लेखक- शमा खान

4 शादियां कर के सईद मास्साब ने अपनी जिंदगी को रंगीन बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी थी, लेकिन अपनी मनमरजी पर जीने वाले मास्साब भूल गए थे कि खुदगर्जी की सजा उन्हें कभी न कभी तो भुगतनी ही पड़ेगी.

इस बार मायके गई तो छोटी बहन ने समाज की खासखास खबरों के जखीरे में से यह खबर सुनाई, ‘‘बाजी, आप के सईद मास्साब की मृत्यु हो गई.’’

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT