‘‘राजू, जल्दी से तैयार हो जाओ, वरना तुम्हारी बस छूट जाएगी और हां, अपना मास्क पहनना मत भूलना,’’ राजू के पापा ने अपनी टाई बांधते हुए कहा. वे सोच रहे थे, ‘यह प्रदूषण तो हमें मार कर रहेगा.’

राजू अपने कमरे से बाहर निकला. उस ने मास्क भी पहन रखा था. पापा ने भी मास्क पहन रखा था. दोनों ने राजू की मम्मी को ‘बाय’ कहा और बाहर चले आए. राजू के पापा राजू को सोसायटी की गेट के बाहर छोड़ देते थे, जहां से स्कूल बस में राजू चला जाता था. फिर पापा अपने औफिस के लिए निकल जाते.

hindi story for kids

सोसायटी गेट से बस स्टैंड थोड़ी ही दूरी पर था. बस स्टैंड पहुंचने पर पापा ने देखा कि वहां बहुत भीड़ है और शोरगुल भी हो रहा?है. कुछ बेघर लोग स्टैंड के पास खड़े थे और वहां एक बच्चा बेहोश पड़ा था. यह देख कर राजू ने पापा का हाथ छोड़ दिया और भाग कर वहां पहुंच गया.

उस ने देखा कि लेटे हुए बच्चे को सांस लेने में दिक्कत हो रही थी और उस की मां सहायता के लिए चिल्ला रही थी. राजू के पापा भी वहां पहुंचे और सब कुछ देख कर राजू का हाथ पकड़ते हुए बोले, ‘‘राजू, यहां से चलो. तुम्हारी बस आ गई है.’’

राजू ने अपने पापा से उस बच्चे की सहायता करने के लिए कहा. पापा बोले, ‘‘ राजू, हम इन की सहायता नहीं कर सकते क्योंकि हम इन्हें नहीं जानते.’’

राजू ने गिड़गिड़ाते हुए कहा, ‘‘पापा, इसे यदि अपने घर ले चलें तो घर में मौजूद एयर प्यूरिफायर से इसे सांस लेने में अच्छा रहेगा. यहां बहुत अधिक प्रदूषण होने के कारण यह ठीक से सांस नहीं ले पा रहा है और इसी लिए यह बेहोश हो गया है.’’ राजू के पापा ने उस की बात बिलकुल नहीं सुनी और उसे डांटते हुए बस स्टैंड पर ले जा कर छोड़ दिया.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
COMMENT