इन दिनों नोरा फतेही काफी व्यस्त हैं. एक तरफ वह जौन अब्राहम के साथ आने वाले गीत ‘दिलबर’ में दिखाई देने वाली हैं. दूसरी तरफ वह अपने नए डेटिंग रियाएलिटी शो ‘डेंटिग इन द डार्क’का प्रचार करने में व्यस्त हैं. तो तीसरी तरफ अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त मोरक्कन अरबी गायक साद लामजार्द के साथ एक कमाल के नृत्य प्रधान वीडियो की शूटिंग पूरी की है. इस एलबम के नए गाने ‘गजाली’पर अब तक नौ करोड़ लोग प्रतिक्रिया दे चुके हैं. अपनी सभी पसंदीदा चीजों, अपनी पृष्ठभूमि और भारत, इन सभी के मिश्रण से नोरा ने इस अंतरराष्ट्रीय वीडियो में अपना अनूठा रंग दिया है. वह इसमें अरबी, भारतीय और अफ्रीकन नृत्य के फार्म के विभिन्न तत्वों के मेल के साथ नृत्य करते हुए नजर आएंगी.

हकीकत में इस नृत्य के वीडियो में नोरा फतेही सभी दर्शकों को चाबी नामक मोरक्कन आदिवासी नृत्य से रूबरू करवाएंगी. यह नृत्य असल में एक लोककथात्मक नृत्य फार्म है, जिसमें ताल के साथ हिप्स का अनूठा तालमेल होता है. वीडियो का गाना अरबी भाषा में है, पर इसमें भारतीय रंग व लोकेशंस के साथ बौलीवुड नृत्य का समन्वय भी है.

यह पहला मौका होगा, जब अंतरराष्ट्रीय गायक साद लामजार्द अपने सोशल मीडिया पेज पर इस तरह का नृत्य वीडियो डालेंगे. साद का दावा है कि नोरा फतेही के नृत्य कौशल से प्रभावित होकर उन्होंने नोरा के साथ वीडियो करने व उसे सोशल मीडिया पर पोस्ट करने का मन बनाया. यह वीडियो ईद पर बाजार में आएगा.

मिश्रित संस्कृतियों की चर्चा करते हुए नोरा कहती हैं- ‘‘यह मेरे बनाए वीडियोज में से अब तक का सर्वश्रेष्ठ वीडियो है. मुझे पूरा यकीन है कि मेरे प्रशंसक इसे पसंद करेंगे. मैं खुद भारतीय, अरबी और पश्चिमी तीनों कल्चर के साथ जुड़ी हुई हूं. इसलिए मैं लंबे समय से ऐसा कुछ करना चाहती थी, जिसमें इन तीनों संस्कृतियों का जुड़ाव लोग महसूस कर सके और मुझे यह मौका साद लामजार्द की वजह से मिल सका.’’

आप इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं