एक जमाने में घर के बैठक की ही खूबसूरती ही मायने रखती थी. पर बदलते वक्त के साथ ही घर को सजाने के ट्रेंड भी बदल रहे हैं. अब सिर्फ लिविंग रूम ही नहीं पर गेस्ट रूम, स्टडी, बाथरूम और किचन के भी इंटीरियर स्टाइलिश होना चाहिए. आपकी रसोई अब पहले के तरह सिर्फ खाना बनाने की जगह ही नहीं रह गई. आपका किचन आपके रहने के तौर तरीकों को दर्शाता है. अब वो दौर नहीं रहा जब मेहमान लिविंग रूम में ही बैठे रहते थे और खाना खाकर चले जाते थे. किचन भी घर का एक बेहद अहम हिस्सा है.

घर का अहम हिस्सा

कुछ समय पहले तक घर के एक छोटे से कोने को रसोई का रूप दे दिया जाता था. लेकिन अब किचन महज एक कोना ही नहीं रह गया. पहले रसोई में सिर्फ खाना बनाया जाता था और राशन साम्रगी रखी जाती थी. पर अब किचन में ही डायनींग स्पेस बनाया जाता है और यहां बातचीत भी होती है. तो जाहिर सी बात है कि किचन का आकार भी बढ़ेगा.

सिंपल सजावट

किचन अब सिर्फ खाना बनाने और राशन रखने की जगह नहीं है. यहां पूरा परिवार बैठ कर खाना भी खाता है, इसलिए यहां की सजावट भी बहुत सिंपल होनी चाहिए. ज्यादा बर्तन और तड़क-भड़क वाली सजावट से लोगों का ध्यान खाने पर कम रहेगा.

लाइटिंग पर दें खास ध्यान

आपकी रसोई ऐसी हो कि मेहमान को घर पर होने का एहसास हो. मेहमान यहां आए तो उन्हें घर पर होने का एहसास हो. आजकल लोग मोड्यूलर किचन बनवा रहे हैं. आपके किचन में भी स्पेस, मोर्डन फर्नीचर, स्लाइडिंग डोर होना चाहिए. इन्हें लगवाने का चलन इन दिनों जोरों पर है.

बोल उठें दीवारें 

रसोई की दीवारों का रंग ऐसा होना चाहिए जो दिल को सुकून दे. खाने के टेबल पर पूरा परिवार जब साथ बैठे तब खुशी का माहौल होता है, ऐसे में रसोई की दीवारों का रंग ऐसा नहीं होना चाहिए जो आंखों को चुभें. प्रिंटेड टाइल्स से किचन की खूबसूरती बढ़ जाती है.

Tags:
COMMENT