शादी और कम खर्च ये शायद सभी को अजीब लगे, पर अब शादी पर कम खर्च का प्रचलन हो चला है, क्योंकि इससे समय और पैसा दोनों की ही बचत होती है. कुछ लोगों को ये सोच कंजूसी वाली लग सकती है, क्योंकि वे सोचते हैं कि लकड़ी के टेबल पर सफेद चादर बिछाकर, कैंडल लाइट जलाकर, कम लोगों को आमंत्रित कर ही शादी के खर्चे को कम किया जा सकता है. जबकि ऐसा बिल्कुल भी नहीं है.

कम खर्च की शादी के लिए ये जरूरी नहीं कि आप सबकुछ त्याग दे या न करें, बल्कि जो चीजे शादी में जरूरी नहीं होती या केवल दिखावे के लिए होती हैं, उसे छोड़ प्रमुख चीजों पर ध्यान दें. इस प्रकार केवल थोड़ी सी समझदारी और सही प्लानिंग से ही आप एक शादी को यादगार और अपने मन मुताबिक बना सकते है.

इस बारें में वेडिंग प्लानर आशु गर्ग बताते है कि शादियां सबके लिए यादगार बने, इसके लिए मैं हमेशा कोशिश करता हूं, क्योंकि शादी का खर्च व्यक्ति के बजट के आधार पर होना चाहिए, ताकि किसी को भी बोझ न महसूस हो. वही मेरे लिए चुनौती होती है. यहां कुछ बातें निम्न है जिस पर ध्यान देने की जरूरत है.

डिटेलिंग पर दें ध्यान

पिच कलर के साथ रेड और गोल्डन का प्रचलन विवाह में सालों से है. वेडिंग में इसका खास महत्व होता है, लेकिन अब इसमें हल्के और प्राकृतिक रंगों के मिश्रण को अधिक महत्व दिया जाता है. इसमें वैसी ही कलाकृतियों वाले फ़र्निचर और पेड़-पौधे इसकी शोभा को बढ़ाते है.

बड़ी-बड़ी चीजों से बनावटी सजावट का समय अब नहीं है, अभी व्यक्ति अपनी पसंद से घर या विवाह मंडप को सजाते है, जिसमें सजाने वाले की व्यक्तित्व और पसंद पूरी तरह से दिखाई पड़ता है, ये उनके लिए एक चुनौती होती है, इसमें कपल्स अधिकतर बॉलीवुड की सजावट का सहारा लेते है,जिसमें डिटेलिंग पर अधिक जोर होती है, जो अधिकतर तरह-तरह के कलर कॉम्बिनेशन पर आधारित होती है,ताकि पिक्चर्स अच्छी निकले.

कम खर्चे की शादी में खूबसूरती के अलावा अधिकतर कपल्स चाहते हैं कि उनकी साज सजावट में भी एक शानदार लुक हो, इसलिए डिटेलिंग के अलवा छोटी-छोटी चीजों पर भी खुद ध्यान देने की जरुरत होती है. इसमें अतिथि का मनोरंजन सबसे ऊपर होना चाहिए, इसके अलावा स्टेज प्रेजेंटेशन, गेस्ट टेबल का अकार जो गोल या चौकोर आकार में सिल्क या लिनेन के रंगीन कपड़े से ढकी होनी चाहिए, ताकि एक कोणीय व्यू मिले.

एक डिजाईन को बड़े में दिखायें

कम खर्चे की शादी में अधिकतर लोग दीवारों पर कम सजावट को समझते हैं, जबकि हकीकत में एक अच्छी थीम या डिजाइन को सोचकर उसे ही बड़े और कलरफुल तरीके से दिखाना अच्छा होता है, जिसका केंद्र बिंदु विवाह का होना चाहिए, इसमें रंग और लाइट से लेकर हर बेसिक चीजे शामिल होनी चाहिए.

फ्लावर पॉवर

फूलों की सजावट आपके हर लुक को शानदार बना देती है. आशु कहते हैं कि फूलों के साथ आप तरह-तरह के एक्सपेरिमेंट कर वैवाहिक परिदृश्य को अधिक सुंदर बना सकते हैं. फूल सजाने के लिए, दूल्हा दुल्हन के लिए, सेंटर टेबल और दीवार की डेकोरेशन के लिए आदि सभी जगहों पर किसी न किसी रूप में प्रयोग किये जा सकते हैं. गेस्ट टेबल और दीवारों को सजाने के लिए अगर बनावटी फूलों का भी सहारा लिया जाय तो खर्च और भी कम होता है, इसके अलावा कलरफुल बेरीज और स्ट्राबेरीज भी सजावट के लिए प्रयोग कर सकते है. ये फ्रेश लुक को बनाये रखने में मददगार साबित होती है.

नेचुरल लाइटिंग

रौशनी को वेडिंग में सबसे खास माना जाता है, ये अगर सही तरह से कर लिया जाए, तो सिंपल और एलीगेंट वेडिंग कल्पना जो आपने की है वह गेस्ट और वेडिंग दोनों को ही आकर्षक लगती है. नेचुरल लाइटिंग विवाह के खर्चे को हमेशा कम करती है. मसलन ओपन हॉल, कोलोनियल स्टाइल हॉल्स या मध्यम रौशनी के कैफे स्टाइल आदि सभी पारंपरिक और शिल्पकारी की पराकाष्ठा को बयान करते हैं.

डिनर फिएस्टा

विवाह में भोजन सबसे महत्वपूर्ण होता है. जिसमें संतुलित आहार होने के साथ-साथ, उसकी गुणवत्ता पर अधिक ध्यान देने की जरुरत होती है. लम्बी लिस्ट ‘मेनू’ में होने से अतिथि खुश हो, ये जरुरी नहीं, क्योंकि वे पूरे ‘मेनू’ का स्वाद चखने में असमर्थ होते है. इसे साधारण और गुणवत्तापूर्ण रखें, क्योंकि आज लोग क्वांटिटी से अधिक क्वालिटी पर विश्वास रखते हैं. इसे परोसने के लिए थोड़ी कला और प्यार रखें ताकि उन्हें एक अच्छा माहौल मिले.

ट्रीट ओ ट्रीट

विवाह में आजकल केक काटने का प्रचलन है. ऐसे में अलग-अलग स्टाइल के केक इसकी शोभा को बढ़ाते है, इसमें आप अपनी कला को शामिल कर इसे खुबसूरत बना सकते है. जरुरत हो तो कुछ फूलों से इसकी शोभा और अधिक बढ़ाई जा सकती है.

परिधान हो यादगार 

हैवी एम्ब्रायडरी वाले गाउन्स और लहंगे का जमाना अब नहीं है. ऐसे में स्टाइलिश और सुंदर दिखने वाले गाउन आज की मांग है. कपल्स आजकल आरामदायक और क्लासिक ड्रेस पहनना पसंद करते है. जिसमें कट्स और प्लीट्स पर ध्यान देना आवश्यक होता है. लहंगा चोली या साड़ी, सिल्क या शिफॉन के कपड़े पर मनपसंद रंग के अनुसार अच्छी कढ़ाई ही वेडिंग को शानदार बनाती है. साथ में सफ़ेद लिली की बुके या बालों में फूल लगाने पर दुल्हन मूर्तिकला की प्रतिरूप लगती है. गहने जरुरत के हिसाब से लेने चाहिए, जिसमें नथ,बाजूबंद और कमरबंद को शामिल करना न भूले.