सुंदर और स्वस्थ आंखें चेहरे की शोभा होती है. अगर आपकी आंखों की बनावट सुंदर और आकर्षक है तो आप बहुत खुशकिस्मत हैं. लेकिन अगर ऐसा नहीं है, तो भी परेशान होने की जरुरत नहीं है, क्योंकि उचित देखभाल और सही मेकअप के जरिये उन्हें भी आकर्षक और खूबसूरत बनाया जा सकता है.

ऐसे रखें आंखों का ख्याल

-हफ्ते में एक दिन आंखों पर ठंडे पानी में टी बैग को डुबोकर आंखों पर 10-15 मिनट तक रखें.

-खीरे के पतले गोल टुकड़े करके फ्रिज में आधे घंटे के लिए रख दें. फिर लेट कर अपनी आंखों पर एक टुकड़ा रखकर बीस मिनट तक आंखें बंद करके आराम करें. फिर गुलाबजल में रुई भिगोकर आंखों पर लगाएं. एक मिनट बाद ठंडे पानी से छीटें मारकर आंखें साफ करें. ऐसा करने से आंखों में चमक आएगी और आपको बहुत आराम मिलेगा.

-आंखों के नीचे काले घेरे हैं तो एक कच्चे आलू को कद्दूकस कर लें, इसे अपने आंखों के काले घेरों पर लगाएं. आधे घंटे बाद ठंडे पानी से धो लें और मायस्चराइजर लगा लें.

पानी में एक चुटकी बोरिक एसिड मिलाकर उबालें. ठंडा करके इस पानी से आंखें धोएं. ऐसा करने से आंखों को आराम व ठंडक मिलेगी.

-आंखों की सूजन दूर करने के लिए एक कप गर्म पानी में एक टी स्पून नमक मिलाकर दो छोटे कौटन पैड डुबोएं और हल्का नीबू निचोड़कर आंखों पर तब तक रखें जब तक कि पैड ठंडा न हो जाए. फिर ठंडे पानी से आंखें धो लें.

-आंखों पर एंटी रिंकल क्रीम लगाएं. इसके लिए कैस्टर औयल, औलिव औयल और पेट्रोलियम जेली को बराबर मात्रा में अच्छी तरह मिलाकर एक जार में रख लें. इसे रोजाना आंखों पर और उसके आसपास लगाकर हल्की मालिश करें.

-रात में सोने से पहले आंखों के नीचे अंडर आई क्रीम या जेल लगाना ना भूलें.

-धूप में बाहर जाना हो तो सनब्लाक और सनग्लासेज लगाना न भूलें.

एक्सरसाइज भी है जरुरी

फिटनेस एक्सपर्ट के मुताबिक आंखों को आराम देने और सुंदर बनाने के लिए नियमित एक्सरसाइज भी जरुरी है. इसके लिए एक शांत कमरे में लाइट बंद करके अपने दोनों हाथों को आंखों पर रखें. पांच मिनट तक आंखें बंद करें. फिर आंखें खोलकर फैलाएं और अंधेरे में देखने की कोशिश करें. आंखों को आराम मिलेगा.

आराम की मुद्रा में बैठ जाएं. अपनी आंखों को गोलाई में घुमाएं. पहले एक दिशा में फिर दूसरी दिशा में.

अपनी चार उंगलियों को आंखों के सामने लाएं फिर धीरे-धीरे दूर ले जाएं. यह प्रक्रिया कम से कम पांच बार दोहराएं.

आप जब भी बाहर जाएं तो पेड़-पौधों को ध्यान से देखती रहें. हरियाली या हरा रंग आंखों को बहुत सुकून देता है.

अगर आपकी आंखें कमजोर हैं और आप चश्मा लगाती हैं तो काम के हर एक घंटे बाद चश्मा उतार कर आंखें बंद करके पांच मिनट के लिए उन्हें आराम दें.

आई पैक

सौंदर्य विशेषज्ञ कहती हैं कि आंखों के नीचे काले घेरे, सूजन और झुर्रियां दूर करने के लिए सबसे जरुरी है पर्याप्त नींद, पर्याप्त पानी, संतुलित आहार, अल्ट्रा वायलट किरणों से बचाव और तनावमुक्त रहना. इसके अलावा आप इस आई पैक का भी इस्तेमाल कर सकती हैं-

एक टी स्पून दूध और एक टी स्पून खीरे का रस मिलाकर फ्रिज में रखकर ठंडा करें. इसमें रुई भिगोकर आंखों पर दस मिनट के लिए रखें. फिर ठंडे पानी से धोकर आंखें साफ कर लें.

कैसा हो मेकअप

आंखों के मेकअप के लिए एक महत्वपूर्ण बात यह है कि भौहें (आईब्रोज) सही आकार में बनी होनी चाहिए. भौहें बनाने का सबसे सही समय नहाने के बाद होता है. भौहें सही आकार में और साफ-सुथरी न हों तो आई मेकअप बहुत खराब लगता है. भौहें नेचुरल रखें. ‘सी’ आकार वाली और बेहद पतली भौहें चलन से बाहर हैं. जो बाल आकार से बाहर हों, बस उन्हीं फालतू बालों को हटवाएं.

चेहरे पर बेस लगाने के बाद सबसे पहले आंखों का मेकअप किया जाना चाहिए. आइशैडो से शुरुआत करें. आजकल लाइट शिमरी कलर्स चलन में हैं. पलकों पर पहले अपने कपड़े और त्वचा के रंग से मेल खाता हुआ आइशैडो ब्रश की सहायता से लगाएं. फिर थोड़ा हाइलाइटर आइशैडो में मिलाएं. इसके बाद आइलैशेज को कर्ल करें. वाल्यूमाइजिंग या ट्रांस्पेरेंट मस्कारा के दो कोट लगाएं.

सबसे अंत में आइलाइनर से आंखों को खूबसूरत आकार दें. आंखों का मेकअप करने के बाद अपनी आइब्रोज को कोंब करें. अंत में आइब्रो पेंसिल से उन्हें हल्का गहरा करें.

मेकअप उतारना न भूलें

रात में आंखों का मेकअप उतारना न भूलें. अगर आप कृत्रिम बरौनियां (आइलैशेज) लगाती हों तो सबसे पहले उन्हें हटाएं. फिर क्लींजिंग जेल और गीली रुई की सहायता से आईलाइनर और आइशैडो हटाएं.

Tags: