मेरे हेयर को इतना खीचों मत....अच्छी और बड़ी कंघी से मेरे बाल को सवारों..... क्या आपके पास बड़ी दांतों वाली कंघी नहीं है?....मेरा ले लीजिये... नहीं-नहीं है न, मेरे पास....आप इतनी व्याकुल क्यों हो रही है?.... असल में मेरे बाल झड़ते जा रहे है.....पहले ऐसा नहीं था...मेरे बाल काफी घने और लम्बे हुआ करते थे...कॉलेज जाने के बाद से ऐसा होने लगा है....इसलिए मैं अपने हेयर को शार्ट करवाने आई हूँ, ताकि बाल झड़े नहीं...मैं तो सम्हाल कर धीरे-धीरे कंघी करती हूँ और आप मेरे केशों को खीँच-खीँच कर सेट कर रही है... एक-एक बाल गिरने पर मुझे तनाव होने लगता है....अंत में मुझे विग लगाने या फिर हेयर ट्रांसप्लांट के सिवा कुछ दूसरा आप्शन नहीं होगा...ठीक है, मैं आपकी इच्छा के अनुसार ही हेयर कट करुँगी. कुछ इस तरह की बातें 25 वर्षीय मायरा एक ब्यूटी सैलून में हेयर कट करती हुई महिला से कह रही थी और महिला उसे आश्वासन दे रही थी.

लेती है झाड़-फूंक का सहारा

ये सही है कि बालों के झड़ने से किसी भी लड़की या महिला चिंतित हो जाती है और झाड़-फूंक, काला धागा से लेकर हर तरह की सलाह हेयर एक्सपर्ट से लेती रहती है. झाड़-फूंक की वजह उनकी बाल को किसी की नज़र लग जाना, जिसे झाड़-फूंक से ठीक हो जाना मानती है. जबकि हेयर एक्सपर्ट नयी तकनीक बताकर कभी कुछ दवा या केशों के लिए लोशन देती रहती है. आपको जानकर हैरानी होगी कि एक महिला मुंबई की बांद्रा पश्चिम में एक हर्बल ब्यूटी सैलून में आई और अपने बाल दिखाकर रोने लगी, क्योंकि वह पिछले एक साल से बालों के झड़ने को लेकर इलाज करवा रही है, लेकिन उसे कोई फायदा नहीं मिला, उसके बाल फिजी होने के साथ-साथ स्कल के कई जगह से पूरी तरह से गायब हो चुकी थी. घबराई महिला को हेयर एक्सपर्ट ने शांत किया और वजह बताने लगी.

आगे की कहानी पढ़ने के लिए सब्सक्राइब करें

डिजिटल

(1 साल)
USD10
 
सब्सक्राइब करें

डिजिटल + 24 प्रिंट मैगजीन

(1 साल)
USD79
 
सब्सक्राइब करें
और कहानियां पढ़ने के लिए क्लिक करें...