जब आपके पीरियड्स चल रहे हों तो जाहिर है आप सफर पर जाने से बचती हैं. लेकिन अपने प्लान को इस तरह कैंसल करना ही पर्याय नहीं है. इसके बजाय आप कुछ टिप्स को अपनाएं और अपने वैकेशन को एन्जौय करें.

– सफर के दौरान इस्तेमाल किए गए पैड और टिश्यू पेपर फेंकने के लिए जगह न मिलने पर कई बार आपको उन्हें अपने बैग में रखना पड़ सकता है. इसलिए हमेशा अपने साथ कुछ टिश्यू और प्लास्टिक बैग साथ रखें. साथ ही एक सैनिटाइजर भी जरूर रखें. इसकी जरूरत बार-बार पड़ेगी.

– बार-बार पैड चेंज करते रहें. इसलिए जहां भी रेस्टरूम दिखे वहां जाकर चेक करें और पैड बदलें. जब भी  वाशरूम जाएं पानी और टौयलेट पेपर से अपने प्रायवेट पार्ट्स की सफाई करें. वेट वाइप का इस्तेमाल न करें क्योंकि ज्यादातर वेट वाइप्स में अल्कोहल और फ्रेगनेंस का इस्तेमाल होता है. जिनकी वजह से जलन और सूजन हो सकती है.

– बहुत अधिक तकलीफ होने पर पीरियड्स के समय पेन किलर खाने से आराम मिल सकता है.   पीरियड्स में सफर के समय तकलीफ होने पर आप पेनकिलर खा सकती हैं. लेकिन सफर पर जाने से  पहले अपने डौक्टर से बात करें.

– पेट फूलने और मरोड़ों की समस्या के बीच शायद ही सफर के दौरान आप जींस पहनना चाहें. इसलिए ऐसे कपड़े पहनें जिसमें आपको सुविधा और आराम महसूस हो. इसका मतलब यह बिल्कुल नहीं कि आप पैजामा पहनकर घूमें. आप स्टाइलिश और आरामदायक कपड़े पहन सकती हैं जैसे योग पैंट या लूज गाउन. कौटन अंडरगार्मेंट पहनें ताकि प्रायवेट पार्ट्स में अधिक पसीना आए तो वह सोख लेगा और रैशेज भी नहीं होंगे. हां एक्स्ट्रा पैड और अंडरगार्मेंट भी साथ जरूर रखें.

–  पीरियड्स के समय बार-बार आपका दिल कुछ चटपटा या कुरकुरा खाने का होगा. लेकिन जंक फूड और नमकीन चीजें आपका पीएमएस और पेट फूलने की समस्याएं बढ़ा देंगे. पीरियड्स के दौरान केला, खजूर, अंगूर और आम जैसे फल खाना चाहिए. इसलिए चाहे जहां भी अपने साथ कुछ फल जरूर रखें. साथ ही हाइड्रेट रहने के लिए ढ़ेर सारा पानी पीएं.

Tags:
COMMENT