मेरे चेहरे पर पिंपल मार्क्स हैं , अब मैं क्या करुं?

सवाल-

मेरी उम्र 16 साल है. मेरे चेहरे पर फुंसियां निकली थीं तो मैं ने उन्हें फोड़ दिया था. अब उन के मार्क्स रह गए हैं जो देखने में भद्दे लगते हैं. कोई घरेलू उपाय बताएं जिस से मार्क्स खत्म हो जाएं तथा मेरे चेहरे का ग्लो लौट आए?

जवाब-

कई बार दानों को छील देने से त्वचा पर उस के भद्दे निशान पड़ जाते हैं. आप घर पर रोज सुबहशाम अपने चेहरे को धो कर एएचए सीरम से फेस की मसाज कर सकती हैं. ऐसा करने से मार्क्स काफी हद तक कम हो जाएंगे. लेकिन अगर ऐसा नहीं होता है तो आप माइक्रोडर्मा एब्रेजर व लेजर थेरैपी की सिटिंग्स ले सकती हैं. इस थेरैपी में लेजर की किरणों से त्वचा को रीजनरेट कर के नया रूप दिया जाता है. उस के बाद यंग स्किन मास्क से त्वचा को निखारा जाता है.

सवाल-

वैक्सिंग के बाद मेरी स्किन पर लाल धब्बे उभर आते हैं. मैं अनचाहे  बालों को हटाने के लिए क्या उपाय अपना सकती हूं?

जवाब-

आप वैक्सिंग से पहले ऐंटीऐलर्जिक टैबलेट ले सकती हैं. वैसे इस समस्या से परमानैंट छुटकारा पाने के लिए पल्स लाइट ट्रीटमैंट की सिटिंग्स ले सकती हैं. ये एक इटैलियन टैक्नोलौजी है जो अनचाहे बालों को रिमूव करने का सब से तेज, सुरक्षित व दर्दरहित समाधान है. लेजर अंडरआर्म्स के बालों पर ज्यादा इफैक्टिव होती है. इसी कारण इस की कुछ ही सिटिंग्स में बाल न के बराबर हो जाते हैं. इस से 80% तक अनचाहे बाल दूर हो जाते हैं और शेष बाल इतने पतले और हलके रंग के हो जाते हैं कि वे नजर नहीं आते.

अगर आपकी भी ऐसी ही कोई समस्या है तो हमें इस ईमेल आईडी पर भेजें- submit.rachna@delhipress.biz   सब्जेक्ट में लिखे…  गृहशोभा-व्यक्तिगत समस्याएं/ Personal Problem

पिंपल्स के दाग दूर करने का कोई उपाय बताएं?

सवाल-

मेरी उम्र 18 साल है. मैं जब भी पिंपल्स के दाग दूर करने के लिए मसूर की दाल का उबटन लगाती हूं तो फिर से कोई न कोई पिंपल निकल आता है. पिंपल्स और उन के दाग दूर करने का कोई उपाय बताएं?

जवाब-

आप की प्रौब्लम से लगता है कि आप की स्किन अति संवेदनशील है तभी बारबार आप के चेहरे पर दाने निकल आते हैं. आप उबटन का प्रयोग न करें. अकसर उबटन सूखने के बाद उसे मल कर छुड़ाने से स्किन के जिस भाग में नमी और तेल की जरूरत होती है, वहां से वे निकल जाते हैं. इसलिए प्र्रभावित स्थान पर नीम व तुलसी की पत्तियों का पैक लगाएं. आप चाहें तो ताजा पत्तियों को पीस कर घर पर भी यह पैक तैयार कर सकती हैं. ऐलोवेरायुक्त क्रीम का इस्तेमाल भी फायदेमंद साबित होगा. इस से मुंहासे कम होंगे और धीरेधीरे उन के दाग भी दूर हो जाएंगे.

आज की भागदौड़ भरी और व्यस्त जीवनशैली का विपरीत असर चेहरे की स्किन पर पड़ता है, जिससे स्किन संबंधी समस्याएं होने लगती हैं. इन समस्याओं में पिंपल्स का होना सबसे आम है और इससे निपटने के लिए हम कई उपाय भी करते हैं.

अक्सर हम इस बात को नजरअंदाज कर देते हैं कि किस तरह हमारा फेशियल क्लेन्जर पिंपल्स से छुटकारा दिलाने के बजाय और भी नुक्सान पहुंचा रहा है. साधारण टॉयलेट सोप पिंपल्स के लिए नुक्सानदायक होने के साथ-साथ उन्हें बढ़ा भी सकता है.

सोप पिंपल्स से निपटने के लिए सही उपाय क्यों नहीं हैं?

यदि चेहरे पर पिंपल्स हैं, तो ऐसे में साबुन का इस्तेमाल करना पिंपल्स के लिए हानिकारक साबित हो सकता है. चेहरे की स्किन शरीर की बाकी स्किन की तुलना में ज्यादा संवेदनशील होती है. साबुन चेहरे के पीएच स्तर को प्रभावित करता है, जिससे स्किन रूखी नजर आने लगती है. चेहरा जब ज्यादा ड्राई हो जाता है, तब यह तेल ग्रंथियों को सक्रिय कर देता है. ऐसे में पिंपल्स पैदा करने वाले बैक्टीरिया स्किन पर पनपने लगते हैं और पिंपल्स की समस्या भी बढ़ने लगती है.

ऐसे में हमें चाहिए एक ऐसा सोप-फ्री फेशियल क्लेन्जर जिसमें ऐसे तत्त्व हों जो पिंपल्स से छुटकारा दिला सकें. हिमालया प्यूरीफाइंग नीम फेसवाश पूरी तरह सोप-फ्री है इसलिए पिंपल्स पर हार्श नहीं होता.

हिमालया प्यूरीफाइंग नीम फेसवाश सोप फ्री फेसवाश है. यह स्किन की गंदगी को साफ करने के साथ-साथ आपके चेहरे को पिंपल्स से भी मुक्त करता है. इसमें नीम और हल्दी जैसे प्राकृतिक गुण होते हैं जो चेहरे की स्किन पर पिंपल्स के कारण पनपने वाले बैक्टीरिया से लड़ने का काम करते हैं और इस तरह पिंपल्स की समस्या से छुटकारा दिलाने में यह फेसवाश सहायक है. तो साफ-सुथरी और पिंपल फ्री स्किन पाने के लिए सोप फ्री फेसवाश अपनाने का यही है सही समय.

कोई घरेलू उपाय बताएं जिससे चेहरे के पिंपल मार्क्स खत्म हो जाएं?

सवाल-

मेरी उम्र 16 साल है. मेरे चेहरे पर फुंसियां निकली थीं तो मैं ने घर पर ही फोड़ दी थी. अब उन के मार्क्स रह गए हैं जो काले हो गए हैं और देखने में भद्दे लगते हैं. कोई घरेलू उपाय बताएं ताकि मार्क्स खत्म हो जाए तथा चेहरे का ग्लो लौट आएं.

जवाब

कई बार दानों को छील देने से त्वचा पर भद्दे निशान पड़ जाते हैं. आप घर पर रोज सुबहशाम चेहरे को धो कर एएचए सीरम से फेस की मसाज कर सकती हैं. ऐसा करने से मार्क्स काफी हद तक कम हो जाएंगे. लेकिन अगर ऐसा नहीं होता है, तो आप माइक्रोडर्मा ऐब्रेजर व लेजर थेरैपी की सिटिंग्स ले सकती हैं. इस थैरेपी में लेजर की किरणों से त्वचा को रिजनरेट कर के नया रूप दिया जाता है. उस के बाद यंग स्किन मास्क से त्वचा को निखारा जाता है.

ये भी पढ़ें-

आप अपने चेहरे की खूबसूरती और उसके निखार को बनाए रखने के लिए क्या कुछ नहीं करतीं, लेकिन जब सवाल आता है बौडी की त्वचा का, तब आप उसका खयाल नहीं रखतीं, आप भूल जाती हैं कि चेहरे के नीचे की त्वचा का निखार बरकरार रखना भी जरूरी है…

भ्रम और तथ्य

भ्रम: बौडी लोशन केवल ड्राई स्किन वालों के लिए होते हैं.

तथ्य: उम्र और प्रदूषण का फर्क त्वचा पर भी पड़ता है जिससे त्वचा की नमी और पीएच बैलेंस बिगड़ जाता है. इसलिए ऐसे बौडी लोशन का चुनाव करें जो वर्ष भर आपकी त्वचा की सुरक्षा करे.

भ्रम: सारे मौइश्चराइजर एक जैसे होते हैं.

तथ्य: मौइश्चराइजर कई प्रकार के होते हैं जिन्हें आप अपनी त्वचा के अनुसार चुन सकती हैं. सही मिश्रण वाला मौइश्चराइजर वह होता है जिसमें ग्लिसरीन, डाईमैथिकन और जैली जैसे बहुमूल्य पदार्थों की सही मात्रा हो. ऐसे बौडी मौइश्चराइजर का चुनाव करें जो आपकी त्वचा को गहराई से मौइश्चराइज कर उसे डैमेज होने से बचाए.

भ्रम: बौडी लोशन की आवश्यकता केवल सर्दियों में ही पड़ती है.

तथ्य: सर्दी हो या गरमी, मौइश्चराइजर की जरूरत त्वचा को हर मौसम में पड़ती है. कई महिलाएं गरमी के मौसम में सिर्फ इस डर से मौइश्चराइजर का इस्तेमाल नहीं करतीं, क्योंकि उनकी यह मान्यता है कि मौइश्चराइजर लगाने से उन्हें अधिक पसीना आएगा और त्वचा चिपचिपी हो जाएगी. लेकिन यह गलत सोच है. वास्तव में कड़ी धूप आपकी त्वचा को नुकसान पहुंचाती है और उसे रूखी व बेजान बना देती है. आप ऐसे बौडी लोशन का चुनाव करें जो नौनस्टिकी होने के साथसाथ आपकी त्वचा को हाइड्रेटेड और मुलायम रखे.

पूरी खबर पढ़ने के लिए- बौडी स्किनकेयर भी है जरूरी!

अगर आपकी भी ऐसी ही कोई समस्या है तो हमें इस ईमेल आईडी पर भेजें- submit.rachna@delhipress.biz
 
सब्जेक्ट में लिखे…  गृहशोभा-व्यक्तिगत समस्याएं/ Personal Problem

अगर आप भी है मुहांसों के जिद्दी दागों से परेशान तो अपनाये ये घरेलू टिप्स

बेदाग़ चेहरा कौन नहीं चाहता .चाहे पुरुष हो या महिला कोई भी ये नहीं चाहता की उसके चेहरे पर दाग -धब्बो के निशान हो.चेहरे पर दाग धब्बे होना बहुत ही गंभीर समस्या है .दरअसल लोग हमे हमारे चेहरे से जानते हैं.और अगर हमारे चेहरे पर दाग धब्बों के निशान होंगे तो कही न कही हमारा सेल्फ कॉन्फिडेंस कम हो जायेगा.

आजकल के बढ़ते pollution , गलत खानपान, हॉर्मोन में बदलाव और ऑयली स्किन होने के कारण हमारे चेहरे पर मुंहासे उभरकर आते है. मुंहासे यानी पिम्पल्स होना एक ऐसी समस्या है जो सामान्तया 95% लोगो में पाई जाती है और इससे चेहरा पूरी तरह बेरंग हो जाता है. पिंपल न केवल दर्दनाक होते हैं, बल्कि पिंपल्स के दाग पर अगर वक्त रहते ध्यान नहीं दिया जाए, तो ये उम्र भर चेहरे पर बने रहते हैं.

हममे से बहुत से लोग इन दाग धब्बो से छुटकारा पाने के लिए तरह-तरह के ब्यूटी प्रोडक्ट अपनाते है, पर उन ब्यूटी प्रोडक्ट से भी हमे फायदे के बजाये नुक्सान ही होता है. क्योंकि उनमे तरह तरह के केमिकल मिले होते है जिनके कारन हमारी त्वचा का नेचुरल ग्लो बिलकुल ख़त्म हो जाता है.

इसलिए आज हम आपको पिम्पल्स के दाग हटाने के घरेलू उपाय के बारे में बताएँगे .ये उपाय बहुत ही आसान और नेचुरल है और इनसे आपको कोई भी साइड इफ़ेक्ट नहीं होगा.

1-हल्दी,शहद और टमाटर –

हल्दी को वर्षों से त्वचा पर निखार लाने के लिए उपयोग किया जा रहा है. हल्दी में एंटीबैक्टीरियल तत्व होते है. जिसमे औषधीय गुण पाया जाता है यह दाग-धब्बों को हल्का कर त्वचा की रंगत को निखारता है.
टमाटर भी चेहरे के लिए काफी फायदेमंद होता है. इसमें भरपूर मात्रा में लाइकोपिन होता है. जो त्वचा की रंगत बढ़ाने के साथ-साथ पिम्पल के दाग से भी राहत प्रदान करता है और चेहरे में गोरापन लाता है.

हमें चाहिए-

हल्दी-1/2 छोटी चम्मच
टमाटर का रस -2 चम्मच
शहद-1/2 छोटी चम्मच

लगाने का तरीका-

हल्दी,शहद और टमाटर के रस को मिलाकर अपने चेहरे पर लगाये.10 मिनट तक इसे चेहरे पर लगा रहने दे.10 मिनट के बाद चेहरे को ठन्डे पानी से धो लें.
आप इसे हफ्ते में 3 से 4 बार लगा सकती हैं.

ये भी पढ़ें- 30 सैकंड में पाएं मुलायम और चिकनी स्किन

2- आलू का रस –

आलू खाने के तो बहुत से फायदे सुने होंगे आपने पर क्या आप जानते है की आलू को त्वचा में निखार लाने और दाग-धब्बों को कम करने के लिए उपयोग किया जाता है.

हमें चाहिए-

कच्चे आलू का रस
रूई

लगाने का तरीका-

कच्चे आलू को कुचलकर उसका रस निकाल लें.फिर इस रस में रूई डुबाकर अपने पूरे चेहरे या सिर्फ पिंपल्स के दाग पर लगाएं. इसे 20 से 30 मिनट के लिए चेहरे पर लगा रहने दें और फिर चेहरे को पानी से धो लें.
आप इसे हर रोज एक बार लगा सकते हैं.

3- दलिया,शहद और नींबू का मास्क-

जिन्हें बार-बार कील-मुंहासों की परेशानी होती है, उनके लिए दलिया का फेस पैक बहुत फायदेमंद है. यह त्वचा से अधिक तेल को सोख लेता है और इसका एक्सफोलिएटिंग गुण त्वचा के क्षतिग्रस्त कोशिकाओं को ठीक करता है साथ ही साथ ये त्वचा को हाइड्रेटेड भी रखता है.

हमें चाहिए-

दलिया- 2 चम्मच
शहद- 1 चम्मच
नींबू का रस-1 चम्मच

लगाने का तरीका-

दो चम्मच दलिया को एक चम्मच नींबू के रस और एक चम्मच शहद के साथ मिलाकर पेस्ट बनाएं.इस मिश्रण को अपने चेहरे के मुंहासों के दाग पर लगाएं. इसे 30 मिनट तक लगा रहने दें फिर पानी से धो लें.
आप हफ्ते में दो से तीन बार इस पैक को लगा सकते हैं.

4. चिरौंजी का मास्क-

त्वचा की रंगत में निखार लाने के लिए चिरौंजी से बेहतर कुछ नहीं है.चिरौंजी में बहुत सारे ऐसे कंपाउंड होते है जो दाग धब्बो को मिटाने के काम आते हैं.

हमें चाहिए-

चिरौंजी के दाने-20 से 25
दूध -1 छोटा चम्मच
हल्दी- ½ छोटी चम्मच

बनाने का तरीका-

सबसे पहले चिरौंजी को लगाने से 1 रात पहले पानी में 6 से 7 घंटे के लिए भिगो दे.फिर इसका पेस्ट बना ले और उसमे दूध और हल्दी मिलाकर अपने चेहरे पर लगा लें.10 से 15 मिनट के बाद चेहरे को धो लें.
आप इसे रोज़ दिन में 1 बार लगा सकती हैं.
अगर आपकी त्वचा ऑयली है तो आप चिरौजी के पेस्ट में दूध और हल्दी की जगह ½ छोटी चम्मच कॉर्नफ्लोर और ½ चम्मच नीम्बू का रस मिलाकर लगायें.

5. ग्रीन-टी

ग्रीन-टी का सेवन स्वास्थ्य के लिए तो अच्छा है ही, साथ ही त्वचा के लिए भी बहुत अच्छा है. ग्रीन-टी में कैटेकिन होता है, जो न सिर्फ मुंहासे के सूजन को कम करता है, बल्कि मुंहासे के दाग को भी कम करता है .यह उपाय तब और फायदेमंद होगा, जब ग्रीन-टी का रोज सेवन करेंगे और दिन में एक बार मुंहासे के दाग पर इसे नियमित रूप से लगाएंगे.

ये भी पढ़ें- मौनसून में ट्राय करें ये 8 ब्यूटी टिप्स

हमें चाहिए-

उपयोग किया हुआ ग्रीन-टी बैग

लगाने का तरीका-

ग्रीन-टी पीने के बाद, जो ग्रीन-टी बैग बच जाता है उसे अपने दाग पर लगाएं.आप ग्रीन-टी के पत्तों को निकालकर उसका फेस पैक बना सकते हैं.
आप इसे हर रोज एक बार लगा सकते हैं.

इन बातों पर भी दे ध्यान-
इन घरेलू उपायों के साथ अगर आप कुछ और छोटी छोटी बातों का ध्यान रखेंगे तो बेहतर होगा.
• हर रोज कम से कम दो बार अपना चेहरा धोएं.
• सोने से पहले अपना मेकअप हटाएं.
• अगर पिंपल निकले, तो उसे दबाएं या हाथ न लगाएं.
• सूरज की हानिकारक किरणों से बचे और जब भी बाहर जाएं, तो न सिर्फ सनस्क्रीन लगाएं, बल्कि चेहरे को स्कार्फ से ढकें.
• स्वस्थ आहार लें, फल, हरी सब्जियों व ड्राई फ्रूट्स का सेवन करें.
• सुबह टहलना, योग और एक्ससरसाइज़ करना भी त्वचा के लिए लाभदायक है.
• मोइसोइरिजर क्रीम का इस्तेमाल करे.
• ज्यादा मात्रा में कैफीन युक्त और ऑयली चीजों का सेवन न करे.
• मुहासे की समस्या से बचने के लिए 8-10 गिलास पानी रोज पिए.

अनलिमिटेड कहानियां-आर्टिकल पढ़ने के लिएसब्सक्राइब करें