वज़न कम करने से लेकर glowing स्किन तक, बेमिसाल है सत्तू के फायदे

ये तो हम सभी को पता है की गर्मियों में कई तरह की healthy ड्रिंक्स और फूड्स को खाने की सलाह दी जाती हैं जिससे हमारा शरीर स्वस्थ्य और निरोग रहे.ऐसी ही एक healthy चीज़ और है जो न सिर्फ खाने में स्वादिष्ट है बल्कि इसके अनेकों फायदे भी है.जी हाँ हम बात कर रहे हैं चने से बने सत्तू की जो न सिर्फ खाने में टेस्टी होता है बल्कि आपके कई रोगों को ठीक करने में भी लाभकारी होता है . यह एक ऐसा खाद्य पदार्थ है जो प्राचीन समय से ही हमारे आहार का प्रमुख हिस्‍सा रहा है.विशेष रूप से इसे गर्मीयों के मौसम में खाया जाता है.

सत्तू न सिर्फ प्रोटीन की कमी को पूरा कर सकता है बल्कि यह गर्मियों में कई स्वास्थ्य समस्याओं को दूर करने में भी फायदेमंद माना जाता है. बूढें व्यक्तियों के लिए तो सत्तू अमृत के समान है. बढ़ती उम्र के साथ व्यक्ति को कई समस्याएं घेर लेती हैं जिनमें खराब पाचन, पेट फूलना, कब्ज, एसिडिटी और दिल से जुड़ी कई बीमारियां हो जाती हैं इनमें सत्तू काफी लाभदायक होता है.डॉक्टर्स तो इसे पेट के रोगों के लिए रामबाण इलाज मानते हैं.

आयुर्वेदिक विशेषज्ञों की मानें तो आज के समय में लगभग 90 % लोग गैस्ट्रोइंट्रोटाइटिस नामक रोग से पीड़ित रहते हैं. हर समय जल्दबाजी, तनाव और मिर्च-मसालों का अधिक सेवन करने से पेपटिक ग्रंथि से गैस्ट्रिक रस का रिसाव होता है, जो सेहत के लिए हानिकारक होता है. सत्तू का सेवन करने से इस रिसाव को कम करने में काफी मदद मिलती है.

आइये जानते है चने के सत्तू से होने वाले और फायदों के बारे में-

1-मोटापा कम करने में है सहायक-

कई बार ऐसा होता है की हम पतले होने के चक्कर में सुबह का नाश्ता skip कर देते है .कुछ लोग तो ऐसे है जो भूखे रहकर मोटापा कम करने की कोशिश करते हैं.इससे मोटापा तो कम हो जाता है लेकिन इसका सेहत पर बुरा असर पड़ता है.

पर क्या आप जानते है की चने के सत्तू में एक सम्पूर्ण आहार के लिए जरूरी सभी तत्व पाए जाते हैं. इसलिए इसे खाने या पीने से लम्बे समय तक व्यक्ति को भूख नहीं लगती है. जो वजन कम करने में व्यक्ति की मदद करता है.

ये भी पढ़ें- Monsoon Special: सुबह के नाश्ते में बनाएं हेल्दी और टेस्टी ब्रेड का पोहा

2- शरीर को energy देता है और ठंडक पहुंचाता है

सत्तू की तासीर ठंडी होने की वजह से गर्मियों में इसका सेवन करने की सलाह दी जाती है. इसमें पेट को ठंडा रखने के साथ-साथ ही कई तरह की पेट की बीमारियों को भी दूर करने वाले गुण होते हैं.एसिडिटी के मरीज को चने के सत्तू का सेवन करते रहने से बहुत राहत मिलती है, क्योंकि इसमें मौजूद तत्व एसिडिटी को दूर करने का काम करता है.

लू और डिहाइड्रेशन से बचने के लिए भी सत्तू सबसे बेहतरीन उपाय होता है . सत्तू का खाली पेट सेवन करने से शरीर का तापमान कंट्रोल रहता है.

चने के सत्तू में मिनरल्स, आयरन, मैग्नीशियम और फॉस्फोरस पाया जाता है जो आपके शरीर की थकान मिटाकर आपको आपको अंदर से ताकत देता है और आप जल्दी थकते नहीं हैं और आप स्वस्थ्य रहते हैं. इसके अलावा चने के सत्तू में पाई जाने वाली प्रोटीन लिवर के लिए फायदेमंद होती है.

3- महिलाओं को एनीमिया से निजात दिलाता है-

अक्सर देखा गया है की प्रेग्नेंसी दौरान आयरन की कमी के कारन महिलाओं में एनीमिया की समस्या हो जाती है.सत्तू का शर्बत रोज पाने से इस समस्या से निजात पाई जा सकती है.
सत्तू में मौजूद विटामिन्स और प्रोटीन्स शरीर में पोषक तत्वों की कमी को पूरा कर देते हैं.

4- डायबिटीज और हाई ब्लड प्रेशर की समस्या से राहत देता है –

सत्तू एक लो-ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाली ड्रिंक है जो डायबिटीज रोगियों के लिए काफी फायदेमंद मानी जाती है.सत्तू में मौजूद बीटा-ग्लूकेन शरीर में एक्स्ट्रा ग्लूकोज की मात्रा को कम करता है और शुगर लेवल को नियंत्रित रखता हैं. सत्तू का सेवन रोजाना करने से डायबिटीज काफी हद तक नियंत्रित रहती है. ध्यान रखें इस रोग से पीड़ित लोगों को चीनी वाले सत्तू का सेवन नहीं करना चाहिए.
हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों को सत्तू को पानी में घोलकर उसमें नमक डालकर लेने की सलाह दी जाती है. सत्तू की मौजूद हाई फाइबर शरीर में अच्छे कोलेस्ट्रॉल के साथ बैलेंस बनाकर हाई कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करने में मदद करती है.

5- ग्लोइंग स्किन

सत्तू सिर्फ हमारे शरीर ही नहीं हमारी स्किन के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है.इसका नियमित सेवन करने से हमारी त्वचा हाइड्रेट रहती है और नई कोशिकाओं को बनने में भी मदद मिलती है.

6- बालों के लिए

लंबे, घने, सुंदर और काले बालों की चाह किसको नहीं होती .पर पोषक तत्वों की कमी की वजह से बाल पतले होना, बालों का झड़ना और वक्त से पहले सफेद हो जाना जैसी कई समस्याएं हो जाती हैं और हमारे शरीर की ही तरह हमारे बालों को भी पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है. सत्तू में मौजूद प्रोटीन, विटामिन और एंटीऑक्सीडेंट इस कमी को पूरा कर देते हैं.इसलिए हमें रोज़ इसे अपनी डाइट में शामिल करना चाहिए.

ये भी पढ़ें- Monsoon Special: फैमिली के लिए बनाएं स्पाइसी इडली

ये तो थे सत्तू के फायदे .चलिए अब जानते है की घर पर ही हम सत्तू कैसे बना सकते है.

घर पर कैसे बनाएं सत्तू

सबसे पहले चने को एक कड़ाही में भूनना है या भुना हुआ चना खरीदना है, जो मार्किट में बहुत ही आसानी से उपलब्ध होता है. अब इस चने को ग्राइंडर में पीस ले. अगर आप इसे घर पर भून रहे हैं, तो इसे ठंडा होने दें. फिर एक ग्राइंडर पीस लें . सत्तू तैयार है.

ध्यान रहे- पथरी के रोगियों और कुष्ठ रोग से पीड़ित व्यक्तियों के लिए चने के सत्तू का सेवन हानिकारक है़ इसलिए उन्हें इसका सेवन नहीं करना चाहिए.

अनलिमिटेड कहानियां-आर्टिकल पढ़ने के लिएसब्सक्राइब करें