अपनी फीलिंग्स अपने चाहने वाले तक पहुंचाने का सब से बेहतर माध्यम उपहार होते हैं. वैसे तो इन का लेनदेन पूरा साल चलता रहता है, लेकिन जब बात साल के सब से बड़े त्योहार दीवाली की आती है तो चारों ओर रोशनी की जगमगाहट होती है. ऐसे में अपनी जीवनसंगिनी को खास उपहार तो देना बनता है, क्योंकि ऐसे अवसर पर उपहार का महत्त्व और माने और ज्यादा बढ़ जाते हैं. साल भर आप के घरपरिवार को अपनी देखभाल व प्यार से सींचने वाली पत्नी के प्रति आभार व्यक्त करने का दीवाली से बेहतरीन मौका भला और क्या हो सकता है. आइए, जानते हैं इस दीवाली आप अपनी बैटरहाफ को ज्वैलरी गिफ्ट कर के कैसे एक दीवा का रूप व स्टाइल दे सकते हैं. सच मानिए आप के द्वारा दिया गया गहनों का उपहार पहन कर वे दीवाली की पार्टी की न केवल सैंटर औफ अट्रैक्शन बन जाएंगी, बल्कि आप का दिया उपहार आप दोनों के बीच के रिश्ते को भी और मजबूत कर देगा.

ज्वैलरी से बैटर गिफ्ट और कुछ नहीं

यह तो सभी जानते हैं कि गहनों से महिलाओं का खास लगाव होता है. गहनों के साथ उन का एक भावनात्मक जुड़ाव होता है, क्योंकि गहने उन्हें खूबसूरत दिखाने के साथसाथ आर्थिक रूप से संपन्न होने का भी आभास कराते हैं. तो फिर गहनों से बेहतर दीवाली के लिए और कौन सा उपहार हो सकता है?

बैटरहाफ को ज्वैलरी गिफ्टिंग के औप्शन: अगर आप चाहते हैं कि दीवाली की पार्टी पर आप की पत्नी दीवा जैसी दिखे और हर किसी की नजर उस पर ही टिक जाए और उस की नजरें आप पर टिक जाएं तो इस दीवाली अपनी पत्नी को कीजिए कुछ ऐसी ज्वैलरी गिफ्ट जो आप दोनों की दीवाली को स्पैशल बना दे.

ट्राइबल ज्वैलरी: अगर आप अपनी पत्नी को गोल्ड और डायमंड ज्वैलरी से कुछ डिफरैंट ज्वैलरी गिफ्ट करना चाहते हैं तो ट्राइबल ज्वैलरी एक बैटर औप्शन हो सकता है. ज्वैलरी डिजाइनर कीर्ति का कहना है, ‘‘ट्राइबल ज्वैलरी ज्यादा ऐक्सपैंसिव नहीं होती, लेकिन स्टाइल के मामले में इस का कोई मुकाबला नहीं होता. यह हाई सोसायटी की महिलाओं के बीच भी खासी लोकप्रिय है. इसलिए यह दीवाली पर गिफ्टिंग का बैटर औप्शन है. गोल्ड और डायमंड ज्वैलरी को रोज कैरी करना आसान नहीं होता. ऐसे में ट्राइबल ज्वैलरी में सिल्वर, कौपर, लकड़ी, हाथी दांत व स्टोंस तथा कलरफुल शेड्स की स्मार्ट ज्वैलरी लुक को कंप्लीट करती है और स्मार्ट लुक देती है. सब से बड़ी बात यह कि ट्राइबल ज्वैलरी आजकल फैशन में हैं. सिल्वर कौइन्स की विक्टोरियल स्टाइल की ज्वैलरी गिफ्ट कर के इस दीवाली हस्बैंड्स अपनीअपनी पत्नी का दिल जीत सकते हैं. सूरज, चांदतारे, ज्योमैट्रिकल डिजाइंस व ऐनिमल मोटिफ वाली ज्वैलरी वैस्टर्न वियर के साथसाथ इंडियन वियर के साथ भी ट्रैंडी व कूल लुक देती है.’’

ऐंटीक ज्वैलरी: ऐंटीक ज्वैलरी सिल्वर में आती है और यह ट्रैडिशनल लुक देने के साथसाथ मौडर्न टच भी देती है. सिल्वर में बनी ऐंटीक ज्वैलरी की खासीयत यह होती है कि इस में ऐथनिक व पारंपरिक ऐलिमैंट होता है, जो इंडियन वियर को गौर्जियस लुक देता है तो वैस्टर्न वियर को फ्यूजन स्टेटमैंट. सिल्वर में बनी ऐंटीक ज्वैलरी में आप पत्नी को औक्सीडाइज्ड नेकलैस, रिंग, कफ्स और कलर्ड स्टोन जड़ी सिल्वर ज्वैलरी भी गिफ्ट कर सकते हैं. कीर्ति कहती हैं, ‘‘चूंकि डायमंड और गोल्ड महंगा होने के कारण हर बार नहीं खरीदा जा सकता, ऐसे में प्रेशियस सिल्वर ज्वैलरी ऐलर्जी फ्री होने के साथसाथ सस्ती भी होती है. ऐंटीक ज्वैलरी में हस्बैंड्स सिल्वर बेस्ड टर्किश ज्वैलरी भी गिफ्ट कर सकते हैं. सिल्वर बेस्ड इस ज्वैलरी का कलर गोल्डन होता है और यह स्टाइलिश लुक देती है.’’

स्टेटमैंट ज्वैलरी: स्टेटमैंट ज्वैलरी किसी भी महिला के व्यक्तित्व को दर्शाती है. आज स्टेटमैंट ज्वैलरी हर महिला की निजी व फैशनेबल पसंद है. अगर आप चाहते हैं कि आप की पत्नी भी आप के द्वारा लाई गई स्टेटमैंट ज्वैलरी पहन कर अलग व आत्मविश्वास से लबरेज दिखे तो आप उसे स्टेटमैंट ज्वैलरी भी गिफ्ट कर सकते हैं. स्टेटमैंट ज्वैलरी सिर्फ नैकपीस तक ही सीमित नहीं है. अंगूठियां और इयरिंग्स भी इस का अहम हिस्सा हैं. स्टेटमैंट ज्वैलरी का चुनाव करते समय चेहरे की बनावट का ध्यान रखना जरूरी है. अगर पहनने वाली का चेहरा गोल है तो उस के लिए ओवल, रैक्टैंगल व लटकन वाली शेप के इयरिंग्स खरीदें.

कौस्ट्यूम ज्वैलरी: अपनी खूबसूरती और टैक्सचर के कारण कौस्ट्यूम ज्वैलरी क्लासी ज्वैलरी के अंतर्गत आती है. इसे किसी भी आउटफिट के साथ कैरी किया जा सकता है. कम कीमत वाली व अनेक रंगों में मिलने वाली इस ज्वैलरी को मौडर्न व ट्रैडिशनल किसी भी ड्रैस के साथ पहना जा सकता है. ज्वैलरी वुड, बीड्स, आइवरी, रौल्स, जूट, टैराकोटा व अन्य मैटल्स में मिलती है. इंडोवैस्टर्न आउटफिट के साथ ऐथनिक ज्वैलरी में टैराकोटा ज्वैलरी का कोई जवाब नहीं. वहीं बोहेमियन लुक के लिए रंगीन बीडेड ज्वैलरी दी जा सकती है. बीड्स के कई मैटीरियल और रंगों में मिलने के कारण इसे हर ड्रैस के साथ पहना जा सकता है.

पिंक या रोज गोल्ड: इंटरनैशनल ट्रैंड में आजकल पिंक गोल्ड पर डायमंड का काम प्रचलित है. अगर आप बिना डायमंड वाली ज्वैलरी चाहते हैं तो गोल्ड पर सैल्फ डिजाइन या टैक्सचर्ड डिजाइन वाली ज्वैलरी ले सकते हैं और अगर डायमंड या प्रेशियस स्टोंस की डिजाइनिंग वाली ज्वैलरी लेना चाह रहे हैं तो इरेग्यूलर डिजाइन की बड़े स्टोन वाली ज्वैलरी लें, जिस में स्टोंस की शेप एकजैसी न हो कर अलगअलग आकार की हो. पिंक गोल्ड अब हौलीवुड स्टार्स से ले कर बौलीवुड स्टार्स तक में पौपुलर है. डायमंड और दूसरे प्रेशियस स्टोंस की कारीगरी पिंक गोल्ड को अटै्रक्टिव लुक देती है. इसलिए अगर आप भी अपनी बैटरहाफ को इन फैशनेबल दीवा जैसा देखना चाहते हैं तो इस दीवाली गिफ्ट कर सकते हैं पिंक गोल्ड ज्वैलरी. दीवाली पर अनेक कंपनियां गहनों पर विशेष छूट देती हैं तो आप भी इस मौके का फायदा उठा कर अपनी पत्नी की पसंद को ध्यान में रखते हुए आधुनिक डिजाइनों और परंपरागत गहनों का बेजोड़ तालमेल पेश कर सकते हैं.

ज्वैलरी खरीदते समय

  1. ज्वैलरी हमेशा विश्वसनीय दुकान से ही खरीदें.
  2. ज्वैलरी लेने से पूर्व उस के मेकिंग चार्जेस व अन्य टैक्स आदि के बारे में पता कर लें.
  3. ज्वैलरी की शुद्धता व रिप्लेसमैंट पर मिलने वाली कीमत जान लें.
  4. खरीदे गए गहनों का बिल लेना न भूलें.
  5. यह ठीक है कि इस तरह की सजावटी ज्वैलरी को बेचने से पैसे नहीं मिलते, पर यह चिंता का विषय नहीं क्योंकि आजकल इस तरह की नौबत कम आती है कि रोजमर्रा पहनने वाली ज्वैलरी बेची जाए. आप आकर्षक लगें, यह जरूरी है. निवेश के लिए सा दूसरी जगह लगाएं, ज्वैलरी में नहीं क्योंकि इस में जांच और डिजाइनिंग चार्ज में बहुत कुछ लगाना पड़ जाता है.
  6. ज्वैलरी चाहे आर्टीफिशियल ही हो, यह खयाल रखें कि उस में देवीदेवताओं के चित्र न हों, क्योंकि इस प्रकार की ज्वैलरी अंधविश्वासी बनाती है और इसे फेंकने में भी पाखंड की बातें आड़े आती हैं. अपने सजने में अपनी मौलिकता व सोच दर्शाएं, घिसीपिटी रिवाजगी नहीं.
COMMENT