गृहशोभा विशेष

कभी रिमझिम बारिश तो कभी पसीने वाली गर्मी, कभी तेज धूप तो कभी उमस भरा मौसम मानसून के इस बदलते मिजाज का सबसे ज्यादा असर आपकी त्वचा पर होता है. अपनी त्वचा को मानूसन के असर से बचाना चाहती हैं, तो त्वचा को सूखा एवं साफ रखें. अपनी त्वचा को मानसून में तरोताजा व जवां बनाएं रखने के लिए जितना हो सके ब्यूटी प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल कम करें व ये उपाय अपनाएं.

एंटी-फंगल क्रीम जरूर रखें

इन दिनों संक्रमित पानी, कीचड़ आदि के संपर्क में आने से एथलीट फुट, रिंगवर्म या त्वचा में खुजली की समस्या ज्यादा रहती है. ऐसे में अपनी त्वचा को लंबे समय तक भीगे रहने से बचाएं.

हल्के गुनगुने पानी से नहाएं. फंगल इंफेक्शन से बचने के लिए एंटी-फंगल क्रीम लगाएं. नहाने के बाद पंखे की हवा में शरीर को अच्छी तरह से सुखाएं. पैरों की अंगुलियों के बीच के हिस्से और अंडरआर्म्स को तौलिये से पोंछकर सुखा लें.

संक्रमण से बचने के लिए अंडर आर्म्स व पैरों की अंगुलियों के बीच एंटी-फंगल पाउडर प्रयोग कर सकती हैं.

हैवी मेकअप न करें

इन दिनों हैवी मेकअप न करें. मेकअप करना ही है, तो वाटरप्रूफ व अच्छे ब्रांड वाले सौंदर्य उत्पादों का प्रयोग करें. सनस्क्रीन लोशन लगाएं. त्वचा की नमी बरकरार रखने के लिए दिन में 8-10 गिलास पानी पिएं.

वाटर बेस्ड कौस्मेटिक्स ही लें

चेहरे को मेडिकेटेड फेसवाश से दिन में 2-3 बार धोएं, ताकि त्वचा के रोमछिद्रों में जमी धूल और तेल साफ हो सके. अगर आप टोनर्स प्रयोग करते हैं, तो नॉन-अल्कोहलिक टोनर्स प्रयोग करें. इससे आपकी त्वचा का पीएच लेवल बैलेंस रहेगा.

त्वचा को मुलायम रखने के लिए वाटर बेस्ड मौइस्चराइजर या गुलाब जल का इस्तेमाल करें. बादाम का तेल भी प्रयोग कर सकती हैं.

ऐसे हटाएं डेड स्किन

चेहरे से डेड स्किन को रिमूव करने के लिए सप्ताह में एक बार अखरोट या स्ट्रोबेरी युक्त स्क्रब का इस्तेमाल करें. इसके बाद चेहरे पर नींबू या नीम युक्त फेस पैक लगा सकते हैं.

त्वचा को इंफेक्शन से बचाने के साथ यह पैक ब्लैकहेड्स/व्हाइटहेड्स को भी कम करता है. इसके अलावा स्ट्रोबेरी का भी प्रयोग चेहरे पर कर सकती हैं. इसके लिए आधा कप स्ट्रोबेरी को बारीक पीस लें. इसमें एक कप दही, डेढ़ चम्मच शहद मिलाएं. इस पेस्ट को रोजाना चेहरे पर लगाएं. इससे मानसून में भी आपकी त्वचा मुलायम और चमकदार बनी रहेगी.

आप इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं