गृहशोभा विशेष

अभिनेता गौरव चोपड़ा पिछले 10 सालों से टीवी इंडस्ट्री का एक जाना माना नाम हैं. टीवी जगत में उन्हें पहचान धारावाहिक ‘लेफ्ट राईट लेफ्ट’ से मिली. इसके बाद धारावाहिक ‘उतरन’ में उन्होंने काफी अच्छा काम किया और कई अवार्ड भी जीते. गौरव अपनी गर्लफ्रेंड के साथ जुड़ाव और अलगाव के लिए हमेशा चर्चा में रहें, लेकिन अंत में साल 2018 के शुरू में उन्होंने अपनी पुरानी गर्लफ्रेंड हितिषा छेरांदा से शादी की. ‘फिफ्टी डीग्री’ के ब्रांड अम्बेसेडर बने गौरव से बात हुई पेश है अंश.

किसी भी ब्रांड को एंडोर्स करते वक्त किस बात का ध्यान रखते हैं?

ब्रांड का दावा सही है कि नहीं, इसकी जांच परख किये बिना मैं कुछ भी नहीं करता. मैं अपनी जिम्मेदारी जनता हूं.

फैशन आपको कैसे आकर्षित करती है और आपका स्टाइल स्टेटमेंट क्या है?

मैंने फैशन टेक्नोलौजी में पढ़ाई की है और उस दौरान मैंने फैशन के बारें में काफी कुछ सीखा है. असल में आपकी अपनी कोई फैशन स्टेटमेंट नहीं होती. आपका एक कम्फर्ट जोन होता है जो किसी के कहने पर बदलना नहीं चाहिए. जो पोशाक आप पहनते है, अगर उसे पहनने में सहज हैं, तो एक आत्मविश्वास चेहरे पर दिखता है और वही स्टाइल बन जाता है. मैं कभी ब्रांड फोलो नहीं करता, जो आरामदायक होने के साथ-साथ क्वालिटी भी दें, उसी को पहनता हूं.

फैशन में आये बदलाव को कैसे देखते हैं?

फैशन में हमेशा बदलाव आता रहता है और ये अच्छी बात है. अभी अधिक बदलाव होने की वजह लोगों की जागरूकता है, क्योंकि आज हर कोई अलग और स्टाइलिस्ट दिखना चाहता है. इसके अलावा आजकल इन्टरनेट और ग्लोबलाईजेशन होने की वजह से विश्व के हर प्रान्त में हर तरह के फैशन देखने को मिलते हैं. इस तरह सब जगह के फैशन और ट्रेंड मिक्स हो गए हैं. आगे ऐसा समय आयेगा जब लोग किसी ट्रेंड को फोलो न कर अपना ट्रेंड बनायेंगे.

क्या कभी आपने फैशन मिस्टेक किये हैं?

मैं कभी भी कहीं जाने से पहले वहां के बारें में पूरी जानकारी लेता हूं और उसी के अनुसार ही कपड़े पहनता हूं. इससे मिस्टेक कम होता है.

आप हमेशा स्पोर्टी दिखते है, फिटनेस को बनाये रखने के लिए क्या करते हैं?

बचपन में तो कभी सोचा नहीं था कि मैं एक अभिनेता बनूंगा, क्योंकि पढ़ाई में मैं अच्छा था, लेकिन फुटबाल, हौकी, क्रिकेट, स्विमिंग चेस आदि सभी मैं खेलता था और स्कूल में मेरा एक अच्छा रुतबा था. यही वजह है कि मैंने हमेशा अपने आपको फिट रखने की कोशिश की है. अभी भी मैं मेडिटेशन, जिम, दौड़ना आदि करता हूं. मेरी बिल्डिंग में 20 मालें हैं और मैं उससे करीब दो से तीन बार उतरता हूं. इससे शरीर काफी फिट रहता है. इसके अलावा मैं हर चीज संतुलन के साथ खाता हूं.

टीवी के अलावा अब वेब सीरीज भी आ चुकी है, इससे कलाकारों को कितना फायदा होगा?

मेरे हिसाब से कोई भी नयी चीज सबको आकर्षित करती है और इससे हमारे दर्शकों पर कोई असर नहीं पड़ेगा. टीवी और फिल्म के दर्शक वैसे ही रहेंगे. उन्हें कुछ और नया देखने को मिलेगा. साथ ही कलाकारों के लिए अब वैरायटी औफ वर्क करने को मिलेगा, जो अच्छी बात है.

आप अपनी जर्नी को कैसे देखते हैं?

मैंने कुछ सोचा नहीं था, लेकिन यहां तक पहुंच चुका हूं. अपनी जर्नी से खुश हूं. थिएटर करता रहता हूं. अच्छी कोई भी चीज मिले मैं करना पसंद करता हूं. कोई मलाल नहीं है.

आपके जीवन का टर्निंग प्वाइंट क्या है?

मेरी जिंदगी को बदलने में धारावाहिक ‘उतरन’ का काफी हाथ रहा है. इस धारावाहिक ने मुझे सिखाया कि कैसे आप अपनी भूमिका को अच्छा कर आगे ले जा सकते हैं. इसके अलावा साल 2005 में मैंने  अफ्रीका और यूरोप में एक ब्राडवे थिएटर प्रोडक्शन किया था, उस प्रोसेस ने मुझे पूरी तरह बदल दिया था.

अभी आप क्या कर रहे हैं?

अभी मैं एक मिस्ट्री थ्रिलर वेब सीरीज कर रहा हूं. इसमें मेरा डार्क इमेज है.

क्या आप मानते हैं कि टीवी पर हमेशा महिला प्रधान धारावाहिके दिखाई जाती हैं, ऐसे में पुरुष कलाकारों को आगे आने में मुश्किल होती है?

ये सही है, लेकिन महिला किरदार के चारों ओर एक पुरुष कलाकार भी चाहिए, नहीं तो धारावाहिक मजेदार नहीं बनती. इसलिए पुरुष कलाकारों को भी काम मिलता है. मैं हमेशा अपने किरदार को देखता हूं और अगर वह सही लगे, तो हां कर देता हूं. मैं वर्तमान में रहता हूं, बहुत दूर की नहीं सोचता. ‘उतरन’ धारावाहिक में पहले मुझे 7 एपिसोड के लिए बुलाया गया था, लेकिन बाद में मैंने साढ़े चार साल शूटिंग की.

सुपर नेचुरल धारावाहिक में काम करना कितना पसंद करते हैं? क्या आप इन सब चीजों पर विश्वास करते हैं?

अभी तक तो मैं दूर रहा हूं. कौस्टयूम ड्रामा से भी मैं दूर ही रहता हूं. मेरे हिसाब से अगर मुझे सुनकर अच्छा लगे, तो कर सकता हूं, लेकिन इस पर मैं विश्वास नहीं करता.