1 फरवरी को सरकार ने संसद में वित्तीय बजट पेश किया. इस बजट में कई बड़े बदलावों को इंट्रोड्यूस किया गया हैं. पर इस खबर में हम आपको फिक्स्ड डिपौजिट और रेकरिंग डिपौजिट से जुड़ी जानकारियां देंगे. नए बजट में पोस्ट औफिस और बैंकों में फिक्स्ड डिपौजिट और रिकरिंग डिपौजिट से मिलने वाले 40,000 तक के ब्याज को टैक्स फ्री कर दिया है. इस खबर में हम आपको पांच ऐसे बैंकों के बारे में बताने वाले हैं जो तीन साल के फिक्स्ड डिपौजिट पर सलाना 9 फीसदी की ब्याज दर दे रही हैं. जबकि सिनियर सिटिजन के लिए ये ब्याज दर 9.60 का है. अगर आप एफडी या आरडी में निवेश करना चाहती हैं  तो ये खबर आपके काम की है.

आरबीएल बैंक

ये बैंक तीन साल के लिए एफडी में निवेश करने पर 7.60 फीसदी का सलाना ब्याज दे रही है. वहीं सिनियर सिटिजन के लिए ये ब्याज दर 8.10 का है.

आईडीएफसी बैंक

ये बैंक तीन साल की फिक्स्ड डिपौजिट पर 7.50 फीसदी की ब्याज दर देता है, वहीं सिनियर सिटिजन के लिए ये दर 8 फीसदी की है.

आईसीआईसीआई बैंक

आपको बता दें कि इस बैंक में अलग अलग स्लैब के लिए अलग अलग ब्याज दर हैं. एक करोड़ से कम की एफडी पर बैंक अपने ग्राहकों को 8 फीसदी की ब्याज दर दे रही है. वहीं नौन प्रीमैच्योर विड्रौल वाली एक करोड़ रुपये ये अधिक की एफडी पर 7.60 की ब्याज दर है.

डीसीबी बैंक

डीसीबी बैंक तीन साल की फिक्स्ड डिपौजिट पर 8.05 की ब्याज दर दे रही है. वहीं सिनियर सिटिजन के लिए ये दर 8.55 का है.

लक्ष्मी विलास बैंक

यह बैंक तीन साल की एफडी पर 7.75 फीसदी सलाना ब्याद दर दे रहा है. सिनियर सिटिजन के लिए ये दर 8.35 है.

Tags:
COMMENT