जहां से चले थे: पेरेंट्स की मौत के बाद क्या हुआ संध्या के साथ

संध्या बचपन से ही दबंग और दंभी स्वभाव की लड़की थी, इसलिए शादी के लिए आए अच्छे घरों के रिश्तों में मीनमेख निकाल कर बड़ी बेरुखी से ठुकरा देती. लेकिन मातापिता की मौत के बाद उस का झूठा दंभ फीका पड़ने लगा था.

गृहशोभा डिजिटल सब्सक्राइब करें
मनोरंजक कहानियों और महिलाओं से जुड़ी हर नई खबर के लिए सब्सक्राइब करिए
अनलिमिटेड कहानियां-आर्टिकल पढ़ने के लिएसब्सक्राइब करें