भारत में 56000 से अधिक मरीजों की संख्या एक चिंताजनक विषय बन चुका है.  संक्रमित मरीजों की संख्या  प्रतिदिन बढ़ती जा रही है. गुरुवार के सुबह तक कुल संक्रमित मरीजों की संख्या  52 हजार 951 मामले दर्ज किए गए हैं. गुरुवार के रात तक ( covid19india.org के अनुसार ) यह संख्या 56,351 पहुंच गया, इसमें 37,682 कोरोना मरीज सक्रिय है , वही 16,776 इलाज के बढ़ ठीक हो गए है. वही 1,889 लोगो का मौत हो चुका है.

संक्रमित के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं, इनमें सब में एक ही सकारात्मक बात है कि देश में  संक्रमण मुक्त से होने वाले व्यक्तियों की संख्या में भी तेजी से बढ़ोतरी हुई है. ठीक होने वाले मरीजों की संख्या 15300 से अधिक पहुंच चुका है. आइए एक नजर डालते हैं , भारत में किस तरह से कोरोना संक्रमण ने अपना पांव पसारा और किस तरह से 56  हजार की सफर तय किया. इन सभी सवालों का जवाब जानते है 05 विन्दु में...

(1) एक से 1 हजार  तक का सफर

संक्रमित व्यक्तियों की कुल संख्या पर सप्ताहिक दृष्टि से नए मामले पर नजर डालें तो एक बात पाते हैं कि यह अचानक से नहीं बढ़ा,  इसकी बढ़ोतरी की दर धीरे-धीरे थी. 30 जनवरी को भारत के केरल राज्य में संक्रमण का पहला मामला पाया गया था. 15 फरवरी को संक्रमित मरीजों की संख्या 3 थी. 2 मार्च तक किया संख्या बढ़कर 6 हो गई. 6 मार्च को संक्रमित मरीजों की संख्या 31 थी.  10 मार्च को संक्रमित मरीजों की संख्या 62 हो गई. 14 मार्च को संक्रमित मरीजों की संख्या 100 पहुंच गई. वहीं  18 मार्च को संक्रमित मरीजों की संख्या 169 थी , चार दिन बाद 22 मार्च को यह संख्या 332 पहुंच गई. उसके चार दिन बाद 26 मार्च को संक्रमित मरीजों की संख्या 727 पहुंच गई. जबकि 30 मार्च को संक्रमित मरीजों की संख्या 1000 पार कर चुका था.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT