Holi Special: एक्सपर्ट से जानें होली के रंग से कैसे करे अपने चेहरे का बचाव

होली एक ऐसा त्यौहार है जिसमें हम भरपूर मस्ती और उत्साह के साथ एक दुसरे पर रंग डालते हुए मनाते है. लेकिन हमें यह भी पता होना चाहिए की यही रंग हमारे चेहरे और शरीर को नुकसान पंहुचा सकता है. शरीर को नुकसान से बचाने के लिए कुछ आसान से उपाय अपना कर  त्यौहार का पूरा मजा ले सकते हैं.

त्यौहार के दिन हम अपने परिवार और दोस्तों के साथ व्यस्त रहते है लेकिन जब रिलेक्स करने की बारी आती है तो थकावट से उभर नहीं पाते. इस समस्या से कैसे निपटे इस बारे में बता रहीं हैं Cleopatra beauty wellness & makeovers की beauty expert, R.cha aggarwal.

अगर हम होली में रंगों की बात करे तो देखा जाता है की लोगों की  पसंद विभिन्न हो होती है नेचुरल से लेकर ओरगेनिक  रंग तक. बाज़ार में हर तरह के रासायनिक रंग उपलब्ध है जो काफी कठोर  किस्म के पाए जाते है जो आपके चेहरे और बालों के लिए हानिकारक होता है. स्कैल्प हमारे शरीर का सबसे महत्तवपूर्ण अंग है. ये रासायनिक तत्व हमारे चेहरे और बालों को डैमेज कर देता है.

नेचुरल रंग जो फूल और पौधों से बना होता है जिसपर किसी तरह का कीटनाशक नहीं होता और जिसे हम सुरक्षा के साथ इस्तेमाल कर सकते है. जिन लोगो के स्किन सेंसेटिव और डिहाइड्रेट है और वे अगर किसी तरह के हार्मोनल इम्बैलेंस थाइरोइड  जैसे बीमारी से पीड़ित है, उन्हें होली से बचना चाहिए. इन लोगो को खासकर होली के 15 दिन पहले से अपनी त्वचा का ध्यान रखना शुरू कर देना चाहिए.  या तो उन्हें टीट्री  या फिर लेवेंडर ऑयल लगभग 30 मिनट तक लगाकर रखने के बाद नहाना चाहिए. ऐसा रोजाना दो बार करना ही चाहिए. ये आपको को होली के रंग से बचने में मदद करेगा.

ये भी पढ़ें- Holi Special: न्यूड मेकअप लुक के 11 ट्रिक्स

अक्सर लोग अपने बालों के बचाव के लिए शेम्पू, ब्लीचिंग अथवा हेअर कलर का उपयोग करते है, ताकि बालो से रंग हट जाये. लेकिन कठोर रंग जल्दी से नहीं जाता. रसायनिक रंगों का इस्तेमाल होने के वजह से आपके स्कैल्प में नफेक्शन हो जाता है और ब्लीचिंग के इस्तेमाल से चेहरे पर रैशेस  आने का खतरा बढ़ जाता है. और आपके बालों का रंग समय से पूर्व धीरे-धीरे सफ़ेद पड़ने लगता है. बालों का विशेष ध्यान रखते हुए माइल्ड शेम्पू के साथ दही का इस्तेमाल करे. ये आपके बालों के लिए न सिर्फ कंडीशनर  का काम करेगा बल्कि आपके बालों को काफी स्ट्रोंग बनाता है बिना किसी नुकसान पहुचाये.

उसी तरह लोग रंग हटाने के लिए कठोर स्क्रब  का इस्तेमाल अपने त्वचा पर करते है जैसे एप्रीकॉट (apricot) और वालनट (walnut) scrubs. कभी- कभी scrub से तेज़ रगड़ने पर चेहरे पर दाग हो जाती है या स्किन अपनी नमी खो देता है और आपको चेहरे पर rashes और pigmentation का सामना करना पड़ता है. आप रोजाना ४ या 5 दिनों तक माइल्ड scrub का इस्तेमाल करे इससे न ही सिर्फ चेहरे का रंग हटेगा बल्कि आपके चेहरे में चमक आएगी. aromatherapy में कुछ न इस्तेमाल करते हुए आप अगर एक चम्मच जोजोबा आयल में दो बूँद w.thers lavender या jasmine oil का इस्तेमाल करने से आपकी स्किन से जुडी समस्या तुरंत हल हो जाएगी. और ये आपको सूरज की रौशनी से भी आपकी त्वचा का बचाता है. सबसे जरुरी बात पर आते है वो है जब आप होली खेलने के बाद थक जाते है और आप बहुत  थकावट महसूस करते है. पहला तरीका है की आप न्यूनतम 3 से 4 घंटे की नींद अवश्य ले जो आपके शरीर को आराम देगा. आप किसी अच्छे से pedispa या  pedicure क्लिनिकल के पास जा सकते है. pedispa और deep lymphatic मसाज न ही सिर्फ आपके पैरों को आराम देता है बल्कि आपके पुरे शरीर को detoxify करता है और इसी तरह फुल बॉडी स्पा आपको राहत देता है.

अगर आप चाहे तो आप फुल full बॉडी में chocolate spa भी करा सकते हैं ये सबसे अच्छा उदहारण है.

लेकिन ध्यान से आप  पूरी बॉडी स्टीम ट्रीटमेंट जरूर ले जो बॉडी स्पा के बाद बहूत जरुरी है.

इसके अलावा ज़्यादा से ज़्यादा फल का जूस जैसे अनानास, संतरा, स्ट्राबेरी इत्यादि का उपयोग  करे ये आपके सेहत के लिए काफी अच्छा होता है और आपकी बॉडी में फुर्ती लाता है. इन सभीट्रीटमेंट से पहले  पूरी नींद लेना आवयशक है.

ये भी पढ़ें- Holi Special: रंगों के बीच ऐसे रखें अपनी खूबसूरती को बरकरार

Holi Special: रंगों के बीच ऐसे रखें अपनी खूबसूरती को बरकरार

होली मतलब रंगों का त्योहार, अपनों का साथ, मस्ती और खूब सारा धमाल. रंगों की हमजोली में हर कोई डूब जाना चाहता है, लेकिन रंगों का ये त्योहार खुशियों के साथ में कभी कभी कुछ तकलीफें भी दे जाता है. कई बार हम इस डर से भी रंगों से तौबा कर लेते हैं कि कहीं इससे हमारे बाल या त्वचा खराब न हो जाए. लेकिन अब चिंता करने की जरूरत नहीं है, क्योंकि आज हम आपके लिए कुछ ऐसे ब्यूटी टिप्स लेकर आएं हैं जो ना कि आपको रंगो से होने वाली समस्याओं से छुटकारा दिलाएगा बल्कि आपकी खूबसूरती में चार चांद भी लगाएगा.

अगर आप होली के रंगों की खुशियों में रंगने के साथ अपनी खूबसूरती भी बरकरार रखना चाहती हैं, तो इसके लिए आपको पहले से ही तैयार होना पड़ेगा. होली में रंगों से होने वाले नुकसान से बचने के लिए अपनाएं ये टिप्स-

ढीले-ढाले और फुलस्लीव कपड़े पहनें

रंगों से खुद को ज्यादा से ज्यादा बचा कर रखने का सबसे बेहतर तरीका है फुलकवर्ड कपड़े. होली में दोस्तों के संग टोलियों में रंगों का मजा लेने के लिए ढीले-ढाले कपड़े जैसे फुल जींस और फुलस्लीव टीशर्ट, सलवार कमीज आदि पहनने चाहिए. ऐसा करने से आपका बदन ढंका रहेगा और काफी हद तक रंगों से बचा भी रहेगा. इतना ही नहीं इन कपड़ों में आप खुद को कंफर्टेबल भी महसूस करेंगी.

ये भी पढे़ं- Holi Special: होली पर रखें इन 10 टिप्स से बालों का खास ख्याल

अपनी स्किन पर चढ़ाएं सुरक्षा कवच

सुबह उठकर सबसे पहले अपने शरीर पर तिल का तेल, सरसों का तेल, औलिव औयल या फिर कोई अन्य बौडी औयल लगाएं. चेहरे और गर्दन की त्वचा को रंग के असर से बचाने के लिए उस पर वाटर प्रूफ बेस लगाएं. ऐसा करने से रंग त्वचा पर चढ़ेगा नहीं और नहाते समय आसानी से धुल जाएगा.

बालों की करें देखभाल

बालों को रंगों के प्रभाव से बचाने के लिए तेल अच्छा विकल्प है. बालों पर जोजोबा, रोजमेरी या नारियल तेल की मसाज करें. अगर बाल लंबे हैं, तो तेल लगाकर टाइट जूड़ा या पोनी बना लें. इससे स्कैल्प और बालों में रंग जड़ों तक नहीं समाएगा और आसानी से निकल भी जाएगा. यदि आपके बाल छोटे हैं, तो बालों में तेल लगाएं और फिर हेयर जेल लगाकर बालों को सेट करें.

नेलपेंट का डबलकोट लगाएं

होली के रंग सबसे ज्यादा हमारे नाखूनों को प्रभावित करते हैं. क्योंकि ये जल्दी छूटने का नाम ही नहीं लेता है और काफी दिनों तक हमारे नाखूनों को बदसूरत बनाए रखता है. इससे बचने के लिए किसी स्ट्रॉङ्ग नेलपेंट का डबलकोट अपने हाथों और पैरों के नाखूनों पर लगाएं. होली के बाद जब आप थिनर से अपना नेलपेंट हटायेंगे, तो आपके नाखून पहले जैसे ही खूबसूरत और बेदाग नजर आयेंगे.

होंठों पर लगाएं मैट लांग-स्टे लिपस्टिक

नाजुक होंठों को रंगों के दुष्प्रभाव से बचाने के लिए उस पर अच्छी क्वालिटी की मैट लांग-स्टे लिपस्टिक लगाएं. ये लिपस्टिक आपके होठों पर काफी घंटों तक बरकरार रहेगी और रंग के प्रभाव से होंठों की रंगत भी फीकी नहीं पड़ेगी. अगर आप कलर लिपस्टिक नहीं लगाना चाहती हैं, तो नेचुरल शेड का लिप कलर लगाएं. ये होंठों पर सुरक्षा कवच का काम करेगा और इससे होठों पर रंग चिपकेगा भी नहीं.

होली खेलने के बाद

अगर आपने सूखी होली खेली है, तो धोने से पहले अच्छे से रंगों को कपड़े से झाड़ लें. चेहरे से रंग छुड़ाने के लिए बहुत अधिक स्क्रब ना करें, इससे त्वचा रूखी हो सकती है. रंग साफ करने या चेहरा धोने के लिए साबुन की जगह क्लींजर का इस्तेमाल करें.

होली खेलने के तुरंत बाद बालों को माइल्ड शैंपू से धोएं और अच्छे से कंडीशनिंग करें. ये रंगों से बालों को डैमेज होने से बचाता है. दो बड़े चम्मच शहद में दो अंडे और एक बड़े चम्मच नारियल का तेल अच्छे से मिलाएं. इसे अपने बालों पर लगाएं और करीब एक घंटे तक रहने दें. इसके माइल्ड शैंपू और एक अच्छे कंडीशनर से धो लें. इस घरेलू कंडीशनिंग से आप अपने बालों को ज्यादा खूबसूरत पाएंगी.

ये भी पढ़ें- 7 TIPS: गुलाब की पंखुड़ियों से पाएं स्किन पर निखार

आंखों को साफ पानी से धोने के बाद गुलाब जल आंखों में डाल सकती हैं या गुलाब जल में भीगे कौटन को आंखों पर कुछ देर रख आंख बंद करें.

किचन इन्ग्रीडियेंट का इस्तेमाल

चने का आटा, शहद और दूध को मिक्स करके स्क्रब बना लें और इसे फेस और बौडी पर स्क्रब करें. ये बौडी से कलर हटाने में आपकी मदद करेगा. साथ ही स्किन को चमकदार और मुलायम भी बनाता है. ज्यादा पोषण के लिए मौइस्चराइजिंग के पहले फ्रेश एलोवेरा जेल बौडी पर लगाएं.

अनलिमिटेड कहानियां-आर्टिकल पढ़ने के लिएसब्सक्राइब करें