“आज  फिर मम्मी-पापा में लड़ाई शुरू हो गई.  पता नहीं किस बात पर पापा चिल्लाने लगें, तो मम्मी ने बर्तन उठाकर नीचे फेंक दिया और दोनों चिल्लाने लगें. पापा कहने लगें मम्मी की गलती है और मम्मी पापा पर इल्जाम लगाने लगी. मैं बहुत डर गई, क्योंकि पापा मम्मी को मारने लगें। और मम्मी ‘और मारो मुझे और मारो’ बोल कर ज़ोर-ज़ोर से चीखने लगी। मैं डर कर अपने कमरे में जाकर छुप गई. मेरे मम्मी-पापा हरदम छोटी-छोटी बातों पर झगड़ने लगते हैं. तभी समझ में नहीं आता मैं क्या करूँ इसलिए कमरे में जाकर रोते-रोते सो जाती हूँ” यह कहना है 8 साल की श्रेया का. दरअसल, ज्यादा बिजली बिल को लेकर उसके मम्मी-पापा में बहुत झगड़ा हुआ. उसके पापा ने उसकी मम्मी को मारा और बाहर चले गए.  गुस्से में उसकी मम्मी ने पूरे घर की लाइट और पंखा बंद कर दिया. लेकिन लड़ते वक़्त दोनों यह भूल गए कि उसका बहुत ही प्रतिकूल असर श्रेया पर पड़ रहा है. लड़ते समय उन्हें यह भी ख्याल नहीं रहा कि आस-पास कौन हैं ?  बेचारी श्रेया, माँ-बाप की लड़ाई के बीच पीस रही थी. वह इतनी डरपोक बन चुकी है कि उसके माँ-पापा का बातें करना भी उसे झगड़ा ही लगता है. डर जाती है कि पता नहीं कब दोनों झगड़ने लग जाएँ.   

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT