बचपन से ही अभिनय की इच्छा रखने वाली 25 साल की अभिनेत्री मेघना कौशिक दिल्ली की हैं. स्कूल और कौलेज में थिएटर और डिबेट में भाग लेना उनका शौक था और इसे बढ़ावा दिया मां मृदुला कौशिक ने और आज फिल्म ‘नीरजा’ और ‘डोर’ में काम करने के बाद उन्होंने वेब सीरीज ‘लव लस्ट एंड कन्फ्यूजन’ में काम किया है. साथ ही एक थ्रिलर वेब सीरीज और फिल्म में भी काम कर रही हैं. स्वभाव से नम्र और हंसमुख मेघना को यहां तक पहुंचने में काफी संघर्ष करने पड़े, पर वह अपने मकसद पर हमेशा टिकी रहीं और कामयाबी पायी.

अभिनय से पहले मेघना एक पत्रकार और मौडल रह चुकी हैं .पत्रकारिता में उनका मन नहीं लगता था और उन्होंने मुंबई आकर काम करने की ठान ली और यहां आते ही उन्होंने अभिनय से संबंधित जो भी काम मिला करती गयी. फिर चाहे वह टीवी कमर्शियल हो या एंकरिंग, हर क्षेत्र में काम करती गयी, इससे उनकी वित्तीय अवस्था चलती रही और अंत में उन्हें ‘नीरजा’ फिल्म में उन्हें एयर होस्टेज संजना की भूमिका निभाने का मौका मिला.

उनके संघर्ष के बारे में पूछे जाने पर मेघना बताती हैं कि मुंबई में मैं किसी को जानती नहीं थी और हर तरह का काम नहीं करना चाहती थी. ऐसे में छोटे-छोटे जो भी काम मेरे अभिनय या एंकरिंग से जुड़े मेरे पास आते गए, मैं करती गयी, ताकि मेरा घर चलता रहे. इससे मेरा लोगों से मिलना हुआ, मेरी पहचान बनी, जो मेरे लिए लाभप्रद साबित हुए. एक दो साल तक तो काफी संघर्ष था. मैंने हर प्रोडक्शन हाउस में अपनी तस्वीरें दी और औडिशन देती रही, क्योंकि मैंने यहां इंडस्ट्री में देखा है कि काम मिलने के लिए आपको कहीं न कहीं पर्दे पर दिखते रहना चाहिए. यही वजह थी कि आज मैं कई वेब सीरीज में काम कर रही हूं.

वेब सीरीज में काम कर मेघना बहुत खुश हैं, वह कहती हैं कि आज बड़े-बड़े एक्टर या एक्ट्रेस वेब सीरीज में काम कर रहे हैं और इसका बजट भी कम नहीं होता. इसके अलावा इसमें कलाकार अपने अभिनय को निखार सकते हैं. फिल्मों से अधिक इसमें काम करने में मजा आता है, क्योंकि ये कम समय में बनता है और दर्शकों की प्रतिक्रिया जल्दी ही पता लग जाती है. इसमें निर्माता, निर्देशक अपनी बात अच्छी तरीके से कह पाते हैं.

संघर्ष के दौरान मेघना को कास्टिंग काउच का सामना नहीं करना पड़ा, क्योंकि मेघना पत्रकारिता कर चुकी हैं और केवल अभिनय ही करना है, उस पर फोकस्ड नहीं थी. उनके हिसाब से जिस काम से पर्दे पर दिखा जाये, उसे ही वह करती रहीं, जिसकी वजह से उन्हें अभिनय में आना आसान रहा. उनका कहना है कि जब आप किसी से मिलने जाते हैं, तो सामने वाला भी आपको समझता है कि आपका मकसद क्या है? अगर आपने उसे सही तरह से बता दिया तो आगे कोई कुछ नहीं कहता. यहां कोई काम जबरदस्ती नहीं होता.

मेघना को आमिर खान के साथ फिल्म करने की इच्छा है, क्योंकि वह उनके काम से बहुत प्रभावित हैं. अभिनय के क्षेत्र में अन्तरंग दृश्य करने में मेघना सहज नहीं, लेकिन अगर करना पड़े तो वह उसे समझकर ही करना चाहेंगी. यूं ही किसी फिल्म या सीरीज में वह इंटिमेट सीन्स नहीं करना चाहती. मेघना आरामदायक फैशन पसंद करती हैं और जरुरत पड़े तो स्टाइलिस्ट के पास जाती हैं. वह फूडी हैं और हर तरह का खाना पसंद करती हैं. बिरयानी उन्हें खास पसंद है.

यहां तक पहुंचने में वह अपने माता-पिता का सहयोग बताती हैं. जिन्होंने उन पर विश्वास किया और इतनी दूर मुंबई आकर काम करने की आजादी दी. उनके पिता दूसरे क्षेत्र में काम करते हैं, पर आज वे मेघना को सफलता के लिए बधाई देते हैं.

नए कलाकारों को मेघना संदेश देना चाहती हैं कि यहां लुक्स से अधिक प्रतिभा का होना जरुरी है, ताकि आप आगे बढ़ सकें. आत्मविश्वास, सकारात्मक सोच और धीरज की यहां बहुत जरुरत होती है. याद रखें, शोर्टकट यहां कुछ नहीं होता.