जब थायराइड ग्रंथि में थायराक्सिन हार्मोन कम बनने लगता है, तब उसे हाइपोथाइरॉयडिज्‍म कहते हैं. ऐसा होने पर शरीर का मेटाबॉलिज्‍म धीमा पड़ने लगता है और आप अपना वजन नियंत्रित करने में असमर्थ हो जाते हैं.

इस बीमारी से अक्‍सर सबसे ज्‍यादा महिलाएं ही पीड़ित होती हैं. जो लोग हाइपोथाइरॉयडिज्‍म से पीडित हैं, उन्‍हें वजन घटाने में काफी दिक्‍कतों का सामना करना पड़ता है.

मगर डॉक्‍टरों के अनुसार अगर एक स्‍वस्‍थ दिनचर्या रखी जाए तो आप अपना बढ़ा हुआ वजन आराम से घटा लेंगी. आइये जानते हैं कुछ उपाय :

अपना पोषण सुधारिये: आप दिनभर में जो कुछ भी खाते हैं, उसके पोषण का हिसाब रखिये. आपकी डाइट में लो फैट वाली चीजें होनी चाहिये. ऐसे आहार शामिल करें जिसमें आयोडीन हो. आप, बिना वसा का मीट, वाइट फिश, जैतून तेल, नारियल तेल, साबुत अनाज और बीजों का सेवन कर सकते हैं.

मैदा नहीं साबुत अनाज का आटा खाइये: आपको मैदे की जगह पर साबुत अनाज या गेंहू की रोटियां खानी चाहिये. इनमें वसा नहीं होता और यह आपके ब्‍लड शुगर को भी कंट्रोल रखेगा.

पानी का सेवन बढ़ाएं: दिनभर ढेर सारा पानी पियें, जिससे शरीर के अंदर गंदगी जमा ना हो पाए और आपको वजन घटाने में मदद मिले. बाजारू और शक्‍कर मिले ड्रिंक से दूरी बनाएं.

ग्रीन टी पियें: जिन लोगों को हाइपोथाइरॉयडिज्म है, उन्‍हें ग्रीन टी जरुर पीना चाहिये. इसमें एंटीऑक्‍सीडेंट की मात्रा ज्‍यादा होती है और ये फैट को जल्‍द बर्न करती है. साथ ही यह पाचन क्रिया को दुरुस्‍त रखती है और थकान को भी दूर रखती है.

फाइबर खाइये: फाइबर खाने से पाचन क्रिया सही रहती है और कब्‍ज तथा शरीर की सूजन दूर रहती है.

भूखे मत रहिये: कभी अपना ब्रेकफास्‍ट मत छोडिये क्‍योंकि सुबह के वक्‍त आपके शरीर को ढेर सारी ऊर्जा की आवश्‍यकता होती है. अगर आप ब्रेकफास्‍ट छोड़ देंगे तो आपके शरीर का मेटाबॉलिज्‍म धीमा पड़ जाएगा और आपको बाद में तेज की भूख लगेगी जिसकी वजह से आप ढेर सारा खाना खा कर वजन बढा लेंगे.

COMMENT