दिल्ली निवासी बौलीवुड की खूबसूरत अदाकारा हुमा कुरैशी को दर्शक उन की सुंदरता और दमदार अभिनय के साथसाथ वजन के कारण भी जानते हैं. कालेज की पढ़ाई पूरी करने के बाद हुमा थिएटर से जुड़ गईं. 2008 में उन्हें हिंदुस्तान यूनीलीवर के लिए मौडलिंग करने का मौका मिला. उन का फिल्मी सफर अनुराग कश्यप की फिल्म ‘गैंग्स औफ वासेपुर’ से शुरू हुआ. इस फिल्म में हुमा ने मुख्य भूमिका निभा कर बेहतरीन अभिनय की छाप छोड़ी. इस के बाद ‘गैंग्स औफ वासेपुर-2’, ‘लव शव ते चिकन खुराना’, ‘एक थी डायन’, ‘डेढ़ इश्किया’ जैसी फिल्मों में काम कर अपनी अभिनय प्रतिभा से दर्शकों का दिल जीता.

हाल ही में हुमा कुरैशी ने विपुल साडि़यों के नए कलैक्शन को लौंच किया. उसी दौरान उन से रूबरू होने का मौका मिला तो कुछ चटपटे सवालजवाबों का आदानप्रदान हुआ:

आप ने अपने कैरियर की शुरुआत थिएटर व मौडलिंग से की. क्या अब भी आप थिएटर से जुड़ी हुई हैं?

थिएटर मुझे बहुत पसंद है. अगर मौका मिलेगा तो जरूर करना चाहूंगी. पर अब मैं थोड़ी लालची हो गई हूं. अब मुझे फिल्मों में ऐक्टिंग करने में मजा आने लगा है, क्योंकि फिल्मों के जरीए हम ज्यादा लोगों के पास पहुंच पाते हैं.

आप की नजर में सैक्स अपील का मतलब?

मेरे हिसाब से सैक्स अपील का मतलब होता है कि आप किसी चीज को कितना चाहते हैं, आप किसी चीज को कितना पसंद करते हैं, आप उस के कितना पास रहना चाहते हैं. जब हम ट्रैवल करते हैं, तो हमारे फैंस हम से हाथ मिलाते हैं. हमें छूना चाहते हैं. यही सैक्स अपील है. ये कूल हैं और मुझे लगता है सब से कूलैस्ट लोग ही अपीलिंग होते हैं.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT