प्रिया 5वीं क्लास में पढ़ती थी. एक दिन टीचर ने कहा कि सभी छात्रों को स्वास्थ्य पर एक प्रोजैक्ट बना कर क्लास में लाना है.

‘‘मैं मच्छरों द्वारा फैलने वाली बीमारी, उस के उपचार और उस से बचने के उपाय पर एक प्रोजैक्ट बना कर लाऊंगा,’’ अजय बोला.

‘‘मैं इसी तरह का प्रोजैक्ट घरेलू मक्खी पर तैयार करूंगी,’’ राखी बोली.

कुछ बच्चों ने जल प्रदूषण पर, तो कुछ फूड पौइजनिंग पर प्रोजैक्ट बनाने की सोच रहे थे.

पवन बोला, ‘‘मेरे पापा फिट रहने के लिए जिम जाते हैं. मैं उन्हें स्वस्थ रहने के लिए कुछ व्यायाम बताऊंगा और इसी पर मैं अपना प्रोजैक्ट भी बनाऊंगा.’’

प्रिया को कुछ समझ नहीं आ रहा था. वह कुछ अलग करना चाहती थी. ‘‘जिंदगी में हमें अलगअलग तरह की दुर्घटनाएं देखने को मिलती हैं. घायल व्यक्तियों तक डाक्टर के पहुंचने से पहले उन्हें तत्काल इलाज की आवश्यकता होती है. मैं तत्काल उपचार, जीवनरक्षक उपायों तथा फर्स्टएड कैसे दिए जाएं जैसी बातों पर प्रोजैक्ट बनाऊंगी,’’ प्रिया ने अपने दोस्तों से कहा.

प्रिया ने सब से पहले दुर्घटनाओं की एक लिस्ट बनाई. उस के बाद उन दुर्घटनाओं के इलाज के ???बारे में जानकारियां इकट्ठी कीं. उस ने अखबारों, पत्रिकाओं से दुर्घटनाओं से संबंधित चित्र काट कर जमा किए. फिर अपने प्रोजैक्ट पर काम शुरू कर दिया.

एक फोल्डर में कुछ उजले कागज की शीटें रख दीं. बाईं ओर बड़ेबड़े रंगीन अक्षरों में दुर्घटना का नाम लिखा. दाईं ओर उस ने उस दुर्घटना में फर्स्टएड का कैसे इस्तेमाल करना चाहिए, लिख दिया.

उस ने सब से पहले लिखा, ‘यदि कोई बेहोश हो जाए तो क्या करना चाहिए.’ फर्स्टएड में लिखा, ‘सब से पहले बेहोश व्यक्ति के कपड़े ढीले कर देने चाहिए. पैरों को ऊंची जगह पर रखना चाहिए. आसपास लोग नहीं होने चाहिए. ताजी हवा और पानी का छिड़काव चेहरे पर करना चाहिए. जब तक वह व्यक्ति बेहोश है उसे पानी या खानेपीने की चीजें नहीं देनी चाहिए.’

इस के बाद प्रिया ने कुत्ते और बंदर के काट लेने पर फर्स्टएड के बारे में लिखा, ‘काटी हुई जगह को अच्छी तरह धो देने के बाद पीडि़त व्यक्ति को रैबीज के टीके के लिए डाक्टर के पास ले जाना चाहिए.’

इसी तरह उस ने नाक से खून बहने के बारे में लिखा कि मरीज को सीधे बैठ जाना चाहिए. फिर उस की नाक को अंगूठे से दबाना चाहिए और उसे मुंह से सांस लेने के लिए कहना चाहिए.

hindi story for kids priyas project

इसी तरह उस ने लिखा कि यदि कोई कीड़ा काट ले तो उस जगह को साबुन से धो लेना चाहिए फिर बर्फ लगाना चाहिए, ताकि दर्द कम हो और सूजन भी न हो.

इलैक्ट्रिक शौक लगने के बारे में उस ने लिखा कि सब से पहले बिजली के मुख्य स्विच को बंद कर दें. शौक लगने वाले व्यक्ति को छुड़ाने के लिए ऐसी चीजों का प्रयोग करें जिस में करंट लगने का खतरा न हो. इस से मरीज को सांस लेने में दिक्कत हो सकती है. इसलिए हमें उसे फर्श पर लिटा कर कार्डियो पलमोनरी रेससिटेशन देना चाहिए.

hindi story for kids priyas project

कहीं कट जाने के बारे में प्रिया ने लिखा कि सब से पहले साबुन से धो कर उस के ऊपर ऐंटीसैप्टिक क्रीम लगा देनी चाहिए. यदि आवश्यक हो तो उस पर बैंडेज लगाया जा सकता है. यदि लोहे से कटा हो तो 24 घंटे के भीतर टिटनेश की सुई जरूर लगवानी चाहिए.

प्रिया ने लिखा कि घायल व्यक्ति का इलाज प्यार और सावधानी से करें. यदि कोई बहुत अधिक घायल है तो 112 नंबर डायल कर ऐंबुलेंस को बुला लें, ताकि जानकार व्यक्ति जल्दी से जल्दी मरीज का सही इलाज कर सके.

सभी छात्रों ने क्लास में अपनेअपने प्रोजैक्ट्स रखे. प्रिया ने अपने प्रोजैक्ट के द्वारा बहुत महत्त्वपूर्ण जानकारियां दी थीं.

अपने ही रिसर्च और प्रोजैक्ट्स से बच्चों को खुद भी बहुत अच्छीअच्छी जानकारियां मिली थीं. सभी बच्चे अपने स्वास्थ्य के बारे में अच्छी तरह जान पाए थे.

COMMENT