पोस्ट वर्कआउट ग्रूमिंग

By Nidhi Nigam | 9 January 2017

जिम जाने वाले युवाओं के लिए जरूरी है पोस्ट वर्कआउट ग्रूमिंग. इस से जहां आप पसीने की बदबू से बचेंगे वहीं खुद को फ्रैश व ऊर्जावान महसूस करेंगे और आप की बौडी व चेहरा चमचमाता नजर आएगा.

युवकों को सिक्स पैक बनाने के लिए या फिर जिम जौइन करने के लिए सब से ज्यादा किसी ने प्रेरित किया है, तो वो हैं सलमान खान. आज यह नाम युवाओं में जूनून बन चुका है. युवा अपने बिजी शैड्यूल से वक्त निकाल कर जिम जाते हैं. यहां तक कि वे जबरदस्त ठंड में भी जिम जाना नहीं छोड़ते, जिस का नतीजा उन्हें कूल बौडी व यंग लुक के रूप में मिलता है. लेकिन जब ये युवा जिम से बाहर निकलते हैं तो इन का पूरा शरीर पसीने से तर होता है, जिस कारण इन से पसीने की बदबू आती है और बाल भी चिपचिपे नजर आते हैं.

आप का फिजिक कितना ही अच्छा हो, लेकिन इस हालत में जब आप जिम से बाहर आते हैं तो पसीने से तरबतर नजर आते हैं, जिस से आप का पूरा व्यक्तित्व जीरो नजर आता है. ऐसे में कोई भी लड़की आप से इंप्रैस होना तो दूर, आप की तरफ देखना भी पसंद नहीं करेगी. आप टैंशन न लें, क्योंकि जब प्रौब्लम आती है तो उस का सौल्यूशन भी अवश्य होता है. ऐसे में हम आप को बताते हैं कि कैसे आप हौट बौडी के साथ हौट लुक को भी मैंटेन रख सकते हैं वह भी पोस्ट वर्कआउट से. बस, इस के लिए आप को कुछ ग्रूमिंग प्रोडक्ट औैर केयर की जरूरत है.

पसीना

जब भी हम शारीरिक श्रम करते हैं तो उस से हमारी बौडी गरम हो जाती है. ऐसे में बौडी के तापमान को मैंटेन रखने के लिए हमारे शरीर से पसीना निकलना शुरू होता है, जिस से शरीर धीरेधीरे ठंडा होने लगता है, लेकिन पोस्ट वर्कआउट स्टेज में भी आप की बौडी से पसीना निकलता है, अगर आप ने कोई भी कूलिंग एजैंट नहीं अपनाया तो यह प्रक्रिया जारी रहती है औैर इसलिए वर्कआउट के बाद कोल्ड शावर लेने की सलाह दी जाती है, लेकिन वर्कआउट के दौरान उत्पन्न हुई गंदगी, पसीना, धूल, कीटाणु को पूर्णतया शरीर से हटाने के लिए सिर्फ कोल्ड शावर, सोप का इस्तेमाल ही काफी नहीं होता, बल्कि आप को पोस्ट वर्कआउट शावर लेते वक्त शावर जैल यूज करने की आवश्यकता होती है. ये न सिर्फ अच्छे क्लींजिंग एजैंट  हैं बल्कि ये आप की बौडी के मौइश्चर लैवल को भी बनाए रखते हैं. इन से आप खुद को फ्रैश और ऊर्जावान भी महसूस करते हैं.

हेयर नोवोशन

वर्कआउट के तुरंत बाद ऐनर्जी लैवल हाई होता है, ब्लड सर्कुलेशन बढ़ जाता है, जिस की वजह से आप का चेहरा, बौडी, स्किन तुरंत लाल पड़ जाती है. बिलकुल ऐसा ही असर आप की स्कैल्प पर भी होता है, लेकिन बौडी स्किन की तरह स्कैल्प विजिबल नहीं होती और आप को स्कैल्प पर हुआ इफैक्ट नजर नहीं आता. यही कारण है कि जिम जाने वालों में यह कौमन हैबिट नजर आती है कि वे अपनी स्कैल्प को नजरअंदाज कर देते हैं, जिस कारण बालों का वौल्यूम, क्वालिटी, टैक्स्चर खराब होता जाता है, जो थोड़ी केयर करते भी हैं वे अपने पसीने, गंदगी में डूबे बालों को धोने के लिए रैगुलर फोम शैंपू ही यूज करते हैं.

लेकिन अगर आप को अपने बालों की हैल्थ अच्छी रखनी है तो फोम बैस्ड शैंपू, ऐंटी डैंड्र्फ शैंपू या हेयर लौस शैंपू को पूरी तरह अवौइड करें, क्योंकि ये धूलमिट्टी हटाने के साथ ही बालों का नैचुरल औयल भी हटा देते हैं. इसलिए उपरोक्त शैंपू की जगह क्रीम बैस्ड शैंपू को अपनी जिम किट में जगह दें. यह आप के बालों के नैचुरल औयल और मौइश्चर को बालों में लौक कर देता है. यह न सिर्फ आप के बालों और स्कैल्प को हाइड्रैट रखता है बल्कि रफनैस और ड्राइनैस को दूर कर बालों को सिल्की ऐेंड सौफ्ट टच भी देता है, क्योंकि यह शैंपू के साथ कंडीशनर का काम भी करता है.

स्टाइल करैक्टली

वर्कआउट के बाद प्रौपर शावर लेने के बाद भी आप की बौडी का तापमान नौर्मल होने की प्रक्रिया से गुजर रहा होता है यानी शावर के बाद भी तापमान नौर्मल से थोड़ा ऊपर ही रहता है. इस दौरान अगर आप ने अपने बालों की स्टाइलिंग के लिए गलत जैल जैसे हैवी ड्यूटी जैल या क्रीम इस्तेमाल की तो आप बिलकुल भी स्टाइलिश नजर नहीं आएंगे, क्योंकि ये आप के बालों को फ्लैट कर देंगे. इसलिए शैंपू के बाद कूल मोड पर रख कर हेयर ड्रायर का इस्तेमाल करें. लेकिन अगर यह सुविधा उपलब्ध नहीं है तो आप ऐसे स्टाइलिंग प्रोडक्ट अपने जिम किट में रखें जो क्ले या वैक्स बेस्ड हों. नौर्मल हेयर जैल से ये बेहतर हैं. जैल गरमी से बह जाता है. इस के विपरीत क्ले आप के बालों को मजबूत पकड़ देता है, साथ ही आप के स्कैल्प की स्किन ब्रीद भी कर सकती है.

स्किन डीप नरिशमैंट

पोस्ट वर्कआउट शावर के बाद आप अपनी स्किन पर क्या औैर किस तरह के प्रोडक्ट अप्लाई करते हैं, इस पर भी आप का लुक निर्भर करता है कि आप कूल डूड नजर आते हैं या नहीं. यह तो आप ने जाना कि शावर के बाद भी आप की बौडी का तापमान थोड़ा बढ़ा हुआ रहता है. ऐसे में अगर आप हैवी, क्रीमी, मौइश्चराइजर अप्लाई करेंगे तो आप की बौडी हीट होने की वजह से आप को बेहिसाब पसीना आएगा. ऐसा लगेगा जैसे सूरज की तपन से आप रोस्ट हो रहे हैं और थिक बौडी लोशन यूज करेंगे तो शरीर पिघलता महसूस होगा. दोनों ही स्थितियां आपके पर्सनैलिटी के लिए सही नहीं है. ऐसे में आप अपनी जिम किट में औयल फ्री, लाइट वेट मौइश्चराइजर व लोशन रखिए. इन को लगाने से स्किन पोर बंद नहीं होंगे और त्वचा आसानी से सांस ले सकेगी तथा ये लोशन आसानी से स्किन में अंदर तक समा जाएंगे.

जिम जाने वाले युवाओं के लिए जरूरी है पोस्ट वर्कआउट ग्रूमिंग. इस से जहां आप पसीने की बदबू से बचेंगे वहीं खुद को फ्रैश व ऊर्जावान महसूस करेंगे और आप की बौडी व चेहरा चमचमाता नजर आएगा.

युवकों को सिक्स पैक बनाने के लिए या फिर जिम जौइन करने के लिए सब से ज्यादा किसी ने प्रेरित किया है, तो वो हैं सलमान खान. आज यह नाम युवाओं में जूनून बन चुका है. युवा अपने बिजी शैड्यूल से वक्त निकाल कर जिम जाते हैं. यहां तक कि वे जबरदस्त ठंड में भी जिम जाना नहीं छोड़ते, जिस का नतीजा उन्हें कूल बौडी व यंग लुक के रूप में मिलता है. लेकिन जब ये युवा जिम से बाहर निकलते हैं तो इन का पूरा शरीर पसीने से तर होता है, जिस कारण इन से पसीने की बदबू आती है और बाल भी चिपचिपे नजर आते हैं.

आप का फिजिक कितना ही अच्छा हो, लेकिन इस हालत में जब आप जिम से बाहर आते हैं तो पसीने से तरबतर नजर आते हैं, जिस से आप का पूरा व्यक्तित्व जीरो नजर आता है. ऐसे में कोई भी लड़की आप से इंप्रैस होना तो दूर, आप की तरफ देखना भी पसंद नहीं करेगी. आप टैंशन न लें, क्योंकि जब प्रौब्लम आती है तो उस का सौल्यूशन भी अवश्य होता है. ऐसे में हम आप को बताते हैं कि कैसे आप हौट बौडी के साथ हौट लुक को भी मैंटेन रख सकते हैं वह भी पोस्ट वर्कआउट से. बस, इस के लिए आप को कुछ ग्रूमिंग प्रोडक्ट औैर केयर की जरूरत है.

पसीना

जब भी हम शारीरिक श्रम करते हैं तो उस से हमारी बौडी गरम हो जाती है. ऐसे में बौडी के तापमान को मैंटेन रखने के लिए हमारे शरीर से पसीना निकलना शुरू होता है, जिस से शरीर धीरेधीरे ठंडा होने लगता है, लेकिन पोस्ट वर्कआउट स्टेज में भी आप की बौडी से पसीना निकलता है, अगर आप ने कोई भी कूलिंग एजैंट नहीं अपनाया तो यह प्रक्रिया जारी रहती है औैर इसलिए वर्कआउट के बाद कोल्ड शावर लेने की सलाह दी जाती है, लेकिन वर्कआउट के दौरान उत्पन्न हुई गंदगी, पसीना, धूल, कीटाणु को पूर्णतया शरीर से हटाने के लिए सिर्फ कोल्ड शावर, सोप का इस्तेमाल ही काफी नहीं होता, बल्कि आप को पोस्ट वर्कआउट शावर लेते वक्त शावर जैल यूज करने की आवश्यकता होती है. ये न सिर्फ अच्छे क्लींजिंग एजैंट  हैं बल्कि ये आप की बौडी के मौइश्चर लैवल को भी बनाए रखते हैं. इन से आप खुद को फ्रैश और ऊर्जावान भी महसूस करते हैं.

हेयर नोवोशन

वर्कआउट के तुरंत बाद ऐनर्जी लैवल हाई होता है, ब्लड सर्कुलेशन बढ़ जाता है, जिस की वजह से आप का चेहरा, बौडी, स्किन तुरंत लाल पड़ जाती है. बिलकुल ऐसा ही असर आप की स्कैल्प पर भी होता है, लेकिन बौडी स्किन की तरह स्कैल्प विजिबल नहीं होती और आप को स्कैल्प पर हुआ इफैक्ट नजर नहीं आता. यही कारण है कि जिम जाने वालों में यह कौमन हैबिट नजर आती है कि वे अपनी स्कैल्प को नजरअंदाज कर देते हैं, जिस कारण बालों का वौल्यूम, क्वालिटी, टैक्स्चर खराब होता जाता है, जो थोड़ी केयर करते भी हैं वे अपने पसीने, गंदगी में डूबे बालों को धोने के लिए रैगुलर फोम शैंपू ही यूज करते हैं.

लेकिन अगर आप को अपने बालों की हैल्थ अच्छी रखनी है तो फोम बैस्ड शैंपू, ऐंटी डैंड्र्फ शैंपू या हेयर लौस शैंपू को पूरी तरह अवौइड करें, क्योंकि ये धूलमिट्टी हटाने के साथ ही बालों का नैचुरल औयल भी हटा देते हैं. इसलिए उपरोक्त शैंपू की जगह क्रीम बैस्ड शैंपू को अपनी जिम किट में जगह दें. यह आप के बालों के नैचुरल औयल और मौइश्चर को बालों में लौक कर देता है. यह न सिर्फ आप के बालों और स्कैल्प को हाइड्रैट रखता है बल्कि रफनैस और ड्राइनैस को दूर कर बालों को सिल्की ऐेंड सौफ्ट टच भी देता है, क्योंकि यह शैंपू के साथ कंडीशनर का काम भी करता है.

स्टाइल करैक्टली

वर्कआउट के बाद प्रौपर शावर लेने के बाद भी आप की बौडी का तापमान नौर्मल होने की प्रक्रिया से गुजर रहा होता है यानी शावर के बाद भी तापमान नौर्मल से थोड़ा ऊपर ही रहता है. इस दौरान अगर आप ने अपने बालों की स्टाइलिंग के लिए गलत जैल जैसे हैवी ड्यूटी जैल या क्रीम इस्तेमाल की तो आप बिलकुल भी स्टाइलिश नजर नहीं आएंगे, क्योंकि ये आप के बालों को फ्लैट कर देंगे. इसलिए शैंपू के बाद कूल मोड पर रख कर हेयर ड्रायर का इस्तेमाल करें. लेकिन अगर यह सुविधा उपलब्ध नहीं है तो आप ऐसे स्टाइलिंग प्रोडक्ट अपने जिम किट में रखें जो क्ले या वैक्स बेस्ड हों. नौर्मल हेयर जैल से ये बेहतर हैं. जैल गरमी से बह जाता है. इस के विपरीत क्ले आप के बालों को मजबूत पकड़ देता है, साथ ही आप के स्कैल्प की स्किन ब्रीद भी कर सकती है.

स्किन डीप नरिशमैंट

पोस्ट वर्कआउट शावर के बाद आप अपनी स्किन पर क्या औैर किस तरह के प्रोडक्ट अप्लाई करते हैं, इस पर भी आप का लुक निर्भर करता है कि आप कूल डूड नजर आते हैं या नहीं. यह तो आप ने जाना कि शावर के बाद भी आप की बौडी का तापमान थोड़ा बढ़ा हुआ रहता है. ऐसे में अगर आप हैवी, क्रीमी, मौइश्चराइजर अप्लाई करेंगे तो आप की बौडी हीट होने की वजह से आप को बेहिसाब पसीना आएगा. ऐसा लगेगा जैसे सूरज की तपन से आप रोस्ट हो रहे हैं और थिक बौडी लोशन यूज करेंगे तो शरीर पिघलता महसूस होगा. दोनों ही स्थितियां आपके पर्सनैलिटी के लिए सही नहीं है. ऐसे में आप अपनी जिम किट में औयल फ्री, लाइट वेट मौइश्चराइजर व लोशन रखिए. इन को लगाने से स्किन पोर बंद नहीं होंगे और त्वचा आसानी से सांस ले सकेगी तथा ये लोशन आसानी से स्किन में अंदर तक समा जाएंगे.

आप इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं
INSIDE GRIHSHOBHA
READER'S COMMENTS / अपने विचार पाठकों तक पहुचाएं

Comments

Add new comment