पुणे के गुप्ता परिवार को कोरोना के घर नजरबंद हुए एक हफ्ते से भी अधिक हो गया था.शुरू शुरू में तो ललिता और विरल को बहुत अच्छा लग रहा था क्योंकि विवाह के दो वर्ष  बाद ये पहला मौका था जब उन्हें एकसाथ इतना समय मिल रहा था. परन्तु चार दिनों  के बाद ही दोनो में नोंकझोंक होने लगी.विरल को जहाँ ललिता की हर बात पर रोकटोक करना अखरने लगा था वहीं ललिता को विरल का सारा दिन बस बिस्तर पर पसरे रहना पसंद नही आता था.

Digital Plans
Print + Digital Plans

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT