सुषमा और राधा ने अपने जीवन में बहुतकुछ साथसाथ किया था. दोनों की गृहस्थी, बच्चे, कामकाज समानांतर गति से चले थे लेकिन आज जब दोनों वर्षों बाद मिलीं तो दोनों के हालात में कितना फर्क था.
अनलिमिटेड कहानियां आर्टिकल पढ़ने के लिए आज ही सब्सक्राइब करेंSubscribe Now