झूठे जुमलों/वादों के सहारे सत्ता पर सवार हुई नरेंद्र मोदी सरकार दावे भी झूठे करती है. सरकार संसद के भीतर कुछ कहती है, बाहर कुछ और. गृहमंत्री अमित शाह लोकसभा में जो दावा करते हैं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रामलीला ग्राउंड में गृहमंत्री के उलट दावा ठोंक डालते हैं.

जो झूठे वादे/दावे करे, उसके आकलन भी सही नहीं हो सकते. आकलन तो खैर अनुमान होता है. आकलन के तहत तो कुछ भी पेश किया जा सकता है, वह भी जब सत्ता में झूठी सरकार हो तो कहने ही क्या.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT