैटिक खरीदें तो पैराबीन का लेवल जरूर जांच लें.

5. आंखों की परेशानियां

आंखों और होंठों का मेकअप ही पूरे चेहरे को आकर्षिक बनाता है. आंखों के आसपास का हिस्सा बहुत ही नाजुक होता है इसलिए इस पर कुछ भी सावधानी से लगाना चाहिए. मसकारा जो की आंखों को आकर्षक बनाता है का अत्यधिक प्रयोग स्किन पर असर डालता है. खुजली और इन्फैक्शन की समस्या भी हो जाती है. इस जगह पर कोई भी उत्पाद लगाने से पहले पैच टैस्ट जरूर करें.

6. इनफर्टिलिटी

सुनने में अजीब लगता है पर सच है. ताजगी का एहसास दिलाने वाली परफ्यूम के कण हमारी स्किन में समा जाते हैं जिस से रिप्रोडक्टिव और्गन प्रभावित होते हैं. नपुंसकता की शिकायत भी हो सकती है, इसलिए वक्त रहते संभल जाएं और ऐसे उत्पादों का ज्यादा प्रयोग न करें.

7. रिंकल्स और झांइयां

लंबे समय तक कौस्मैटिक का उपयोग न सिर्फ हमारी स्किन को नुकसान पहुंचाता है, बल्कि इस से असमय बुढ़ापा भी साफ झलकने लगता है. हालांकि मेकअप से इन कमियों को दूर किया जाता है पर मेकअप इन में बढ़ोतरी भी करता है.

8. हार्मोंस पर असर

हमारे शरीर का ऐंडोक्राइन सिस्टम कौस्मैटिक के अत्यधिक उपयोग से गड़बड़ा जाता है. ट्राइक्लोसन जोकि ऐक्ने रिमूवल क्रीम में पाया जाता है हमारे शरीर में समा कर थायराइड को प्रभावित करता है. जिस से सिरदर्द, वजन का बढ़ना और अवसाद जैसी समस्याएं पैदा होने लगती हैं.

ये बी पढ़ें- वेडिंग सीजन में जानें हेयर रिमूवल क्रीम के फायदे

9. कैंसर

जी हां, आप का कौस्मैटिक आप को कैंसर जैसी भयंकर बीमारी भी दे सकता है. वैसे तो ज्यादातर कौस्मैटिक बनाने वाली कंपनियां अपने प्रोडक्ट को अच्छी तरह से टैस्ट कर के ही बाजार में उतारती हैं पर इन का इस्तेमाल लंबे समय तक करना उचित नहीं. ब्रैंडेड उत्पाद ऐक्स्पायरी डेट के साथ आते हैं. उस के बाद उत्पाद का इस्तेमाल कतई न करें.

10. दाग और धब्बे

स्किन संबंधी परेशानियों से बचने का सीधा और सरल उपाय है कि आप नैचुरल, हर्बल या अच्छी ब्रैंड का रसायन रहित कौस्मैटिक ही खरीदें और साथ में उत्पाद के इंग्रैडिऐंट्स चैक करना न भूलें.

Tags:
COMMENT