7केश हमारे स्टाइल स्टेटमैंट होते हैं. ऐसे में उन का गिरना एक कहर की तरह होता है. लाइफस्टाइल और खानपान के कारण जब केशों को उचित पोषण नहीं मिल पाता तो वे समय से पहले गिरना शुरू हो जाते हैं. जबकि खूबसूरत व मजबूत केश न केवल सौंदर्य में वृद्धि करते हैं वरन आत्मविश्वास भी बढ़ाते हैं.

दिल्ली प्रैस भवन में गृहशोभा द्वारा आयोजित फेब मीटिंग में वीएलसीसी की कौस्मैटोलौजिस्ट आर्शी प्रकाश ने गिरते केशों को मजबूत करने वाली केराथेरैपी के बारे में जानकारी दी. आइए जानें कि क्या है केराथेरैपी व इसे कैसे किया जाता है-

क्या है केराथेरैपी

केराथेरैपी स्पा से अलग एक स्कैल्प ट्रीटमैंट है जो जड़ों से टूटते केशों के लिए एक वरदान है. इस में प्रयोग किए गए सभी उत्पाद नैचुरल फूड फौर हेयर हैं, जैसे लैमन ग्रास औयल, ऐरोमैटिक औयल, मेथीदाना, आंवला, शिकाकाई, चाइनीज हर्ब आदि. ये सभी उत्पाद केशों को मजबूती देने के साथसाथ उन्हें शाइन व नमी भी देते हैं. भागदौड़ भरी लाइफस्टाइल, प्रदूषण, स्ट्रैस आदि से गिरते केशों के लिए यह थेरैपी बहुत ही लाभदायक है.

केराथेरैपी की प्रक्रिया

हेयरफाल ट्रीटमैंट की इस थेरैपी को शुरू करने से पहले ग्राहक के केशों को शैंपू किया जाता है. अगर केशों में डैंड्रफ हो तो ऐंटीडैंड्रफ शैंपू और अगर केश गिर रहे हों तो ऐंटीहेयरफाल शैंपू का प्रयोग करें.

शैंपू के बाद कंडीशनर का प्रयोग न करें. केशों को अच्छी तरह सुखाने के बाद ओजोन ट्रीटमैंट दें. इस ट्रीटमैंट का उद्देश्य जर्म्स व बैक्टीरिया को मार कर स्कैल्प को हेयरफाल ट्रीटमैंट के लिए तैयार करना होता है. इस ट्रीटमैंट से स्कैल्प के रोमछिद्र खुल जाते हैं. यह ट्रीटमैंट 5 से 10 मिनट तक देना चाहिए.

इस के बाद केशों को अलगअलग सैक्शन में बांट लें और सब से पहले अमीनो प्रोटीनयुक्त जैल को उंगलियों से स्कैल्प पर मसाज करते हुए लगाएं. मसाज हलके से करें और जैल का प्रयोग सही मात्रा में करें.

एक किट से जैल को 10 बार प्रयोग किया जा सकता है. इसे केशों पर न लगाएं. इस मसाज से स्कैल्प रिलैक्स होती है और केशों की जड़ों को मजबूती मिलती है. औयल जैल से मसाज के बाद सिर में मौजूद औयल से केशों व स्कैल्प की मसाज करें. इस मसाज से केशों को सौफ्टनैस व मजबूती मिलती है, उन की सही ग्रोथ होती है. ध्यान रहे कि औयल पूरी तरह स्कैल्प व केशों में समाए. अगर आप ने कलरिंग या रिबौंडिंग कराई है तो भी यह थेरैपी आप के लिए फायदेमंद होगी.

हर सिटिंग में 10 एमएल औयल का प्रयोग करें. मसाज के बाद केशों को 5-7 मिनट तक स्टीम दें. इस से तेल केशों व स्कैल्प में अच्छी तरह समा जाएगा.

पैक

मेथीदाना, आंवला, शिकाकाई, चाइनीज हर्बयुक्त यह पैक केशों को मजबूती देने के साथसाथ उन्हें नमी भी देगा. इस पैक का उद्देश्य सिर की त्वचा के खुले रोमछिद्रों को बंद करना भी होता है. पैक को सिर्फ सिर की त्वचा पर 20 मिनट तक लगाएं.

क्लींजर

पैक लगाने के 20 मिनट बाद किट में मौजूद क्लींजर से केशों को धो लें. इस क्लींजर में हानिकारक कैमिकल्स नहीं होते. यह पूरी तरह नैचुरल होता है. केशों को क्लींजर से धोने के बाद शैंपू करने की आवश्यकता नहीं होती. यह थेरैपी आप के केशों को मुलायम व मजबूत बनाने के साथसाथ आप को रिलैक्स भी करती है