Summer Special: एक्सपर्ट से जानें गर्मियों में कैसे करें स्किन की केयर

गर्मियां आते ही स्किन पर सारे इन्फेक्शन और प्रोब्लम होने का खतरा बढ़ता जाता है. इसलिए गर्मियों के दिनों में स्किन की सही देखभाल बहुत आवश्यक है. चिलचिलाती धूप, पल्युशन, ह्यूमिडिटी और धूल मिट्टी स्किन की नैचुरल ग्लो को खत्म कर देता है. इन सबसे बचने के लिए गर्मियों में हमे एक अच्छे स्किनकेयर टिप्स की आवश्यकता है और आसान से टिप्स बता रहे हैं, डर्मेटोलॉजिस्ट और एस्थेटिक फिजिशियन संस्थापक और निदेशक, आईएलएएमईडी के डॉ. अजय राणा.

1. स्किनकेयर के लिए सबसे जरूरी है अपने स्किन को एक्सफोलियट करना. हमारी बॉडी और स्किन हर दिन हजारों की तादाद में डेड स्किन सेल्स शेड करती है. जो स्किन को ड्राई और डल बनाती है. इन डेड सेल्स को गिरने से रोकने के लिए स्किन को एक्सफोलिएट करना बहुत जरूरी है. खासकर गर्मियों के दिनों में चेहरे को एक्सफोलिएट करना न भूले. एक्सफोलियेट करने के लिए एक्सफोलिएटर को सर्कुलर मोशन में मूव करें.

2. गर्मियों में सबसे जरूरी है एक अच्छे सनस्क्रीन का इस्तेमाल करना. ऐसे सनस्क्रीन का इस्तेमाल करें जिसकी एसपीएफ रेटिंग 30 या 70 हो. जो स्किन को सूरज की हानिकारक युवी किरणों से बचाता है. हर एक दो घंटे में सनस्क्रीन का दुबारा इस्तेमाल करें.

ये भी पढ़ें- 10 टिप्स: नाक के आसपास होने वाले पिगमेंटेशन से बचें ऐसे

3. गर्मियों के दिनों में जितना कम हो उतना कम मेक अप यूज करें. क्योंकि मेकअप स्किन के पोर्स को बंद कर देता है. अगर आपको मेकअप यूज करना भी पड़े तो उससे पहले एक अच्छी एसपीएफ का फेस पाउडर का इस्तेमाल करें जिससे स्किन पर इचिंग नहीं होगी.

4. गर्मियों में बॉडी और स्किन को हाइड्रेट रखना आवश्यक है. इसके लिए हर रेगुलर इंटरवल पर पानी पीते रहे. स्किन को हाइड्रेट रखने से स्किन में मौजूद सभी हार्मफुल टॉक्सिन्स निकल जाते है.

5. गर्मियों के दिनों में हमेशा कॉटन और लाईट फैब्रिक के ही कपड़े पहने, जो स्किन को किसी भी प्रकार के इरीटेशन और पसीने के कारण होने वाले इन्फेक्शन से बचाता है. क्योंकि गर्मियों में पसीने के कारण रैशेज और अन्य प्रकार के स्किन कंडीशन के होने के चांसेज ज्यादा होते है.

6. गर्मियों के दिनों में ऐसे स्किनकेयर प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करें जो नैचुरल हो ताकि स्किन ब्रिद कर सकें. इसके लिए लाइटर लोशन्स और सीरम का प्रयोग करना चाहिए. ऐसे किसी भी स्किनकेयर प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल न करें, को स्किन के पोर्स को बंद कर दें. वॉटर वाले मॉइश्चराइज सबसे बेस्ट होते है. उनका इस्तेमाल करें. ऑइली और एक्ने प्रॉन स्किन के लिए ऐसे मिनरल बेस्ड फेशियल स्प्रे का इस्तेमाल करें.

7. गर्मियों के दिनों में हमें स्पेशल स्किनकेयर रूटीन फॉलो करना चाहिए. ताकि स्किन हाइड्रेट और क्लीन रहे. गर्मियों के दिनों में बहुत सारे लोगों को ब्रेकआउट और एक्ने की समस्या होती है. इसलिए आवश्यक है कि अपनी स्किन को दिन में 3 से 4 बार धोए. सप्ताह में दो बार कम से कम स्क्रब का इस्तेमाल करें.

8. गर्मियों के दिनों में बेसिक स्किनकेयर रुटीन को अपनाए. जो है – क्लीनिंग, टोनिंग और मॉइचराइजिंग. इसका इस्तेमाल हर दिन सोने से पहले करें. पसीने के कारण स्किन के पोर्स खुल जाते है. इसके लिए टोनर का उपयोग करें, यह स्किन के पोर्स को बंद करने में मदद करता है. इन सबके इस्तेमाल से आप गर्मियों में होने वाले रिंकल्स और एजिंग से बच सकते है.

ये भी पढ़ें- 6 टिप्स: पिंपल से पाना हो छुटकारा तो घर पर बनाएं क्‍लींजर

9. गर्मियों के दिनों में जितना हो सके विटामिन सी का प्रयोग करें. वैसे तो विटामिन सी का प्रयोग हर सीजन में अच्छा होता है. पर गर्मियों के दिनों में यह स्किन के लिए सबसे ज़रूरी होता है. विटामिन सी हमें हाइपरपिगमेंटेशन से बचाता है, स्किन पर होने वाले फाइन लाइन्स को कम करता है, और साथ ही साथ कोलेजन के प्रोडक्शन को भी बढ़ाता है.

10. अपनी डाइट में ऐसी चीज़े लें जिसमें विटामिन, न्यूट्रिएंट्स और एंटी ऑक्सीडेंट्स की मात्रा ज्यादा से ज्यादा हो. ज्यादा से ज्यादा फ्रूट्स और सब्जियां खाएं. यह इनफ्लैमेशन को कम करने के साथ साथ स्किन में कोलेजन के प्रोडक्शन को बढ़ाता है और स्किन को अन्य प्रकार के डैमेज से भी बचाता है.

ब्यूटी के लिए जरूरी है आयरन

बाहर से आप कितना भी मेकअप कर लें लेकिन जब तक अंदर से सेहतमंद नहीं रहेंगी चेहरे पर चमक नहीं आएगी. आप की थकी हुई आंखों के आसपास काले घेरे, बेजान, रूखी व बुझी हुई पीली त्वचा, रूखे व कमजोर बाल और नाखून आप की सारी कहानी कह देंगे. जिसे आप चाह कर भी मेकअप से छुपा नहीं पाएंगी. जी हां अगर आप के शरीर में भी आयरन की कमी है तो इन समस्याओं से आपको भी जूझना पड़ सकता है.

भागदौड़ भरी लाइफ में हैल्थ को ले कर अकसर महिलाएं लापरवाही करती हैं और अपना खयाल नहीं रखतीं जिस से उन के शरीर में आयरन की कमी हो जाती है जिस का सीधा असर उन की सुंदरता पर पड़ता है. इसलिए आप भी अपनी सुंदरता को बनाए रखने के लिए ऐसी चीजों का सेवन करें जिस से आप के शरीर में आयरन की सही मात्रा सुनिश्चित हो सके और आप ऐनीमिया का शिकार भी न हों.

आयरन की कमी का ब्यूटी पर असर

शरीर में आयरन की सही मात्रा का न होना त्वचा के साथसाथ बालों व शरीर के दूसरे हिस्सों को भी प्रभावित करता है.

नाखूनों का टूटना: नाखून महिलाओं की सुंदरता का एक अहम हिस्सा हैं. सुदंरता को निखारने के लिए सुंदर नाखून का होना जरूरी है. जब आप के नाखून पीले पड़ने लगें और बेजान हो कर टूटने या मुड़ने लगें तो आप सावधान हो जाएं, क्योंकि ये सभी शरीर में आयरन की कमी के संकेत हैं. इसलिए अगर आप भी सुंदर बने रहना चाहती हैं तो आयरन युक्त डाइट लें.

बेजान त्वचा: जब शरीर में आयरन की कमी हो जाए तो चेहरा पीला पड़ने लगता है. क्योंकि आयरन की कमी से हीमोग्लोबिन का स्तर कम हो जाता है और हीमोग्लोबिन से ही खून को लाल रंग मिलता है जिस से हमारे चेहरे पर पर हल्की लालिमा वाली रंगत बनी रहती है. जब शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं की कमी हो जाती है तो चेहरे का पीलापन और बेजान त्वचा स्वाभाविक है.

डार्क सर्कल्स: आंखों के नीचे और आसपास काले घेरे किस महिला को अच्छे लगते हैं. अगर शरीर में आयरन की कमी होगी तो आप की आंखों के नीचे काले घेरे यानी डार्क सर्कल्स नजर आने लगेंगे.

बालों पर असर: जब शरीर में आयरन की कमी हो जाती है तो रक्त संचार पर असर पड़ता है जिस से आक्सीजन सही मात्रा में स्कैल्प तक पहुंच नहीं पाती. नतीजा यह होता है कि बाल धीरेधीरे रूखे व बेजान हो कर झड़ने लगते हैं. जब जरूरत से ज्यादा बाल झड़ने लगें तो डाक्टर से संपर्क करें और यह जानने की कोशिश करें कि कहीं आप ऐनीमिया की शिकार तो नहीं.

नैचुरल ग्लो के लिए ऐसी हो डाइट

यदि आप भी चाहती हैं कि आप की त्वचा नैचुरली ग्लो करे तो खाने में हरी पत्तेदार सब्जियां, गाजर, टमाटर, चुकंदर, इत्यादि जरूर शामिल करें.

त्वचा की कोशिकाओं को सेहतमंद और बालों को मजबूत व चमकदार बनाए रखने के लिए हरी सब्जियों के साथसाथ अंडा, टूना मछली, बींस, सोयाबीन, टोफू और नट्स भी अपनी डाइट में शामिल कर सकती हैं.

कुछ और भी चीजें हैं जिन के सेवन से आप के शरीर में आयरन की कमी दूर होती है. सुंदरता में बाल और नाखून चार चांद लगाते हैं. इन की मजबूती और चमक के लिए आयरन बहुत जरूरी है. इसलिए आप अपनी डाइट में रैड मीट, चिकन, साबूत अनाज, अंकुरित अनाज, काबुली चने, गुड़, पालक व टमाटर के सूप को शामिल करें.

आयरन की कमी है तो न खाएं ये चीजें

आयरन की कमी से शरीर में ऐनीमिया, सांस की बीमारी और थकान जैसी समस्याएं हो जाती हैं. साथ ही हीमोग्लोबिन की कमी से आक्सीजन बौडी के सभी हिस्सों तक सही मात्रा में पहुंच नहीं पाती. ऐसे में समस्या और न बढ़े इस के लिए खानेपीने की कुछ चीजों से दूर रहना ही बेहतर होगा जैसे कि चौकलेट, चाय व कौफी इत्यादि.

चौकलेट: चौकलेट में कोको होता है जो आयरन को शरीर में अवशोषित होने से 70 प्रतिशत तक रोकता है. तो अगर आप ऐनीमिया की शिकार हैं तो इस दौरान चौकलेट का सेवन न करें.

चाय व कौफी: चाय और कौफी में पोलीफेनोल होता है. यह भी आयरन के अवशोषण में बाधक है.

ब्लैक और हर्बल टी: कुछ शोधों में यह बात सामने आई है कि ब्लैक और हर्बल टी पीने से आयरन के अवशोषण में 50 से 70% तक बाधा आती है. इसलिए अगर आप ऐनीमिक हैं तो इन पेय पदार्थों से दूर रहें.

अनलिमिटेड कहानियां-आर्टिकल पढ़ने के लिएसब्सक्राइब करें