‘‘बसइस घर के सामने ही,’’ कावेरी के निर्देश पर ड्राइवर ने कैब रोक दी. टैक्सी से उतर कर बैग कंधे पर लटकाए लंबेलंबे डग भरती हुई वह गेट खोल कर दरवाजे के सामने जा खड़ी हुई, ‘कुछ दिन पापा के साथ बिता लूं, फिर सब दुखदर्द भूल जाने की नई सी उमंग ले कर ही वापस लौटूंगी,’ सोचते हुए कावेरी ने एक नकली मुसकान चेहरे पर चिपका डोरबैल बजा दी.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT