फिल्म ‘‘सिमरन’’ के प्रमोशन के दौरान पत्रकारों से बात करते हुए कंगना रनौत ने खुद को दबंग, निडर और बोल्ड नारी बताते हुए रितिक रोशन के साथ साथ अपने पहले पूर्व प्रेमी आदित्य पंचोली पर हमला बोलते हुए उनकी पत्नी व बेटी पर भी अनापशनाप बयानबाजी की थी. उस वक्त कंगना के साथ साथ उनकी बहन रंगोली भी इस खेल में कूद पड़ी थी.

कंगना और रंगोली ने सभी मर्यादाओं का उल्लंघन करते हुए अपने इस युद्ध को अति निम्न व घटिया स्तर पर ले जा कर खूब चर्चा बटोरी थी. उस वक्त शायद कंगना रनौत या उन्हें सलाह देने वाले उनकी पीआर टीम को लग रहा था कि इससे उनकी फिल्म ‘‘सिमरन’’ को दर्शक मिल जाएंगे. तथा इसके बाद बौलीवुड में हर कोई उनसे डरकर रहेगा और वह अपनी मनमानी करती रहेंगी. पर उस वक्त वह यह भूल गयी थीं कि इसके कई दुष्परिणाम भी हो सकते हैं.

कंगना रनौत की बेबाकी के चलते उनकी फिल्म ‘‘सिमरन’’ को फायदा नहीं हुआ. क्योंकि कंगना ने सबसे बड़ी गलती यह की कि फिल्म ‘सिमरन’ का प्रचार करते हुए वह अपने निजी जीवन के दुश्मनों पर तीखें बाण छोड़ती रहीं, मगर फिल्म ‘सिमरन’ पर बात नहीं की. परिणामतः फिल्म ‘सिमरन’ दर्शकों तक पहुंची नहीं. उपर से अति घटिया फिल्म के चलते इस फिल्म का बाक्स आफिस पर बंटाधार हो गया. इतना ही नहीं ‘रंगून’ और ‘सिमरन’ के बुरे हश्र के बाद कंगना रनौत के करियर पर कई सवालिया निशान लग गए हैं.

तो दूसरी तरफ कंगना रनौत ने जो कुछ किया, उसका दुष्परिणाम यह सामने आया है कि अब आदित्य पंचोली और उनकी पत्नी जरीना वहाब ने एक साथ दो वकीलों जमीर खान और श्रेया श्रीवास्तव की सेवाएं लेते हुए कंगना रनौत के खिलाफ आपराधिक यानी कि क्रिमिनल और सिविल डिफेमेशन नोटिस भेजी है. आदित्य पंचोली का  दावा है कि कानूनी नियमों के तहत ही उन्होंने यह नोटिस कंगना रनौत को ‘स्पीड पोस्ट’ से भेजी है.

गौरतलब है कि कंगना रनौत ने जब बौलीवुड में कदम रखा था, उस वक्त उन्हें आदित्य पंचोली ने ही सहारा दिया था. उस वक्त कंगना रनौत भी आदित्य पंचोली को अपना प्यार बताते हुए हर जगह उनके साथ घूमते हुए नजर आती थीं. बकौल कंगना रनौत उसी दौरान जरीना वहाब, कंगना को संजय लीला भंसाली सहित कई फिल्मकारों से मिलवाने ले गयी थी. कुछ वर्षों बाद कंगना और आदित्य पंचोली के बीच जमकर मारा मारी हुई थी. फिर कंगना ने आदित्य पंचोली का साथ छोड़कर शेखर सुमन के बेटे व अभिनेता अध्ययन सुमन के साथ प्यार की पींगे बढ़ाई थी.

कंगना ने हाल ही में आदित्य पंचोली पर आरोप लगाया था कि आदित्य पंचोली ने उनका शोषण किया और उन्हें अपने घर पर बंदी बनाकर रखा था. इतना ही नही कंगना का आरोप है कि उस वक्त उन्होंने जरीना वहाब से मदद मांगी थी और आदित्य पंचोली के खिलाफ पुलिस में एफआरआई दर्ज करायी थी.

बहरहाल, कंगना और आदित्य पंचोली का यह युद्ध अब कानूनी लड़ाई में बदलने जा रहा है. आदित्य पंचोली कहते हैं, ‘‘मैं जो कुछ कर सकता था, वह कर दिया है. मैंने अपना कदम आगे बढ़ा दिया है. अब कंगना जो चाहें मेरे इस कदम पर अपना नया कदम उठा सकती हैं.’’