‘दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे’, ‘मोहब्बतें’ और ‘रब ने बना दी जोड़ी’ के प्रशंसकों के लिए ‘‘बेफिक्रे’’ नहीं है. इन फिल्मों के मुकाबले अति कमजोर व अति वाहियात फिल्म है ‘बेफिक्रे’. जी हां! प्यार की तलाश के साथरिश्तों व कमिटमेंट के प्रति वर्तमान युग की युवा पीढ़ी की सोच को चित्रित करने वाली फिल्म ‘बेफिक्रे’’ कहानी रहित फिल्म है. पूरी फिल्म किसी रोमांटिक कामेडी सीरियल के कुछ एपीसोड से इतर कुछ नहीं है. फिल्म कीशुरुआती गीत की पक्ति है-‘‘इश्क लबों का कारोबार..’’, पूरी फिल्म इस बात को स्पष्ट नहीं कर पायी, मगर फिल्मकार ने इश्क के नाम पर नंगापन, फूहड़ता, कामुकता, 21 किस परोसकर इश्क का व्यापार करने की कोशिश जरूर की है, वह इसमें कितना सफल होंगे, यह कहना मुश्किल है.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
COMMENT