हमारे देश में शादी केवल दो लोगों का मेल नहीं होता है, जबकि इसे दो परिवारों का मेल माना जाता हैं. जिसमें कई नए रिश्ते बनते हैं और उनको निभाने की जिम्मेदारी भी आती हैं. खासतौर से लड़कियों को अपने नए रिश्तों पर ज्यादा ध्यान देने की जरूरत होती है कि किस तरह से वह उन्हें निभा पाती हैं.

ऐसा ही एक अनूठा रिश्ता होता है ननद-भाभी का जो दोस्ती के रिश्ते के लिए भी जाना जाता हैं. जी हां, अगर आप इस रिश्ते में कुछ तरीके अपनाती है तो यह रिश्ता और मजबूत होता हैं. तो आइये जानते हैं कि किस तरह से ननद-भाभी का रिश्ता बनता है मजबूत.

घर के काम में करें मदद

भले ही आप अपना काम करके फ्री हो गई हो, यह कभी मत सोचो कि यह उसका ही काम है और आप ही खत्म करें बल्कि उस वक्त उसकी काम में हाथ बटाएं और उससे बाते करें.

ननद की बाते न करें शेयर

अगर आपकी ननद आपसे फ्रैंड के तरह रहती है और आपसे सभी पर्सनल बाते शेयर करती है तो आप उसकी बातों को कभी भी घर में किसी से भी शेयर न करें. अगर आपको उनकी कुछ बातें गलत लगती हो तो आप ही उसे प्यार से समझाएं. उसे यह भी न लगे कि आप उसे रोक-टोक करती है.

nanad bhabhi relationship

गिफ्ट जरूर दें

गिफ्ट लेना तो सभी को बहुत पसंद होता है. अगर आप अपनी ननद को खुश करना चाहती है तो जब कभी आप मार्किट जाती है तो उसके लिए कुछ न कुछ खरीद कर जरूर लाएं. खास कर जब उसका बर्थडे हो उसे उसकी पसंद का गिफ्ट दें.

अपनी चीजें करें शेयर

अगर आप अपनी ननद को फैन बनाना चाहती है तो अपनी खरीदी कोई भी नई चीज सबसे पहले उसे ऑफर करें. जिस से उसे लगेगा कि आप उसे दिल से चाहती है और आप अपनी चीजों को पर्सनल नहीं समझती. इस तरह वह भी आपसे अपनी कोई चीज नहीं छुपाएंगी.

nanad bhabhi relationship

पति की बुराई न करें

आपके पत्ति में जितनी भी बुराईयां हो पर अपनी ननद के सामने कभी न बोलें क्योंकि कोई भी बहन अपने भाई की बुराई नहीं सुनती. वह आपकी बातें अपने भाई को बता सकती है जिससे आपके रिश्ते में दरार पड़ सकती है. इससे तो बेहतर है आप ही उन्हें शांति से समझाएं.

Tags:
COMMENT