जानें कैसे करें हेयर ब्रश का सही प्रयोग

59 वर्षीया हेयर डे्रसर मारिया शर्मा की शख्सियत अनूठी है. स्वभाव से हंसमुख, मृदुभाषी मारिया ने फिल्मी दुनिया में 40 वर्ष पूरे किए हैं. आज वे कंगना राणावत की हेयर डे्रसर हैं. इतने सालों में उन्होंने रेहाना सुल्ताना से ले कर आज की बहुत सी युवा हीरोइनों के बाल संवारे हैं. जब वे केवल 18 वर्ष की थीं तब उन्होंने इस क्षेत्र में कदम रखा. साल 2009 में उन्हें दादा साहब फालके अवार्ड से नवाजा गया.

उन का शुरुआती दौर काफी संघर्षपूर्ण रहा. तब किसी प्रकार के प्रशिक्षण का प्रावधान नहीं था. क्रिश्चियन परिवार में जन्मी मारिया को बचपन से ही बालों को संवारने का शौक था. वे किसी भी अवसर पर आसपास की सभी सहेलियों के बालों को खुद संवारा करती थीं. उन्हें बचपन से बालों की सजावट से लगाव था. उन्हें अलगअलग अंदाज में संवारने का शौक था. हीरोइनों के बाल संवारते हुए ही उन्होंने सारे प्रशिक्षण प्राप्त किए. फलस्वरूप उन्होंने हीरोइनों को बालों के कई स्टाइलों से अवगत कराया, जिस में तार का जूड़ा, चाइनीज स्टाइल, ब्राइडल स्टाइल और ट्विस्ट स्टाइल काफी मशहूर हैं.

इस काम में उन की बड़ी बेटी रचना भी हाथ बंटाती है. उन की छोटी बेटी मिनाली मौडल और बेटा अनिल व्यवसायी है. हेयर ब्रश के बारे में उन से बातचीत हुई तो उन्होंने बताया कि हेयर ब्रश का इस्तेमाल सही ढंग से करना जरूरी होता है. हेयर ब्रश बालों के आधार पर चुना जाना चाहिए. आइए जानें, उन से कुछ जरूरी बातें :

हेयर ब्रश कितने तरह के होते हैं?

हेयर ब्रश कई तरह के होते हैं. छोटे, बड़े और गोल. बडे़ ब्रश में ब्रसल्स होते हैं, जो 2 प्रकार के होते हैं- कांटों वाला और गोल ब्रसल्स वाला. जिन के बाल घने होते हैं. उन के लिए कांटों वाला ब्रश उपयोगी होता है. जिन के बाल पतले होते हैं, उन्हें गोल ब्रसल्स वाले हेयर ब्रश सूट करते हैं. दोनों ही हेयर ब्रश को वौल्यूम दिखाने के लिए प्रयोग किया जाता है.

इन का उपयोग कैसे किया जाता है?

बालों को सेट करने के लिए ब्लोड्राई करना जरूरी है. अगर बाल काफी पतले हों तो एक साइज छोटा हेयर ब्रश ले कर ब्लोड्राई करने से आउट टर्न और फुल आउट टर्न दोनों ही संभव है. मीडियम हेयर ब्रश हलका आउट टर्न और फ्लिप आउट करने के लिए उपयोगी होता है.

छोटे हेयर ब्रश का प्रयोग कहां होता है?

छोटा हेयर ब्रश, जो गोल आकार में होता है, इस से रोलर इफेक्ट दिया जाता है. जिन के बाल स्टेप कट में हों उन के लिए छोटे हेयर ब्रश से फुल आउट टर्न कर ब्लोड्राई करने से अच्छा लगता है. बालों में फ्रिंज निकालने के लिए भी छोटे हेयर ब्रश इस्तेमाल किए जाते हैं.

फ्लैट हेयर ब्रश का प्रयोग कहां किया जाता है?

जिन के बाल घुंघराले हों उन के लिए फ्लैट हेयर ब्रश उपयोगी होता है, जिस में कांटे होते हैं. बालों को सीधा कर के ब्लोड्राई करने से बाल सीधे दिखते हैं. इस के अलावा अगर बाल बहुत पतले हों और आगे छोटेछोटे हों तब उन के लिए छोटे फ्लैट हेयर ब्रश को ले कर ब्लोड्राई कर सकते हैं. माथे पर आगे के बेबी हेयर के  लिए भी छोटे फ्लैट हेयर ब्रश का ही इस्तेमाल किया जाता है. इस के अलावा ब्रसल्स ब्रश बैक कांबिंग के लिए भी प्रयोग किया जाता है. इस से बाल साफसुथरे दिखते हैं. थोड़े से बेबी बाल होने पर पानी लगा कर सेमी वेट कर के अंत में सीरम लगाया जाता है. अगर बाल पतले हों तो मूज लगा कर थोड़ा सूखने दें, फिर ब्लोड्राई करें. ब्रश के प्रयोग के बाद उस का रखरखाव भी अच्छे तरीके से करना चाहिए ताकि आप अधिक दिनों तक उस का उपयोग कर सकें. ये ब्रश काफी महंगे होते हैं, जो अधिकतर विदेशों से मंगाए जाते हैं. भारत में मिलने वाले ब्रश अधिक दिनों तक नहीं चलते. जल्दी ही इन के ब्रसल्स खराब हो जाते हैं.

ब्रश का रखरखाव कैसे करना सही होता है?

कांटेदार ब्रश को डेटोल के पानी से धो कर रखें और अगर ब्रसल्स वाले हेयर ब्रश हों तो उन्हें साफ कर स्टरलाइज करें. पानी में डालने से पहले ब्रश के ऊपर चिपके हुए बाल कंघी की सहायता से पूरी तरह निकाल दें.

इन 5 हेयर मास्क से झड़ते बालों से पाएं छुटकारा

सुंदर और मजबूत बाल भला किसे अच्छे नहीं लगते. लेकिन बदलते मौसम और भाग दौड़ भरी जिंदगी के चलते बालों के झड़ने और डैंड्रफ की समस्या पैदा हो जाती है. ऐसे में प्राकृतिक उपचारों को आजमाना बहुत आवश्‍यक है क्‍योंकि इसका ना तो कोई साइड इफेक्‍ट होता है और ना ही यह बहुत खर्चीला होता है.

आइये जानते हैं कुछ ऐसे प्राकृतिक हेयर मास्‍क जिन्‍हें नियमित लगाने से बालों का झड़ना रूक जाता है.

1. अंडे का मास्‍क

एक कटोरे में 1 अंडा फोड़ कर उसमें थोड़ा सा दूध, 2 चम्‍मच नींबू का रस और जैतून का तेल मिक्‍स करें. फिर इस मिश्रण को सिर पर लगा कर थोड़ा मसाज करें. उसके बाद एक शावर कैप से अपने सिर को ढंक लें और 20 मिनट के बाद बालों को ठंडे पानी से धोएं.

ये भी पढ़ें- साल्ट स्क्रब लगाएं और पाएं एक्ने से छुटकारा

2. केले का मास्‍क

2 पके हुए केले लें, उसके साथ 1 चम्‍मच जैतून का तेल, नारियल का तेल और शहद मिक्‍स करें. इन्‍हें अच्‍छी प्रकार से एक चम्‍मच की सहायता से मसल लें. फिर इसे अपने हाथों से सिर की त्‍वचा पर लगाएं. अब इसे 5 मिनट तक के लिये सिर पर स्‍थिर हो जाने दें. उसके बाद हल्‍के गुनगुने पानी से सिर धो लें.

3. दही का मास्‍क

इस मास्‍क को बनाने के लिये 1 कप दही के साथ 1 चम्‍मच सेब का सिरका और 1 चम्‍मच शहद ले कर मिक्‍स करें. फिर इसे अच्‍छी तरह से बालों की जड़ों तक लगाएं. 15 मिनट के बाद सिर को ठंडे पानी से धो लें.

4. ग्रीन टी मास्‍क

इस मास्‍क को बनाने के लिये एक अंडे की जर्दी लें, उसमें 2 टी स्‍पून ग्रीन टी की डालें. ग्रीन टी पकी हुई होनी चाहिये. इसे तब तक मिक्‍स करें जब तक कि वह क्रीमी न दिखाई देने लगे. इसे मास्‍क को एक ब्रश की सहायता से बालों की जड़ों में लगाएं. 20 मिनट के बाद बालों को ठंडे पानी और शैंपू से धो लें.

ये भी पढ़ें- मास्क पहनें, मगर प्यार से 

5. कडी पत्‍ता और नारियल मास्‍क

थोड़ी सी ताजी कड़ी पत्‍तियां लें, उसके साथ कुछ बूंद नारियल तेल का मिलाएं. अब इसे अच्‍छी तरह से उबालें और जो अर्क बच जाए उससे सिर के बालों की मसाज करें. फिर 20 मिनट के बाद बाल धो लें. इस मास्‍क को हफ्ते में दो बार प्रयोग करें.

अनलिमिटेड कहानियां-आर्टिकल पढ़ने के लिएसब्सक्राइब करें