बिना मेहंदी के वैडिंग सैरेमनी अधूरी मानी जाती है. ये न सिर्फ सदियों से चली आ रही परंपरा है बल्कि इस का दुल्हन के हाथों की सुंदरता बढ़ाने में अहम योगदान है. पहले ये सैरेमनी सिर्फ परिवार व दोस्तों तक ही सीमित रहती थी लेकिन अब मेहंदी सैरेमनी एक बड़ा इवैंट बन गया है, जिस में म्यूजिक, डांस व डिनर के बीच यह रस्म पूरी होती है. ऐसे में अगर आप दुल्हन बनने जा रही हैं तो पेश हैं आप के लिए कुछ मेहंदी टिप्स, जो आप के इस दिन को और बेहतर बनाने का काम करेंगे.

मेहंदी करे स्ट्रैस कम

मेहंदी न सिर्फ नए जीवन में प्रवेश की निशानी है बल्कि ये हमें स्ट्रैस से बाहर निकालने का भी काम करती है. क्या आप ने कभी सोचा है कि मेहंदी आप को सरदर्द व फीवर से बचा सकती है. तो आप को बता दें कि यह बात बिलकुल सही है. साथ ही मेहंदी का गहरा रंग लाने के लिए आप हीना मेहंदी मिक्सचर में यूकेलिप्टस औयल व नीबू मिला कर लगाएं. रिजल्ट कुछ घंटों में आप के सामने होगा.

बेहतर हो मेहंदी आर्टिस्ट

वैडिंग सीजन के दौरान मार्केट में मेहंदी आर्टिस्ट की भरमार होती है. आप को बता दें कि हर मेहंदी आर्टिस्ट का मेहंदी लगाने का तरीका व डिजाइन अलग होता है. ऐसे में बैस्ट मेहंदी आर्टिस्ट को खोजना आप के प्रयासों पर निर्भर करेगा. एक बार जब आर्टिस्ट मिल जाए तो उन से डिजाइंस दिखाने को कहें ताकि उस में से बैस्ट चूज कर के आप अपने खास दिन उसे लगवा सकें. अगर टाइम हो तो आप पहले ट्रायल सैशन भी ले सकती हैं. साथ ही आप अपने मेहंदी आर्टिस्ट को कहें कि वह बाजार से खरीदे गए मेहंदी के कौर्न का इस्तेमाल करने के बजाय खुद से हीना मेहंदी का मिक्स्चर तैयार करें. ताकि आप अपने हाथपैरों को कैमिकल्स की जलन से दूर रख सकें.

beauty tips hindi beauty parlour training

डिजाइन भी हो यूनीक

वैडिंग सैरेमनी सिर्फ मेहंदी लगाने की रस्म ही नहीं बल्कि आप का मेहंदी डिजाइन भी खास होना चाहिए. आज मेहंदी के ढेरों डिजाइंस उपलब्ध हैं जैसे इंडियन से पाकिस्तानी, अरेबियन से राजस्थानी आदि, जो अपने आप में अलग व स्मार्ट लुक देते हैं. इसके लिए आपको तरह तरह के मेहंदी डिजाइन देखने होंगे तभी आप अपनी पसंद अपने मेहंदी आर्टिस्ट को बता पाएंगी. इस से आप को अपनी पसंद का डिजाइन भी मिल पाएगा और आप का मेहंदी आर्टिस्ट अपने काम से आप को खुश भी कर पाएगा. आप मोर, हार्ट, फ्लावर, कटवर्क आदि के साथ भी मेहंदी डिजाइंस बनवा सकती हैं. आजकल ग्लिटर मेहंदी काफी डिमांड में है.

प्री मेहंदी केयर

मेहंदी अच्छा कलर दे तो इस के लिए आप को मेहंदी लगवाने से पहले कुछ बातों का ध्यान रखना होगा तभी आप की मेहंदी अच्छी दिखेगी और आप इस सैरेमनी को ऐंजौय भी कर पाएंगी. तो इस के लिए सब से पहले आप अपने हाथों व पैरों को साबुन से धोएं फिर यूकेलिप्टस औयल में औलिव औयल या नारियल का तेल मिला कर लगाएं जिस से गहरा रंग आ सके. फिर आरामदायक कपड़े पहनने के बाद मेहंदी लगाने के लिए ऐसी जगह का चयन करें जहां कुदरती प्रकाश होने के साथ जगह भी काफी देर बैठने के लिए आरामदायक हो. सूर्य की सीधी रोशनी में मेहंदी न लगवाएं.

इस के लिए नायका बताता है कि आप

संत बोटानिका प्यौर यूकेलिप्टस अरोमा ऐसेंशियल औयल,

अरोमा मैजिक औलिव औयल,

सनफ्लावर कोल्ड प्रैस्ड कोकोनट प्योर नैचुरल कैरियर औयल

अप्लाई कर सकती हैं.

पोस्ट मेहंदी केयर

अगर आप फंक्शन से 1-2 घंटे पहले मेहंदी लगवाएंगी तो यह वो रंग नहीं दे पाएगी जो देना चाहिए. इसलिए फंक्शन से 48 घंटे पहले मेहंदी लगवाएं. फिर मेहंदी को 8-12 घंटे तक लगा रहने दें. जब मेहंदी सूखने लगे तो उस पर कौटन बौल से बीचबीच में चीनी में नीबू मिला कर लगाएं. इस से मेहंदी अच्छे से सूख जाए तो लौंग को गरम कर उस से हाथों को सेकें. आप डार्क कलर के लिए विक्स, टाइगर बाम या फिर सरसों का तेल भी अप्लाई कर सकती हैं.

अपनी मेहंदी को डार्क कलर देने के लिए वैसे तो आप के पास कई विकल्प हैं, लेकिन नायका का कहना है कि बेहतर परिणाम पाने के लिए आप देवे हर्बस प्यौर मस्टर्ड औयल (ब्रासिका जुंसिया) 100% नैचुरल थेराप्यूटिक ग्रेड कोल्ड प्रैस्ड का इस्तेमाल करें. यकीन मानिए आप की मेहंदी क्या खूब रंग लाएगी कि हर कोई इस की तारीफ किए बिना नहीं रह पाएगा.

इन बातों का खास ध्यान रखें

– मेहंदी सैशन से पहले या बीच में ज्यादा पानी न पिएं. इस से आप के मेहंदी कार्यक्रम में व्यवधान उत्पन्न होगा.

– अपेन हाथों को बारबार पानी से धोने से बचें. जब भी नहाने जाएं तो हाथों को ग्लब्स से कवर करें.

– मेहंदी को जल्दी सुखाने के चक्कर में हेयर ड्रायर का यूज न करें क्योंकि इस से डिजाइन के बिगड़ने का डर रहता है.

– मेहंदी जब तक अच्छे से सूख न जाए तब तक ज्यादा हिलेडुले नहीं.

सौंदर्य से संबंधित अधिक जानकारी पाने के लिए यहां क्लिक करें और नायका ब्यूटीबुक पर जाएं.

Tags:
COMMENT