गृहशोभा विशेष

कई बार छात्र अपनी पढ़ाई पूरी नहीं कर पाते और वे शिक्षा से वंचित रह जाते हैं, क्योंकि वे इसके लिए फीस नहीं दे पाते. ऐसे छात्रों की मदद करता है एजुकेशन लोन. लेकिन इस लोन को लेने की जटिल प्रक्रिया की वजह से कई छात्र इसके लिए अप्लाई करने से झिझकते हैं.

बहरहाल हाल ही में सरकार ने इसके लिए दो योजनाएं, क्रेडिट गारंटी फंड स्कीम फौर एजुकेशन लोन (CGFSEL) और विद्या लक्ष्मी स्कीम, लौन्च की हैं. जहां एक तरफ पहली स्कीम से बैंकों के एजुकेशन लोन के तहत डूब रही कर्ज की रकम की चिंता कम होगी, वहीं दूसरी स्कीम से हायर एजुकेशन के लिए स्टूडेंट्स को आसानी से लोन मुहैया होगा.

क्रेडिट गारंटी फंड स्कीम फौर एजुकेशन लोन

इसको लौन्च करने का मकसद ही बैंकों को कर्ज वापस देने का आश्वासन देना है. 3000 करोड़ रुपये वाला यह फंड सहायक या किसी थर्ड पार्टी की गारंटी के बगैर ही अधिकतम 7.5 लाख का लोन देगा. इस लोन पर बेस रेट के आधार पर सालाना 2 प्रतिशत तक का ब्याज लिया जाएगा. इसके अलावा बैंकों को हर स्टूडेंट को दिए गए लोन का 1 प्रतिशत भाग इस फंड में देना होगा.

लोन चुकाने के लिए मिलेगा 15-18 महीने का समय

अभी स्टूडेंट्स को लोन चुकाने के लिए कोर्स पूरा करने के बाद एक साल का समय या फिर जौब मिलने के 6 बाद महीने बाद तक का समय दिया जाता है. लेकिन इस योजना के तहत स्टूडेंट्स को लोन चुकाना शुरू करने के लिए कोर्स के बाद 15 से 18 महीने तक का समय होगा.

अगर स्टूडेंट्स लौक इन पीरियड के अंदर ही लोन चुकाना शुरू नहीं करते है तो इस स्कीम के तहत बैंकों को लोन के 50 प्रतिशत हिस्से का भुगतान किया जाएगा. बाकी का 25 प्रतिशत हिस्सा एक निश्चित समय बाद बैकों को लौटाया जाएगा. .

विद्या लक्ष्मी स्कीम

विद्या लक्ष्मी पोर्टल एक सिंगल विंडो फैसिलिटी है जहां एजुकेशन लोन और सरकारी स्कौलरशि‍प से जुड़ी तमाम जानकारी मिलेगी. एसबीआई, आईडीबीआई और बैंक औफ इंडिया सहित 5 बैंकों ने इस पोर्टल के जरिए लोन देने की शुरुआत की है. इसके अलावा इस पोर्टल पर 13 प्रमुख बैंक 22 एजुकेशन लोन स्कीम के लिए रजिस्टर्ड हैं.

सरकार ने इस पोर्टल को इस मकसद से लौन्च किया है कि किसी भी स्टूडेंट्स को पैसे की कमी के कारण अपनी हायर एजुकेशन रोकनी न पड़े. इस पोर्टल के जरिए स्टूडेंट्स कई बैंकों के एजुकेशन लोन स्कीम के बारे में आसानी सूचना हासिल कर पाएंगे.

इस स्कीम की सबसे अच्छी बात यह है कि स्टूडेंट्स को अब एक कौमन एजुकेशन लोन फौर्म ही भरना होगा और इसी पोर्टल पर वे अपने फौर्म का स्टेटस भी चेक कर पाएंगे. अभी तक उनको तक एजुकेशन लोन के लिए हर बैंक में अलग-अलग फौर्म भरना पड़ता था.

आप इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं