महिलाओं और पुरुषों में हर साल गंजेपन की बीमारी बढ़ती जा रही है. तनाव, बिना पोष्टिक वाला खाना और बालों की सही से देखभाल न करने की वजह से यह समस्‍या उत्‍पन्‍न होती है. इस बीमारी का इलाज आसान नहीं है. डॉक्‍टर इस बीमारी का महंगा इलाज बताते हैं पर कुछ घरेलू नुसखे अपनाकर भी हम इस समस्‍या का समाधान पा सकते हैं.

बालों को दोबारा पाने के लिए यहां दिए गए कुछ नुसखों को अपनाएं और अपना आत्‍मविश्‍वास जल्‍द ही वापस पाएं.

बालों को वापस पाने के घरेलू नुसखे

  1. सेब का सिरका, ताड़ का तेल और चाय के पेड़ का तेल गिरते बालों को थामने का बहुत ही उपयोगी तरीका है. गर्म तेल से सिर में मालिश करें और फिर लगभग एक घंटे के लिए सिर ढ़ककर रखें. शिकाकाई और शेंपू का इस्‍तेमाल बहुत ही उपयोगी होता है. सप्‍ताह भर तक सिर की मालिश करें और बालों को हर सुबह धोएं जिससे सिर में बैक्‍टीरिया खत्‍म हो जाएगा.
  2. एलो वीरा जेल का गेंहू जर्म तेल और नारियल तेल दूध के साथ मिश्रण तैयार करें. यह पैक उलझे हुए बालों को सुलझाता है और डैंड्रफ खत्‍म करता है. सिर की एक ही तरह से मालिश करते रहें.
  3. सरसों को उबालकर उसमें मेथी और नीम को मिलाएं. इस मिश्रण को बालों को धोने के बाद सिर में लगाएं. यह हर्बल बालों की जड़ों को मजबूत करता है और इनफैक्‍शन खत्‍म कर बालों का गिरना रोकता है.
  4. आंवला, नींबू और धनिये का मिश्रण भी बालों को गिरने से रोकने का उपयोगी घरेलू नुसखा है. इस मिश्रण को लगाने के बाद बालों को शैम्‍पू से धोएं जिससे बालों का टूटना बंद होगा.
  5. भ्रंगराज आयुर्वेद में बालों के गिरने को रोकने का सबसे आसान तरीका है. इस तेल में गुड़हर, तिल और आमला मिलाएं जो आपके बालों को पोषण देता है और जड़ों को मजबूत कर गंजेपन को रोकता है.
  6. प्‍याज, अदरक और लहसुन का मिश्रण संक्रमण का इलाज कर खुजली मिटाता है और बालों को दोबारा जमाने में मदद करता है. गुनगुने पानी के साथ बालों को शैम्‍पू करें जिससे यह सिर की खुश्‍क त्‍वचा को नर्म बनाता है और बालों को भी कमजोर होने से रोकता है.
COMMENT