फैस्टिवल पार्टी मैन्यू हो हैल्दी भी और टेस्टी भी

By Shailendra Singh | 12 October 2017

फैस्टिवल की बात जब होती है तो पार्टी बेहद खास हो जाती है. पार्टी में डांस, मस्ती और रोमांच के साथ ही साथ बेहद जरूरी होता है खाने के मैन्यू का चुनाव करना. युवा खाने में बहुत चूजी होते हैं. उन्हें साधारण खाना पसंद नहीं आता. वे फास्टफूड, चाइनीज, पास्ता और आइसक्रीम की तरफ ज्यादा आकर्षित होते हैं. कई बार होटलों में बना यह खाना हैल्थ के लिहाज से अच्छा नहीं होता. युवाओं की सेहत के लिए ये हानिकारक होते हैं. ऐसे में खाने के मैन्यू का चुनाव करना बेहद अहम है. पार्टी का यह फूड मैन्यू हैल्दी और टैस्टी होना चाहिए साथ ही साथ, यह दिखने में भी अच्छा हो. यूथ इस बात को पसंद करते हैं कि उन का मैन्यू दिखने में भी आकर्षक हो. युवाओं में एक यह धारणा होती है कि जो हैल्दी फूड होता है वह टैस्टी नहीं होता है. इस धारणा को बदलने की जरूरत है. आज के दौर में खानपान को ले कर इतने बदलाव हो रहे हैं कि टैस्टी खाने को भी हैल्दी बनाया जा सकता है.

न्यूट्रीवैल इंडिया की डा. सुरभि जैन कहती हैं, ‘‘यूथ को पार्टी का मैन्यू तय करते समय यह ध्यान रखना चाहिए कि वह हैल्दी और  टेस्टी तो हो ही, देखने में भी अच्छा हो. आज के समय में सलाद का प्रयोग बहुत अच्छा होता है. फैस्टिवल सीजन में कई तरह की हरी सब्जियां मिलती हैं. इन का प्रयोग किया जा सकता है. सौफ्टडिं्रक में फ्रैश जूस का प्रयोग अच्छा रहता है. कोल्डड्रिंक और बोतलबंद जूस में चीनी का प्रयोग अधिक रहता है, ऐसे में इन का प्रयोग सावधानी से करें.

‘‘हनी मिक्स ड्रिंक बनाए जा सकते हैं. कई तरह के ड्रिंक बादाम, मेवा से भी मिला कर तैयार किए जा सकते हैं. आजकल के खाने में मिलावट के साथ स्वच्छ तेल का प्रयोग नहीं किया जाता. होटलों में कई बार एक ही औयल का प्रयोग किया जाता है. यह औयल सेहत के लिए बहुत खतरनाक होता है. मैन्यू के साथ जरूरी है कि खाना बनाने वाले उपकरण का चुनाव सावधानी से हो.’’ 

वैलकम ड्रिंक में हो मेवा का प्रयोग

किसी भी पार्टी में खाने की शुरुआत वैलकम ड्रिंक से होती है. यूथ की पार्टी का वैलकम ड्रिंक कुछ खास होना चाहिए. कोल्डड्रिंक और डब्बाबंद जूस तो बेहद सरल सा मैन्यू हो जाता है. यह देखने में कुछ खास नहीं होता. हैल्दी भी उतना नहीं होता है फैस्टिवल के दिनों में मौसम जाडे़ का होता है. ऐसे में मेवा से तैयार डिं्रक बेहद जरूरी होता है. यह युवाओं की सेहत के लिए उपयोगी भी होगा. वैलकम ड्रिंक में मौकटेल्स को युवा खूब पसंद करने लगे हैं. जरूरी यह होता है कि इस को बहुत अच्छी तरह से पेश किया जाए. फ्रै श लाइम सोडा, शिकंजी के साथ रूहअफ्जा, मैंगो और स्ट्राबैरी से तैयार वैलकम ड्रिंक बहुत अच्छे होते हैं.’’

इवैंट और्गेनाइजर दिशा संधू कहती हैं,‘‘फैस्टिवल सीजन में मौसम बदल रहा होता है, ऐसे में यूथ को हैल्दी वैलकम ड्रिंक का प्रयोग करना चाहिए. मौकटेल्स अब ऐसे तैयार होने लगे हैं जो देखने में भी बहुत अच्छे लगते हैं. इन को पेश करने का तरीका भी बेहद खास होता है. इस को देखने से ही मन खुश हो जाता है.

‘‘आज के समय में पार्टी की फोटोग्राफी बेहद खास होती है, ऐसे में इस में परोसे जाने वाले वैलकम ड्रिंक का अच्छा दिखना जरूरी होता है. कोल्डड्रिंक या जूस के मुकाबले मौकटेल्स ज्यादा हैल्दी, टैस्टी होने के बाद साथसाथ खूबसूरत भी दिखते हैं. ये अलगअलग टैस्ट के होते हैं. मौकटेल्स को तैयार करने में खाने वाले कलर की जगह पर नैचुरल खाने की चीजों के इस्तेमाल से उसे कलरफुल बनाया जाए. जैसे केसर के प्रयोग से मौकटेल्स को कलर दिया जा सकता है. यह हैल्थ को नुकसान नहीं देता है.’’

स्टार्टर हो खास

मैन्यू में वैलकम ड्रिंक के बाद सब से खास होता है स्टार्टर फूड. यह कुछ तीखाचटपटा होना चाहिए जिस से खाने की भूख न खत्म हो. खाने वाले का स्वाद बढ़ जाए. युवाओं को स्टार्टर फूड में साउथ इंडियन डिश के साथ चाइनीज डिश बेहद पसंद आती है. इस के साथ ही, चटपटी चाट भी पसंद आती है. पापड़ी चाट, ढोकला, भेलपूरी युवा खूब पसंद करते हैं.

डायटीशियन तान्या साहनी कहती हैं, ‘‘युवाओं में स्टार्टर फूड मेन कोर्स से ज्यादा पसंद किया जाता है. कटलेट, स्प्रिंगरोल, हनी पोटैटो को तैयार करते समय अच्छे किस्म का औयल प्रयोग किया जाए. बेहतर होगा कि औलिव औयल का प्रयोग हो. यह सेहत के लिए खास होता है. भेलपूरी और ढोकला दोनों में ही औयल का प्रयोग नहीं होता है. ये सब से अहम होते हैं.’’

फैस्टिवल सीजन में तरहतरह की सब्जियां बाजार में होती है. ऐसे में इन से तैयार सूप भी बहुत उपयोगी होते हैं. सूप में कई तरह की सब्जियां होती हैं जो सेहत के लिए लाभकारी होती हैं. इन का टेस्ट भी अच्छा होता है.

तान्या कहती हैं, ‘‘स्टार्टर फूड का चुनाव सही तरह से करना चाहिए. सूप इन में सब से बेहतर होता है. सूप खाने की भूख को बढ़ाने के साथ ही साथ खाने को सही तरह से डाइजैस्ट भी करता है. युवाओं को अपनी पसंद के अनुसार इन को तैयार कराना चाहिए. थोडे़बहुत बदलाव के बाद हैल्दी सूप को टैस्टी बनाया जा सकता है. इस में पसंद के अनुसार फ्रूट्स का भी प्रयोग किया जा सकता है. विंटर के इस फैस्टिवल सीजन में कई तरह के टेस्टी फू्रट्स मिलने लगते हैं. यह भी अलग किस्म के होते हैं. फ्रूट्स चाट भी पसंद की जाती है.’’

मेन कोर्स में पनीर पहली पसंद

पार्टी की शान उस का खाना होता है. ऐसे में खाना स्वादिष्ठ होना जरूरी है. खाने में शाकाहारी पसंदीदा डिश होती है. कुछ युवाओं को नौनवेज भी पसंद आता है. इवैंट और्गेनाइजर स्वाति दीक्षित का मानना है, ‘‘डिश का चुनाव ऐसा होना चाहिए कि वह ज्यादा से ज्यादा लोगों की पसंद का हो. ऐसे में पनीर की डिश सब से खास होती है. मशरूम से तैयार डिश खाने में हैवी हो जाती है, ऐसे में यह यूथ को कम पसंद आती है. पनीर में कढ़ाईपनीर सब से खास होता है. फ्राई सब्जियां जैसे भरवां बैगन, करेला और टमाटर भी यूथ पसंद करते हैं. ग्रेवी वाली सब्जी के साथ ड्राई सब्जी भी जरूरी होती है. बहुत सारे युवाओं को आलूजीरा फ्राई सब से अच्छा लगता है. तंदूरी रोटी के साथ जीरा राइस भी पसंद आता है.’’

खाने के बाद स्वीट डिश में यूथ को सब से पसंद आइसक्रीम आती है. मिठाई बहुत कम लोग खाना पसंद करते हैं. युवाओं की पार्टी का मैन्यू पूरी तरह से बैलेंस्ड होना चाहिए. जिस से वे पार्टी को ऐंजौए कर सकें.

आप इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं
INSIDE GRIHSHOBHA
READER'S COMMENTS / अपने विचार पाठकों तक पहुचाएं

Comments

Add new comment