खुशबू एक ऐसा एहसास है, जो किसी को भी सम्मोहित कर लेती है. इस से वातावरण में भी मस्ती छा जाती है. भीनी भीनी खुशबू से महक रहे घर में घुसने पर किसी को स्वयं ही उस की स्वच्छता का एहसास हो जाता है. घर को खुशबूदार बनाने का चलन बेहद पुराना है. होम फ्रैगरेंस का इस्तेमाल इसलिए किया जाता है ताकि घर से निकलने वाली अन्य तरह की दुर्गंध को कम किया जा सके. ताजी खुशबू वाला घर हमेशा स्वच्छता का एहसास दिलाता है. यही कारण है कि लोग अपने घरों को मनपसंद खुशबू से महकाना पसंद करते हैं.

बाजार में अनेक तरह के होम फ्रैगरेंस मौजूद हैं, जिन में से आप अपनी सुविधा व पसंद के मुताबिक चुनाव कर अपने घर को महका सकते हैं. रूम फ्रैगरेंस को कई कैटेगरियों व खुशबुओं में बांटा गया है. सैशे, पौटपोरी, सेंट आयल, एअर फ्रैशनर्स, रूम स्प्रे, परफ्यूम डिस्पेंसर, अरोमा लैंप, प्लग इन, सेंटेड कैंडल्स आदि. होम फ्रैगरेंस प्रोडक्ट्स बनाने वाली डेल्टा एक्सपर्ट्स कंपनी की डिजाइनर आरती का कहना है कि घर में इस्तेमाल की जाने वाली प्राकृतिक व अप्राकृतिक खुशबुएं कई तरह की होती हैं, कई खुशबूदार तेलों को मिला कर भी विशेष तरह की महक तैयार की जाती है. जैसे रोज और जैसमीन को मिला कर स्पेशल मूड क्रिएट किया जाता है. इन्हें आप कैंडल, अगरबत्ती, एअर स्प्रे, होम स्प्रे आदि के रूप में बाजार से खरीद सकते हैं. ये अधिक महंगे भी नहीं होते हैं.

आरती के अनुसार फ्रैगरेंस की कई कैटेगरियां होती हैं जैसे फ्रूट्स कैटेगरी में जहां वैनिला, स्ट्राबेरी, चौकलेट आदि फ्रैगरेंस आते हैं, वहीं फ्लोरल कैटेगरी में इंडियन स्पाइस, जैसमीन, रोज, लैवेंडर आदि. अपनी पसंद के मुताबिक लोग विभिन्न तरह के फ्रैगरेंस को अपने घर में इस्तेमाल करते हैं. बाथरूम की बात की जाए तो यहां अधिकतर लेमनग्रास फ्रैगरेंस का इस्तेमाल किया जाता है. फाइवस्टार होटल हो या अन्य कोई होटल, हर जगह इन फ्रैगरेंसेस का इस्तेमाल किया जाता है. होम फ्रैगरेंसेस के प्रति बढ़ती रुचि के कारण ही इस का बाजार दिन दूनी रात चौगुनी तरक्की कर रहा है.

होम फ्रैगरेंस अगरबत्तियां

खुशबू के लिए अगरबत्ती का इस्तेमाल नया नहीं है. हां, इतना जरूर कहा जा सकता है कि पहले जहां अगरबत्तियां कुछ गिनीचुनी खुशबुओं में ही उपलब्ध थीं वहीं आज ये अनगिनत खुशबुओं में मिलती हैं. पुराने समय में अगरबत्ती व इस के धुएं को मेडिसिन के रूप में इस्तेमाल किया जाता था. अगरबत्तियां एक बेहतरीन होम फ्रैगरेंस के तौर पर भी सदा से इस्तेमाल की जाती हैं. अगरबत्तियां कई तरह की खुशबूदार लकडि़यों, जड़ीबूटियों, खुशबूदार आयल, गरममसाला, जैसमीन, पचोली (भारत का एक सुगंध देने वाला पौधा), संडलवुड, गुलाब, देवदार आदि प्राकृतिक खुशबुओं से तैयार की जाती हैं. इन्हें नेचुरल फ्रैगरेंसेस कहा जाता है, जबकि इन्हें आर्टिफिशल खुशबुओं जैसे स्ट्राबेरी, भांग व अफीम के पौधे आदि से भी तैयार किया जाता है.

अगरबत्तियां 2 प्रकार की होती हैं- डायरेक्ट बर्न और इनडायरेक्ट बर्न. जैसा कि नाम से ही जाहिर है, डायरेक्ट बर्न अगरबत्ती स्टिक को सीधे जला दिया जाता है और वह लंबे समय तक सुलग कर वातावरण को महकाए रखती है, जबकि इनडायरेक्ट बर्न अगरबत्ती में फ्रैगरेंस मैटेरियल को किसी मैटल की हौट प्लेट या आंच आदि पर रखा जाता है, जिस से वह गरम हो कर घर को महक ाती रहती है. यह स्टिक फार्म में न हो कर मैटेरियल फार्म में होती है.

अगरबत्तियां कई आकारों में मिलती हैं जैसे स्टिक, धूप, पाउडर आदि. इन के प्रयोग से आप कम खर्च में घर को महका सकते हैं. इन की खुशबू से मक्खियां व मच्छर भी दूर रहते हैं.

फ्रैगरेंस कैंडल्स

आप के घर में सजी डिजाइनर फ्रैगरेंस कैंडल देख कर कोई भी आसानी से यह अंदाजा नहीं लगा सकता कि आप के घर से आने वाली भीनीभीनी खुशबू में इस आकर्षक कैंडल का हाथ है. आज बाजार में इतने यूनीक डिजाइनों, रंगों व खुशबुओं में फ्रैगरेंस कैंडल्स मौजूद हैं कि हर किसी पर दिल आ जाए. डिजाइनर अरोमा लैंप को आप अपने घर में कहीं भी रखें, यह अपना काम बखूबी करेगा. एक विशेष तरह के बने इस लैंप में पानी की कुछ बूंदों में आरोमा आयल डाल दिया जाता है, जिस से घर लंबे समय तक महकता रहता है. ये बेहद आकर्षक होते हैं.

रीड डिफ्यूजर

रीड डिफ्यूजर के बारे में अभी भारत में कम लोग ही जानते हैं लेकिन यह तेजी से लोगों की पसंद बन रहा है. रीड डिफ्यूजर फ्रैगरेंस कैंडल का अच्छा विकल्प है. इस में नैचुरल व सिंथेटिक दोनों तरह के आयल्स का इस्तेमाल किया जाता है. यह खुशबू को कमरे की हवा में अच्छी तरह घोल कर लंबे समय तक घर को महकाता है. इसे अगरबत्ती या फ्रैगरेंस कैंडल्स की तरह समयसमय पर जलाने की जरूरत नहीं होती. यह अनेक तरह की खुशबुओं, शेप्स व साइजों में बाजार में उपलब्ध है, जो एक सुरक्षित तरीके से आप के घर को खुशबूदार बनाता है. रीड डिफ्यूजर में आप को बोतल या कंटेनर, सैंटेड आयल व रीड्स मिलती हैं. बोतल या कंटेनर में आयल को भर दिया जाता है व इस में एक रीड स्टिक डाल दी जाती है और बस, आप का पूरा घर महक जाता है, मस्ती भरी खुशबू के साथ.

कई लोग सोचते होंगे कि इस रीड डिफ्यूजर को घर में किस जगह पर रखा जाए तो कई लोग इसे किचन, बाथरूम, लिविंगरूम, ड्राइंगरूम या बेडरूम में रखना पसंद करते हैं तो कई इसे अपने आफिस आदि में भी रखते हैं ताकि काम करते समय एम्लाई रिलैक्स व शांति महसूस करें. यह नर्सिंगहोम्स, स्पा और ब्यूटी शौप्स आदि में भी इस्तेमाल किया जाता है. यह कई साइजों में मिलता है. आप अपने कमरे के आकार व जरूरत के मुताबिक इसे खरीद सकते हैं.

कैंडल वार्मर्स

कैंडल वार्मर मोम को गरम करता है और इस पिघले हुए मोम से निकलने वाली खुशबू से सारा घर महक जाता है. इस कैंडल को जलाने की जरूरत नहीं होती, बल्कि धीरेधीरे पिघलने वाले मोम से निकलने वाली खुशबू लंबे समय तक घर को महकाती है. यह उन लोगों के लिए अच्छा विकल्प है, जो सैंटेड कैंडल को बिना जलाए उस की महक पाना चाहते हैं. एअर फ्रैशनर्स स्प्रे को आप आसानी से इस्तेमाल कर सकती हैं. यह हवा को महकाता है और घर में आने वाली अन्य दुर्गंधों को प्रभावहीन बनाता है. एअर फ्रैशनर्स स्प्रे एक छोटी सी खूबसूरत कैन में उपलब्ध होते हैं जिन्हें प्रयोग में न आने पर आसानी से स्टोर भी किया जा सकता है. छोटे कैंस को आप दीवार पर भी लगा सकते हैं, जिन में लगे एक बटन को पुश कर के आप घर को जब चाहे महका सकते हैं. इस के अलावा फ्रैगरेंस स्टिक भी मिलती है जिसे आप सफाई करते समय वैक्यूम क्लीनर बैग में रख सकते हैं. इस से आप के घर का कोनाकोना महक उठेगा व स्वच्छता का एहसास दिलाएगा. ये फ्रैगरेंस स्प्रे कैंस अनेक सुंदर डिजाइनों में उपलब्ध हैं.

फ्रैगरेंस पोटपोरी

फ्रैगरेंस पोटपोरी का इस्तेमाल कर आप प्राकृतिक तौर पर अपने घरआंगन को महका सकते हैं. प्राकृतिक खुशबूदार सूखे हुए पौधों के भागों व अन्य फ्रैगरेंस सामग्री को लकड़ी या सिरेमिक के बने डेकोरेटिव बाउल या फिर बारीक कपड़े के थैले में संजोया जाता है. ये बाजार में कई आकर्षक पैकेटों में मिलते हैं. इन से निकलने वाली धीमीधीमी खुशबू हवा के साथ घर के कोनेकोने में भर जाती है. अगर आप बाजार में मिलने वाले होम फै्रगरेंस का इस्तेमाल नहीं करना चाहते तो घर पर भी होम फ्रैगरेंस बना सकते हैं. किसी मिट्टी या सिरेमिक के पौट में पानी भर कर उस में ताजे गुलाब की पंखुडि़यां डाल दें. चाहें तो इस में खुशबूदार आयल की कुछ बूंदें भी मिला दें. इसे आप सेंटर या साइड टेबल के बीचोंबीच सजा कर रख दें. इसे घर की खिड़की या दरवाजे पर भी टांगा जा सकता है. हवा के साथ इस की महक पूरे घर में फैल जाएगी और यह होम फ्रैगरेंस का काम करेगा.