बिना सोचे पैसे खर्च करना अमीरों की शान होती है लेकिन मध्यमवर्गीय परिवार के लिए तो कम पैसे में जरूरतों को पूरा करते हुए घर चलाना एक बड़ी चुनौती होती है. यही वजह है कि किसी महीने अगर कुछ बड़ी और महंगी खरीदारी करनी होती है तो घर का बजट पटरी से उतर जाता है और पूरे महीने एडजस्ट करके चलना पड़ता है.

कोई बड़ी खरीदारी जरूरी भी हो और आप नहीं चाहती कि इसका घर खर्च पर ज्यादा असर पड़े या फिर भविष्य में इस सामान की वजह से आपको पछताना पड़े, तो अपनी जेब ढीली करने से पहले अपने आप से ये 5 सवाल जरूर पूछें.

क्या ये मेरे बजट में है?

दरअसल कई बार आप लालच, शौक या किसी से बहकावे में आकर बड़ी खरीदारी कर लेती हैं जिसकी वजह से पूरे महीने आपको अपनी छोटी-छोटी जरूरतों का त्याग करना पड़ता है. इसलिए बेहतर है कि ऐसी खरीदारी से पहले अच्छी प्लानिंग करें अगर सामान बजट में हो तभी खरीदें वरना दो-तीन महीने में पैसे इकट्ठे करके सामान खरीदें.

इस सामान की मुझे भविष्य में जरूरत पड़ेगी?

एक बात हमेशा ध्यान रखें कि जो सामान आप खरीदने जा रहे हैं वो ‘वन टाइम यूज’ न हो. अगर भविष्य में भी आपको उसकी जरूरत पड़ने वाली हो तभी खरीदने का फैसला करें. क्योंकि एक-दो बार की जरूरत के लिए तो आप किसी से मांगकर भी सामान अरेंज कर सकते है.

क्या ये चीज टिकाऊ हैं?

किसी भी चीज की गुणवत्ता बहुत महत्व रखती है. सामान की क्वालिटी को परखना भी एक कला है. कुछ लोग ज्यादे पैसे देकर भी अच्छी क्वालिटी के सामान नहीं खरीद पाती और ठग का शिकार हो जाते हैं. ऐसे में अपने साथ उस सामान के जानकार को साथ ले जाएं या फिर खुद से समझदारी बरतें.

क्या ये इसका वाजिफ मूल्य है?

कई बार ऐसा होता है कि जो सामान आप खरीद कर लाते है वो दूसरी दुकान या वेबसाइट्स पर कम दाम में मिल रही होती है. ऐसे में कुछ भी बड़ा खरीदने से पहले आपको अच्छे से रिसर्च जरूर कर लेनी चाहिए. कई बार तो वेबसाइट्स पर मिल रहे डिस्काउंट्स औफर और कूपन से दाम पर काफी फर्क पड़ जाता है.

इसकी रिटर्न पौलिसी क्या है?

सामान घर लेने जाने की जल्दबाजी में उसकी रिर्टन पौलिसी के बारे में जानकारी लेना न भूलें. इतना ही नहीं सामान की गारंटी और वारंटी के बारे में भी ढंग से पूछताछ कर लेनी चाहिए ताकि अगर सामान वारंटी पीरियड के अंदर खराब होता हैं तो फ्री में उसकी सर्विसिंग या एक्सचेंज कर सकें.

कई ऐसे दुकानदार होते हैं जो चीजे वापस नहीं करते इसलिए इस सब का जायजा खरीदारी के वक्त ही ले लें.

Tags:
COMMENT