गुजरा प्यार जब अतीत की शक्ल ले कर डराने लगे, राह में कांटे बिछाने लगे तो वह प्यार नहीं जनून बन जाता है. मुग्धा की जिंदगी भी ऐसे ही प्यार व जनून के बीच डोल रही थी.
अनलिमिटेड कहानियां आर्टिकल पढ़ने के लिए आज ही सब्सक्राइब करेंSubscribe Now